Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

साहब की गाड़ी के सामने लेटकर हंगामा करना महंगा पड़ा.. पीएचई आफिस में ठेकेदार और कर्मचारी के बीच गाली गलौज हंगामा की वीडियो वायरल होने के बाद.. घटनाक्रम पर पर्दा डालने कर्मचारी को नोटिस, ठेकेदार का बचाव..

 साहब की गाड़ी के सामने हंगामा महंगा पड़ा..

दमोह। लंबे समय से अधिकारी कर्मचारियों और ठेकेदारों की मिलीभगत को लेकर चर्चा में बने रहने वाले पीएचई विभाग में साहब के सामने एक ठेकेदार द्वारा कर्मचारी से मारपीट और गाली गलौज तथा इसके बाद कर्मचारी द्वारा साहब की गाड़ी के सामने लेट कर हंगामा किए जाने का घटनाक्रम सामने आया था उसका वीडियो वायरल होने के बाद चर्चाओं में था



इस पूरे मामले को अब दबाने छुपाने और खत्म करने की कवायद भी शुरू हो गई है। मामले में पीएचई के कार्यपालन यंत्री एचएल अहिरवार का कहना है कि हैंडपंप टेक्नीशियन रमेश अहिरवार को अभद्र व्यवहार करने के मामले में अनुशासनहीनता का नोटिस जारी किया गया है। बताया जा रहा है कि उक्त कर्मचारी वेतनमान को लेकर लंबे समय से परेशान था अनेक बार अधिकारियों को गुहार लगा चुका था इसके बाद भी उसकी समस्या का समाधान नहीं होने पर उसके द्वारा शराब के नशे में हंगामे की बात सामने आई है। वही अधिकारी के सामने एक ठेकेदार द्वारा उपरोक्त कर्मचारी को लात मार कर गाली गलौज करने की वीडियो की वायरल हुई है।



 इसके बावजूद अधिकारी ठेकेदार के बचाव में जुटे बताए जा रहे हैं मामले में हैंडपंप टेक्नीशियन रमेश अहिरवार का कहना है कि शराब के नशे में उसने जो गलती की है उसकी माफी भी मांग ली है लेकिन ठेकेदार को उसे मारने का अधिकार किसने दिया था ? यह बात किसी की समझ में नहीं आ रही है। वही देर तक चले हंगामे के दौरान विभाग के कर्मचारी भी तमाशा देखते रहे किसी ने बीच-बचाव नहीं किया। जिसे देखकर समझा जा सकता है कि पीएचई के दफ्तर में ठेकेदारों की तूती बोलती है।  तथा जो वह चाहते हैं वही होता है। जिसकी मुख्य वजह यहां पर वर्षों से जारी गड़बड़ी घोटालों से जोड़ कर देखा जा सकता है। यहां के खुलासों के साथ एक नए अपडेट के साथ मिलते हैं। पिक्चर अभी बाकी..

Post a Comment

0 Comments