नर्सिंग कॉलेज की छात्रा का हॉस्टल में शव फांसी के फंदे पर झूलता मिला.. सनसनी पूर्ण माहौल में पुलिस मौके पर जांच में जुटी..

ओज. नर्सिंग हॉस्टल में छात्रा फांसी पर झूलती मिली-
दमोह। ओजस्वनी नर्सिंग कॉलेज की एक छात्रा का शव हॉस्टल में फाँसी के फंदे पर झूलता हुआ मिलने से सनसनी भरा माहौल बना हुआ है। मृतिका का नाम जमुना पुत्री रविदास अहिरवार 22 वर्ष बताया जा रहा है। पटेरा थाने के पटेरिया गांव निवासी यह छात्रा करीब 4 साल से कॉलेज में थी। हॉस्टल में उसने किन हालात में यह आत्म घाती कदम उठाया ? इसकी जांच में पुलिस जुटी हुई है।
सागर रोड स्थित ओजस्वी नर्सिंग कॉलेज की एक छात्रा के फांसी लगाकर खुदकुशी कर लेने की खबर गुरुवार शाम से ही जंगल की आग की तरह शहर भर में फैल चुकी थी। लेकिन इस मामले में कोई भी कुछ साफ तौर पर बताने की स्थिति में नहीं था। सोशल मीडिया पर ब्रेकिंग के साथ देहात थाना पुलिस द्वारा घटना की पुष्टि किए जाने के बाद अनेक मीडिया कर्मी भी शाम से ही ओजस्विनी कॉलेज के बाहर जानकारी के लिए इंतजार करते टकटकी लगाए हुए थे। लेकिन पुलिस किसी को भी अंदर जाने नहीं दे रही थी।
 रात करीब 8 बजे मृतिका के परिजन पटेरा के पटेरिया गांव से कॉलेज हॉस्टल पहुंचे तब उनके जरिए मीडिया को छात्रा के नाम आदि के बारे में जानकारी लगी। इसके बाद पुलिस ने पंचनामा कार्रवाई करते हुए शव को मौके से रवाना किया। एसपी विवेक अग्रवाल ने बताया कि पुलिस एफएसएल टीम देहात थाना टी आई के साथ मौके पर जांच में जुटी हुई है तथा जांच के बाद ही सभी तथ्य उभरकर सामने आएंगे।
ओजस्विनी नर्सिंग कॉलेज की हॉस्टल में छात्रा की फांसी लगाकर खुदकुशी कर लेने की खबर से छात्र-छात्राओं के बीच में सनसनी पूर्ण माहौल बना रहा हुआ है तथा कोई भी कुछ भी कहने को तैयार नहीं है। वहीं घटना स्थल की जो पहली तस्वीर सामने आई है उससे पूरा मामला संदिग्ध बना हुआ है। क्यों की छात्रा के शव के पैर जमीन से टिके नजर आ रहे है। जिससे कई तरह की आशंका भी जताई जाने लगी है।
उल्लेखनीय है कि ओजस्विनी नर्सिंग कॉलेज की चेयर पर्सन डॉ सुधा मलैया भाजपा नेत्री होने के साथ मप्र के पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया की धर्मपत्नी भी है। 2 दिन पूर्व ही वह अपने पति के साथ दिल्ली रवाना हुई थी। जिससे इस घटनाक्रम के संदर्भ में फिलहाल उनका कोई पक्ष नहीं मिल सका है। लेकिन इस घटनाक्रम की सामने आने के बाद राजनीतिक हलकों से लेकर पुलिस प्रशासनिक है में तक में सनसनी पूर्ण माहौल देखने को मिल रहा है। वहीं आम जनता के बीच तरह-तरह की अफवाह पहुंचने के बाद इस खबर को अपडेट किया जाना आवश्यक हो गया है। मामले में ताजा अपडेट के साथ फिर मिलते हैं। अटल राजेंद्र जैन की रिपोर्ट

1 comment:

About

सतत प़त्रकारिता का 30 वां साल.. 1990-2008 ब्यूरो चीफ दैनिक भास्कर भोपाल, 2009-2014 रिपोर्टर साधना न्यूज मप्र छग, 2010- 2014 रिपोर्टर न्यूज एक्सप्रेस चैनल, 2013-2016 ब्यूरो ओम टीवी न्यूज नेटर्वक, 2012-2020 ब्यूरो जनजन जागरण भोपाल, 2017 से AtalNews 24.com न्यूज पोर्टल.. महत्वपूर्ण तात्कालिक घटनाक्रमों की फोटो, जानकारी 9425095990,8839744763 पर वाटसअप करें ..