Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

CM कमलनाथ की मौजूदगी में कांग्रेस में शामिल हुए देवेंद्र चौरसिया की प्राणघातक हमले में मौत, बेटा गंभीर.. बसपा विधायक के परिजनों व जिला पंचायत अध्यक्ष के बेटे पर FIR..

 देवेंद्र चौरसिया की जबलपुर पहुंचने के पहले सांसे थमी-
दमोह। हटा में कांग्रेस नेता देवेंद्र चौरसिया और उनके बेटे सोमेश के ऊपर शुक्रवार दोपहर हुए प्राण घातक हमले के बाद उन्हें जबलपुर ले जाते समय रास्ते में देवेंद्र चौरसिया की सांसे थम जाने की खबर से शोक की लहर फैल गई है इसी के साथ हटा में आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन के साथ बाजार बंद होने लगा है।
 पिछले दिनों मुख्यमंत्री कमलनाथ की मौजूदगी में बहुजन समाज पार्टी को छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए ठेकेदार देवेंद्र चौरसिया एवं उनके बेटे के ऊपर शुक्रवार को उनके प्लांट पर आधा दर्जन से अधिक लोगों ने प्राण घातक हमला किया था। जिसके बाद उन्हें गंभीर हालत में हटा से जबलपुर रेफर किया गया था जबलपुर पहुंचने के पहले देवेंद्र चौरसिया की सांसे थम जाने की जानकारी सामने आई है। 
देवेंद्र की मौत की खबर ने सभी को दहला कर रख दिया है, वहीं कानून व्यवस्था को लेकर भी सवाल खड़े किए जाने लगे हैं। इस घटना के बाद हटा पहुंचे सागर डीआईजी और दमोह एसपी को कांग्रेस नेताओं तथा देवेंद्र के परिजनों ने हालात से अवगत कराया था। डीआईजी ने कठोर कार्रवाई का भरोसा दिलाया था।
घटना के बाद दमोह एसपी आरएस बेलवंशी ने आरोपी गोलू चंदू इंद्रपाल सिंह शायद आधा दर्जन से अधिक लोगों पर धारा 307 के तहत मामला दर्ज कर जल्द गिरफ्तारी का भरोसा लोगों को दिलाया था लेकिन इसके पहले ही देवेंद्र की मौत हो जाने से कानून व्यवस्था पर यह कहते हुए सवाल उठा रहे हैं कि कांग्रेस में शामिल होने के समय CM कमलनाथ ने देवेंद्र को सुरक्षा का भरोसा दिलाया था फिर भी उन्हें नहीं बचाया जा सका।
पथरिया बिधायक के पति, देवर एवं भाई पर FIR दर्ज-
 कांग्रेस में नेता देवेंद्र चौरसिया और उसके बेटे सोमेश पर हुए प्राणघातक हमले के आरोप में पथरिया से बसपा विधायक रामबाई के पति गोविंद सिंह, देवर चंदू सिंह, भतीजे गोलू सिंह एवं भाई लोकेश सिंह सहित बछमा के सरपंच, जिला पंचायत अध्यक्ष भाजपा नेता शिवचरण पटेल के पुत्र इंद्रपाल, श्रीराम शर्मा, अमजद सहित अन्य के नाम सामने आए हैं। उक्त लोगो के खिलाफ हटा थाने में हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया गया था। टीआई धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि महेश चौरसिया की रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 143/2019, धारा,294, 323, 324,307, 506, 147, 148, 149 का दर्ज कर बिबेचना में लिया गया था। 
वहीं घटना के बाद देवेंद्र चौरसिया की मृत्यु हो जाने पर धारा 302 धी जोड़ी जाएगी तथा आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी हेतु पुलिस ने नाकाबंदी के साथ संभावित ठिकानों पर दबिश देना शुरू कर दी है। इधर हटा में तनाव हालात को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया है। हटा का बाजार बंद है तथा देवेंद्र का शव हटा पहुंचने के बाद हालात बिगड़ने की संभावना बनी हुई है। दमोह से कलेक्टर एसपी सहित अन्य अधिकारी व अन्य थानों की पुलिस फोर्स भी हटा पहुंचकर स्थिति पर नजर रखे हुए हैं।

Post a comment

0 Comments