Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

आजादी आजादी बेराजगारी से चाहिए आजादी.. मुख्यमंत्री द्वारा मप्र के युवाओं को ही नौकरी देने के ऐलान के बाद.. तीन साल से बैकेंसी का इंतजार कर रहे युवाओं ने हाथों में तख्ती लेकर किया अनूठा प्रदर्शन.. जल्द बैकेंसी निकाले जाने की मांग का ज्ञापन सौंपा..

बेरोजगारों ने तख्ती लेकर किया अनूठा प्रदर्शन..
दमोह। आजादी आजादी बेराजगारी से चाहिए आजादी जैसे नारों को बुलंद करते हुए जिले के विभिन्न क्षेत्रों से आए सर्वसमाज के युवाओं ने अंबेडकर चैक से लेकर कलेक्टोरेट कार्यालय तक जगह जगह रूककर अनूठा प्रदर्शन किया तथा मप्र में बेरोजगारों के लिए जल्द बैकेंसी निकाले जाने की मांग करते हुए मुख्यमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन एसडीएम को सौंपा गया। ज्ञापन प्रदर्शन का यह आयोजन ऐसे समय किया गया है जब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चोहान मप्र के युवाओं को ही नौकरी देने का ऐलान कर चुके है। लेकिन इसको लेकर बेरोजगारों का कहना है कि जब तीन साल से कोई बड़ी नौकरियां ही नहीं निकाली गई तो इससे क्या फर्क पड़ता है कि आवेदक प्रदेश से होगे या प्रदेश के बाहर से..
 दमोह के मानस भवन के समीप एकत्रित हुए दो दर्जन अधिक बेरोजगार युवाओं ने गुरूवार दोपहर सोशल डिस्टेंस का ध्यान रखते हुए पहले मानस भवन के बाहर तथा बाद में अंबेडकर प्रतिमा के समक्ष हाथों में तख्तिया लेकर नारेवाजी के साथ अनूठा प्रदर्शन किया। बाद में घंटाघर, कांग्रेस कार्यालय के समीप बसस्टेंड पर, भाजपा कार्यालय के समीप कीर्तीस्तंभ पर नारेवाजी के साथ प्रर्दशन किया गया। तत्पश्चात कलेक्टोरोट कार्यालय परिसर पहुचकर बेराजगार युवाओं ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन एसडीएम भव्या त्रिपाठी को सौंपा। 
 मुख्यमंत्री के नाम सौपे गए ज्ञापन द्रगपाल सिंह लोधी ने बताया कि पिछले 3 वर्षों से बड़े स्तर पर कोई भी नौकरी प्रदेश सरकार द्वारा नहीं निकाली। प्रदेश में बेरोजगारी एक भयाभय रूप लेने को तैयार है। बेरोजगारी के कारण सबसे ज्यादा समस्याओं का सामना हम मध्यवर्गीय किसानों, गरीब, मजदूर परिवारों से ताल्लुक रखने वाले युवाओं को करना पड़ रहा है। न की किसी बड़े नेता या किसी उद्योगपति परिवार के युवाओं को कोरोना काल में जब चुनाव संपन्न हो सकती हैं, बड़ी-बड़ी रैलियां आयोजित हो सकती है तो परीक्षाएं भी आयोजित क्यों नहीं हो सकती है। 

बेरोजगारी की बढ़ती समस्याओं के कारण मध्यप्रदेश का युवा ना सिर्फ आर्थिक समस्याओं की मार झेल रहा है वरन् मानसिक रूप से अवसाद जैसी गंभीर समस्याओं के कारण पीड़ा में है। जल्द से जल्द बड़े स्तर पर सभी विभागों में नौकरियां आयोजित करने की मांग की है। इस मौके पर द्रगपाल सिंह लोधी, माधव रजक, आरएस ठाकुर, दीपेंद्र सिंह, छत्रपाल सिंह, अभिषेक दुबे, दीपक उपाध्याय, अनिल लोधी, आदर्श दुबे सहित अन्य बेरोजगार युवाओं की मौजूदगी रहीं।

Post a comment

0 Comments