Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

बटियागढ़ क्षेत्र में कुचबंदियों की अवैध शराब.. और सुअर मार बमो पर नहीं कस पा रहा पुलिस का शिकंजा.. लॉक डाउन के दौरान 15 दिनो में दूसरी बार हथगोले फटने से दहशत.. कैथोरा में पेड़ की छांव तले बैठी दो महिलाएं घायल..

 कैथोरा में अचानक हथगोला फटने से दो महिलाएं घायल
दमोह। जिले के बटियागढ़ थाना अंतर्गत कुछ गांव में महुआ की शराब बनाने और विक्रय करने वाले कुचबंदियों की अवैध शराब और सुअर मार बम की दहशत जारी है।  एक के बाद एक 15 दिन में देसी हद बोले फटने के दो मामले सामने आ चुके हैं। इसके बावजूद पुलिस द्वारा घटनाओं को गंभीरता से नहीं लेने की वजह से लोगो में दहशत का माहौल दिख रहा हैं। 
ताजा मामला सोमवार शाम सामने आया जिसमें दो महिलाएं हथगोला फटने से घायल हो गई। इनमें से एक की हालत गंभीर होने पर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार बटियागढ़ थाना अंतर्गत ग्राम कैथोरा के मसान नाला के पास हथगोला फटने से दो महिलाए चपेट में आ गई। यह महिलाएं एक  पेड़ का सहारा लेकर छाव लेने के लिए उसके नीचे बैठी हुई थी।
बताया जा रहा है कि सियारानी पति गुलाब रैकवार उम्र 50 वर्ष और श्रन्गार रानी पति हुकम आदिवासी उम्र 60 वर्ष तेन्दूपत्ता तोड़ने के लिए पास के ही जंगल की ओर गई हुई थी। जहा चिरोल के पेड़ के नीचे बैठी हुई थी कि अचानक से उसी पेड़ से लटका हुआ एक हथगोला नीचे गिरा और फ़ट गया। जिसमें सियारानी गम्भीर रूप से घायल हो गयी। श्रन्गार रानी को मामूली चोटे आई है।
घटना की सूचना ग्राम के निवासी पूर्व कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष कैलाश सिंह ठाकुर द्वारा पुलिस 108 को दी गई। इसके बाद मोके पर पहुचे 108 के पायलट रामकुमार साहू द्वारा घायलो को उपचार हेतु सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया। और बाद में  108 से उन्हें जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। पंद्रह दिन के भीतर यह दूसरी घटना है जोकि हथगोला फटने से हुई है। इसके पूर्व तीन बच्चे हथगोले के शिकार होकर झुलस चुके है।
 लोगों द्वारा बताया गया कि कुचबन्धिया समाज के लोग निरंतर सुअर मारने के लिए हथगोलो का उपयोग करते हैं। साथ ही उनके द्वारा कच्ची शराब भी बनायी जाती है। लेकिन पुलिस द्वारा इसे गंभीरता से नहीं लेने की वजह से आए दिन निर्दोष लोग हथगोलों के फटने से झुलस रहे हैं।  पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।बटियागढ़ से राजेन्द्र ठाकुर के साथ कमल मिश्रा की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments