Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

फेंडशिप डे पर जंगल में मंगल.. दमयंती पुरम पहाड़ी पर उत्सवी माहौल में लगाए 5100 पौधे.. मिनी कुंभ जैसे नजारे के बाद अब पौधो को सुरक्षित बचाना बड़ी चुनौती..

जंगल में मंगल के साथ फेंडशिप डे बना ग्रीन संडे
दमोह। अगस्त माह का पहला रविवार फेंडशिप डे के साथ दमयंतीपुरम पहाड़ी पर उत्सवी माहौल में हुए बृहद्व पौधरोपण के कारण ग्रीन संडे बन गया। इस मौके पर सभी वर्ग समाज के लोगों के साथ अधिकारी-कर्मचारियों, जनप्रतिनिधियों, सामाजिक संगठनों के साथ स्कूली बच्चों ने अपनी सहभागिता दर्ज कराते हुए 5100 पौधे लगाए। अब इनको सुरक्षित बचाए रखना आने वाले दिनों में बड़ी चुनौती बन सकता है। क्यों कि जिस स्थल पर पौधरोपण हुआ है वहां पूर्व से मवेशियों को विचरण होता रहा है। वर्तमान में यहां पर तार फेंसिंग आदि के कोई इंतजाम नजर नहीं आए है।
कलेक्टर तरूण राठी के आव्हान पर पूर्व निर्धारित कार्यक्रमानुसार रविवार सुबह 7 बजे से दमयंतीपुरम, राजनगर तालाब के समीप पहाड़ी पर 5100 पौधे लगाने का मिशन प्रारंभ हुआ। देखते ही शहर के विभिन्न सामाजिक और स्वयंसेवी एवं सेवाभावी संगठनों, छात्रों, अधिकारियों-कर्मचारियों की उपस्थिति से जंगल में मंगल जैसे हालात बनते देर नहीं लगी। बड़े ही जोश और उत्साह के साथ लगातार दो घण्टे तक चले पौधरोपण के विशाल आयोजन में चारों तरफ नजर आ रही जन भागीदारी से मिनी कुंभ जैसे नजारे दूर से नजर आते रहे।
 इस अवसर पर विधायक राहुल सिंह, नगरपालिका अध्यक्ष मालती असाटी, जिला कांग्रेस अध्यक्ष अजय टंडन, सांसद प्रतिनिधि ओलाक गोस्वामी, कलेक्टर तरूण राठी, एसपी विवेक सिंह, जिला पंचायत सीईओ गिरीश मिश्रा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी कर्मचारियों के अलावा गायत्री परिवार, आर्टऑफ लिविंग, टाईम्स कॉलेज, लायंस क्लब, व्यापारी महासंघ, वैश्य महासभा, अधिवक्ता संघ, जैन मिलन नगर प्रमुख शाखा,  महिला और युवा जैन मिलन, मुस्लिम समाज, कला संस्कृति युवा नाटय मंच, सिंधी समाज, स्पिक मैक संस्था, साहू समाज, अखिल भारतीय कोरी समाज, विभिन्न अधिकारी-कर्मचारी संगठनों, स्व-सहायता समूह संगठन पदाधिकारियों, सामाजिक और सेवाभागी संगठनों, स्कूली छात्र-छात्राओं, खेल जगत से जुड़े युवा वर्ग, डाक्टर्स, मेडिकल, ड्रग एसोशियेशन, स्कूली छात्र छात्राओं आदि की सहभागिता रही। आमजन के उत्साह तथा सहभागिता पर कलेक्टर तरूण राठी ने प्रसन्नता के साथ सभी को धन्यवाद दिया।

ग्रीन सण्डे और मित्रता दिवस पर हुये इस पौधा रोपण अभियान में आज छोटे-छोटे बच्चों ने भी अपने माता-पिता के साथ अपनी सहभागिता निभाई। इन बच्चों में भी पौधा रोपण के लिये अथाह प्रेम देखा गया। यह छोटे-छोटे बच्चे अपने माता-पिता, परिजनों के साथ बड़े उत्साह के साथ पौधा रोपण कर रहे थे। 
कुछ संस्थाओं के बच्चे गमले में लगे हुये छोटे-छोटे पौधे लेकर आये थे। एक बच्चे ने कलेक्टर तरूण राठी को पौधा भेंट किया। कलेक्टर तरूण राठी ने इन बच्चों के सहयोग को देखते हुये प्रसन्नता व्यक्त की। यह पौधारोपण कार्यक्रम बच्चों के मन में पर्यावरण के प्रति शिक्षा का एक विषय से कम नहीं है। यह छोटे-छोटे बच्चे जो देश की धरोहर है, आगे आने वाले समय में पर्यावरण के प्रति आज की तरह जागरूक रहेंगे।
 सी.ई.ओ. जिला पंचायत डॉं गिरीश मिश्रा ने बताया आज 5100 पौधे लगाने का लक्ष्य है इसमें केसेसेमिया के 600 पौधे, सीसम-700, नीम-700, पीपल-300, बरगद- 300, करंज-600, सीताफल-500, गुलमुहर-500, इस तरह ये 4200 पौधे हुये इसी प्रकार उद्यानिकी पौधे मे अमरूद-300, जामुन-500, नीबू-250, आवंला-250, इस प्रकार उद्यानिकी पौधे 1800 सभी के सहयोग से लगाये गये हैं। इन पौधों की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम के दावे भी प्रशासन द्वारा करते हुए यहां पर तार फेंसिंग लगाए जाने की बात कहीं गई है।
 यहां पर तार फेंसिंग कार्य जल्द से जल्द कराना होगा। क्यों कि पूर्व के वर्षो में हुए पौधरोपण की सुरक्षा अभाव में क्या स्थति हुई है यह किसी से छिपा नहीं है। ऐसे में इस बार जिस उत्साह के साथ यहां पौधरोपण करके इस बार के फेंडशिप डे को यादगार बनाया है वैसे ही अब इन पौधो की सुरक्षा व संरक्षण की जिम्मेदारी भी वन विभाग के साथ हम सभी की बन गई है। अटलराजेंद्र जैन

Post a comment

0 Comments