Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

दमोह से कांग्रेस प्रत्याशी प्रताप सिंह के नामांकन जुलूस में नहीं दिखी अपेक्षित भीड़.. धूप व गर्मी से बचने अनेक नेता लग्जरी गाड़ियों में AC का मजा लेते नजर आए....

प्रताप के नामांकन जुलूस में नहीं दिखी अपेक्षित भीड़-
दमोह से कांग्रेस प्रत्याशी प्रताप सिंह लोधी ने सोमवार को जिला निर्वाचन कार्यालय पहुंचकर अपना नाम निर्देशन पत्र जिला निर्वाचन अधिकारी कलेक्टर नीरज कुमार सिंह के समक्ष प्रस्तुत किया। इस मौके पर कांग्रेस द्वारा भी कृषि उपज मंडी परिसर में आमसभा करके रोड शो निकाला गया। जिसमें कांग्रेस नेताओं के दावे के मुताबिक भीड़ का अभाव बना रहा है। वहीं तेज धूप से बचने के लिए बाहर से आए अनेक नेता लग्जरी गाड़ियों में बैठकर ऐसी की हवा का आनंद लेते नजर आए।
दमोह से कांग्रेस टिकिट की जंग जीतने में सफल रहे पूर्व विधायक प्रतापसिंह की असली परीक्षा शुरू हो गई है। कांग्रेस प्रत्याशी घोषित किए जाने के बाद उनकों भाजपा प्र्रत्याशी प्रहलाद पटेल के मुकावले का प्रत्याशी प्रचारित करने में कांग्रेसी कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे है। परंतु उनके नामांकन जुलूस के दौरान ही कांग्रेसियों की अपेक्षित भीड़ नहीं जुट पाने जैसे हालात देखने को मिले है। कृषि उपज मंडी सागर नाका से शुरू  कांग्रेस प्रत्याशी का रोड शो तीनगुल्ली, स्टेशन चौराहा, घंटाघर होते हुए अंबेडकर चौक पहुंचा। 
जहां बाबा साहब की प्रतिमा पर प्रत्याशी प्रताप सिंह के अलावा प्रभारी मंत्री प्रभुराम चौधरी, विधायक राहुल सिंह एवं प्रद्युम्नसिंह ने माल्यार्पण किया। इसके बाद प्रतापसिंह खुले छोटा हाथी वाहन में सवार हो गए। उनके साथ इस वाहन में पूर्व मंत्री तथा पूर्व में दमोह से लोकसभा चुनाव लड़ चुके मुकेश नायक सहित दर्जन भर से अधिक नेता खड़े नजर आ रहे थे। अंबेडकर चौक से माल्यार्पण उपरांत नामांकन जुलूस कोआपरेटिव बैंक चौराहा होते हुए गर्ल्स कालेज मार्ग पर बढ़ गया। रोड शौ के दौरान लग्जरी गाड़ियों का काफिला तथा उसमें बैठे बाहरी नेताओं का शीशे चढ़ाकर AC की हवा लेने का नजारा भी मीडिया के कैमरों में कैद होते देर नहीं लगी। 
इसके पूर्व कृषि उपज मंडी में कांग्रेस प्रत्याशी प्रताप सिंह के पक्ष में आयोजित सभा में कांग्रेस नेताओं की भीड़ के कारण मंच छोटा पड़ता नजर आया। इस दौरान प्रभारी मंत्री प्रभुराम चौधरी, मंत्री तथा देवरी विधायक हर्ष यादव, पूर्व मंत्री मुकेश नायक, राजा पटेरिया, रामकृष्ण कुसमरिया, पूर्व लोकसभा प्रत्याशी महेंद्र प्रताप सिंह तथा तिलक सिंह, बंडा विधायक तरवर सिंह, मलेहरा विधायक प्रद्युम्नसिंह, दमोह विधायक राहुलसिंह, 
जिला कांग्रेस अध्यक्ष अजय टंडन, पूर्व अध्यक्ष रतनचंद जैन एवं हरिशंकर चौधरी, संगठन प्रभारी सतीश जैन,  पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष तेजीराम रोहित तथा मनु मिश्रा, पूर्व जनपद अध्यक्ष सतीश नायक कांग्रेस में वापिस आए हटा के पुष्पेंद्र हजारी व उनके पुत्र, प्रदीप खटीक, पथरिया के राव ब्रजेंद्रसिंह, गढ़कोंटा के कमलेश साहू सहित अनेक महिला नेत्रियों की सहित कांग्रेस के विभिन्न प्रकोष्ठों के प्रभारी पदाघिकारियों नेताओं की मौजूदगी रही। 
 आमसभा के दौरान हटा के लाड़ले नेता स्वर्गीय देवेंद्र चौरसिया के बेटे सोमेश चौरसिया की कांग्रेंस मंच पर मौजूदगी के साथ राजनीति में एंट्री होती नजर आई। इस दौरान अपने स्वर्गीय पिता की तरह ही नपे तुले शब्दों मे अपनी बात रखकर पहले ही संबोघन में सोमेश प्र्रभाव छोड़ते हुए नजर आए। कृषि उपज मंडी परिसर स्थित सभा स्थल पर संसदीय क्षेत्र के विभिन्न हिस्सों से आए कांग्रेस के नेता, पदाधिकारियों कार्यकर्ताओं की भीड़ भी संतोषजनक दिखी।
लेकिन कांग्रेस समर्थकों के बीच वह "जोश ऐ जुनून" का अभाव दिखा जो विधानसभा चुनाव के पूर्व कमलनाथ की सभा में देखने को मिला था। कांग्रेस कार्यकर्ताओं के जोश में कमी की एक बजह कांग्रेस प्रत्याशी द्वारा "चंचला लक्ष्मी" का उपयोग करने में विधानसभा चुनाव की तरह "कंजूसी " करना भी कहां जा सकता है। ऐसा ही चलता रहा तो विधानसभा जैसे नजदीक मुकावले के साथ अंत में पिछड़ने के हालात भी बन सकते है।  अटल राजेंद्र जैन की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments