Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

दमोह सागर रोड पर साइकिल व बाइक सवार.. स्वामी धीरेन्द्राचार्य की गाड़ी से टकराए.. साइकिल सवार की मौत, बाइक सवार बचा..

 कुमरई के पास दर्दनाक हादसे में ग्रामीण की मौत-
दमोह सागर स्टेट हाईवे पर रोन कुमरई के पास हुए एक बेहद दर्दनाक सड़क हादसे में बाइक की टक्कर से बचने के चक्कर में "हनुमत द्वार पीठ परीछा" झांसी यूपी के पीठाधीश्वर की कार से टकराए साइकिल सवार ग्रामीण की दर्दनाक मौत हो गई। पलक झपकते हुए घटनाक्रम में बाइक सवार बाल बाल बच गया। 
प्राप्त जानकारी के अनुसार मगरधा निवासी कलू काछी शनिवार दोपहर 12 बजे साइकिल से गढ़ाकोटा तरफ जा रहा था। इसी दौरान रोन-कुमरई के पास एक बाइक सवार से भिड़ंत से बचने के चक्कर में उसकी साइकिल सामने से आ रही कार से टकरा गई। पलक झपकते हुए इस घटना क्रम में बाइक सहित सवार भी सड़क पर गिर गया। वहीं कार के कांच से टकराकर साइकिल से गिरे कलू काछी का सिर फट गया।
घटना के बाद मौके पर लोगों की भीड़ एकत्रित हो गई तथा तत्काल हंड्रेड डायल या 108 को कॉल करने या सड़क पर बेसुध पड़े घायल की मदद करने के बजाय लोगों की भीड़ मोबाइल से वीडियो बनाती रही। बाद में कार में सवार स्वामी जी ने मानवीयता दिखाते हुए अपनी गाड़ी से घायल को गढ़ाकोटा अस्पताल पहुंचाया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद हालत गंभीर होने से कुछ देर बाद उसकी मौत हो गई। 
जिस बाइक सवार की वजह से यह हादसा हुआ वह युवक सड़क पर गिरने के बाद भीड़ में मौके का फायदा उठाकर बाइक सहित भागने में सफल रहा। जिस कार से साइकिल सवार टकराया वह गाड़ी स्वामी धीरेन्द्राचार्य महाराज की है। जिसमें उनके नाम की प्लेट भी आगे लगी हुई है। कार क्रमांक UP 93 AK 0999 से स्वामी जी झांसी से छत्तीसगढ़ रामकथा करने के लिए जा रहे थे परंतु रास्ते में यह हादसा हो गया।
श्रीमद जगद्गुरु रामानंदाचार्य स्वामी धीरेंद्राचार्य महाराज हनुमत द्वार पीठ परीछा झांसी के पीठाधीश्वर है। हादसे के वक्त गाड़ी को उनका ड्राईवर चला रहा था। वहीं मृतक कलू काछी का शव पोस्टमार्टम हेतु भेज दिया गया है। गढ़ाकोटा थाना पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है। इस दुखद हादसे की खबर लगते ही गरीब किसान के परिजन गढ़ाकोटा अस्पताल पहुंच गए थे जिनका रो रो कर बुरा हाल बना हुआ है। भगवान उसकी आत्मा को अपने चरणों में स्थान दे और परिजनों को गहन दुख सहने की शक्ति प्रदान करें। ओम शांति..
 गढ़ाकोटा से रवि सोनी की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments