Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार के 8 वर्ष पूर्ण होने पर.. प्रदेश मंत्रीने जिला भाजपा कार्यालय में मीडिया कोउपलब्धिया गिनाई.. भाजपा के प्रदेश मंत्री आशीष दुबे की प्रेस कांफ्रेंस..

 भाजपा के प्रदेश मंत्री आशीष दुबे की प्रेस कांफ्रेंस..

दमोह। देश के यशश्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार के सफल 8 वर्ष पूर्ण होने पर जिला भाजपा कार्यालय में पत्रकार वार्ता का आयोजन किया गया जिसमें भाजपा के प्रदेश मंत्री आशीष दुबे, जिलाध्यक्ष एड प्रीतम सिंह लोधी, महामंत्री गोपाल पटेल, रामेश्वर चौधरी, मीडिया प्रभारी राघवेंद्र सिंह परिहार, सह प्रभारी महेंद्र जैन, शिवशंकर कुशवाहा की उपस्थिति रही..

प्रदेश मंत्री आशीष दुबे ने  पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली केन्द्र सरकार के 8 वर्ष पूर्ण होने पर गरीब कल्याण, सेवा और सुशासन को संकल्प को पूरा करने का कार्य किया गया। बीते 8 वर्षों से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली भारतीय जनता पार्टी की सरकार गरीब कल्याण के सबसे बड़े संकल्प की सिद्धि में जुटी हुई है, पिछले 8 वर्षों से केन्द्र जन आकांक्षाओं को पूरा करने वाली सरकार सिद्ध हुई है, पहले योजनाएं केवल कागज पर ही बनती थी,लेकिन आज किसी भी योजना की घोषणा से लेकर उसके लागू होने तक उसकी लगातार मॉनिटरिंग की जा रही हैं, प्रधानमंत्री आवास हो, उज्जवला योजना हो, स्वच्छता मिशन, स्वामित्व योजना, उजाला, आयुष्मान आदि योजनाओं का लाभ सीधे आज जनता को मिल रहा है। "सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास" के मूल मंत्र के साथ आत्मनिर्भर भारत के लक्ष्य को साकार करने में जुटी है प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार। केन्द्र सरकार की गरीब कल्याण अन्न योजना की वैश्विक स्तर पर सराहना हुई है,कोरोना संकट में स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के समाधान के साथ-साथ आर्थिक मामलों को भी किसी देश ने हल किया तो वो भारत रहा है, सबके सर्वांगीण विकास की परिकल्पना पर प्रतिबद्ध इस सरकार ने सामाजिक संवेदनाओं के कई कीर्तिमान स्थापित किए हैं। सशक्त, समरस, समृद्ध और साहसी भारत की तस्वीर आज हमारे सामने है। 

pres

गरीब कल्याण के लिए  प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत 80 करोड़ लोगों को मुफ्त अनाज का वितरण किया गया, प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के अंतर्गत 1.22 करोड़ आवास स्वीकृत प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के अंतर्गत 2.3 करोड़ आवास स्वीकृत हुए, स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत 11.22 करोड़ शौचालयों का निर्माण किया गया, हर घर नल से जल योजना के अंतर्गत 6.2 करोड़ नए आवासों को पिछले 3 वर्षों में नल के पानी की सुविधा उपलब्ध कराई गई,प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के अंतर्गत 29.6 लाख रेहड़ी-पटरी विक्रेताओं को ऋण का वितरण का कार्य सराहनीय कदम रहा।
स्वास्थ्य के क्षेत्र में आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत 3.2 करोड़ लोगों को 5 लाख रुपए तक का मुफ्त इलाज की सुविधा मुहैया कराई गई। प्रत्येक ब्लॉक में हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर खोलने की शुरुआत की,विश्व के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के अंतर्गत 190 करोड़ से अधिक टीके मुफ्त में लगाए गए। 8,727 जन औषधि केन्द्रों पर सस्ती दवाई उपलब्ध कराई जा रही है। पिछले 8 वर्षों में 15 AIIMS खोले गए पिछले 8 वर्षों में लगभग 200 नए मेडिकल कॉलेज खोले गए। प्रत्येक जिले में मेडिकल कॉलेज खोले जा रहे हैं।
किसान कल्याण और उन्नति के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के अंतर्गत 11.30 करोड़ किसान परिवारों को 1.82 लाख करोड़ रुपए से अधिक की राशि दी गई। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने शिमला में पीएम किसान सम्मान निधि की 11वीं किस्त जारी की जिसमें मध्यप्रदेश के 82 लाख 25 हजार किसान लाभान्वित हो रहे हैं, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत 37.52 करोड़ आवेदनों को बीमाकृत किया गया,3 करोड़ से अधिक किसान क्रेडिट कार्ड आवेदकों को 3.4 लाख करोड़ रुपए के क्रेडिट का लाभ मिला।  23 करोड़ सॉइल हेल्थ कार्ड वितरित किए गए।
देश में शिक्षा को बदलने के लिए राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 लागू की गई,पीएम कौशल विकास योजना के अंतर्गत 1.32 करोड़ से अधिक युवाओं को प्रशिक्षित किया गया।

midiya

महिला सशक्तिकरण के लिए प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के अंतर्गत महिलाओं को 9 करोड़ से अधिक एलपीजी कनेक्शन दिए गए। जन धन खातों के माध्यम से 25 करोड़ महिलाएं बैंक से जुड़ी और स्वावलंबी बनी, 75 लाख से अधिक स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से 8 करोड़ महिला उद्यमियों को जोड़ा गया। स्टैंडअप इंडिया के तहत महिलाओं के नाम पर 80% ऋण दिए गए। सवैतनिक मातृत्व अवकाश को 26 सप्ताह तक बढ़ाया गया। सेना व सैनिक स्कूलों में महिलाओं को बराबरी का दर्जा दिया। पीएम मुद्रा योजना के अंतर्गत लगभग 68% लाभार्थी महिलाएं हैं।
अधोसंरचना के क्षेत्र में पूरे देश में बिछाया सड़कों का जाल बिछाया गया, राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण की गति में 208% की बढ़ोतरी की गई। 2013-14 में 12 किलोमीटर प्रतिदिन से आज 37 किलोमीटर प्रतिदिन हुई उडान योजना के अंतर्गत 87 लाख लोगों को हवाई यात्रा का उपयोग करने में सक्षम बनाया। 80 नए हवाई अड्डों का निर्माण कार्य प्रगति पर है। 27 शहरों में 63 किलोमीटर प्रति वर्ष की गति से मेट्रो रेल का निर्माण किया जा रहा है। 4.46 लाख से अधिक कॉमन सर्विस सेंटर स्थापित किए गए। भारत नेट पहल के तहत मार्च 2022 तक 1.75 लाख ग्राम पंचायतों में ब्रॉडबैंड इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार | अर्थव्यवस्था में 8.2% की विकास दर के साथ भारत दुनिया में सबसे तेज़ी से बढ़ती अर्थव्यवस्था । वर्ष 2021-22 में 583.57 अरब का प्रत्यक्ष विदेशी निवेश | पीएम मुद्रा योजना के अंतर्गत 18.6 लाख करोड़ मूल्य के 34.43 करोड़ ऋण स्वीकृत हुए। विश्व का सबसे बड़ा कर सुधार जीएसटी के बाद देश के विकास के लिए रिकॉर्ड कर संग्रह; अप्रैल 2022 में 1.68 लाख करोड़ रुपए का संग्रह किया गया।

patarkar

 भारत ने विश्व स्तर पर डिजिटल भुगतान के संबंध में लेनदेन में प्रथम स्थान हासिल किया। सुरक्षा एवं सांस्कृतिक बदलाव उत्तर पूर्व में हिंसा को समाप्त करने के लिए विभिन्न विद्रोही समूहों के साथ प्रमुख शांति समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए। भारत के सर्वाधिक लंबाई वाले रेल एवं सड़क पुल बोगीबील पुल और जिरीबाम-तुपुल-इंफाल रेलवे लाइन पर दुनिया के सबसे ऊंचे गईट रेल पुल का निर्माण पूरा हुआ । ऑपरेशन गंगा और ऑपरेशन राहत द्वारा युद्धग्रस्त देशों में फंसे भारतीयों को निकाला गया। भारत की सुरक्षा को सुदृढ़ किया गया जिससे देश में आतंकवादी घटनाओं में कमी आई। जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ कम हुई। वर्ष 2018 में घुसपैठ 143 थी जो वर्ष 2021 में सिर्फ 28 तक रह गई है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद राम मंदिर का निर्माण शुरू कर करोड़ों हिन्दुओं की आस्था का सम्मान किया।
श्री काशी विश्वनाथ धाम और श्री केदारनाथ धाम का नवीकरण किया। अनुच्छेद 370 को हटाकर जम्मू-कश्मीर का भारत में एकीकरण किया। नागरिकता संशोधन कानून को लागू कर पड़ोसी देशों में रह रहे प्रताड़ित अल्पसंख्यकों को राहत पहुंचाई। ट्रिपल तलाक की प्रथा का अंत कर मुस्लिम महिलाओं को राहत पहुंचाई गई। संविधान निर्माता बाबा साहेब अंबेडकर के सम्मान में पांच स्थानों को पंचतीर्थ के रूप में विकसित करने का निर्णय लिया गया। सरदार पटेल को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा स्टॅच्यू ऑफ यूनिटी को राष्ट्र को समर्पित किया। भगवान बिरसा मुंडा के संग्राहलय का निर्माण किया एवं उनकी जन्मतिथि 15 नवंबर को जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की। साहिबजादों के बलिदान को श्रद्धांजलि देते हुए 26 दिसंबर को वीर बाल दिवस के रूप में घोषित किया।

 

Post a Comment

0 Comments