Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

लिव इन रिलेशनशिप में रहने वाले.. महिला डॉक्टर के वाहन चालक का महीनों पुराना शव अस्पताल की थर्ड फ्लोर पर मिलने से सनसनी.. मृतक की पत्नी के बयानों ने मामले को पति पत्नी और वो के चक्कर में उलझाया.. अस्पताल की एक सिस्टर के भी लापता होने की आशंका..

 ड्राइवर का शव अस्पताल में मिलने से सनसनी..

दमोह। नगर के गार्डलाइन क्षेत्र में संचालित शैलेंद्र निखार मेमोरियल हॉस्पिटल के थर्ड फ्लोर पर महीनों पुराना फांसी पर लटकता शव मिलने से सनसनी के हालात बने रहे। कोतवाली पुलिस ने मौके पर जांच कार्रवाई करते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इधर मृतक की पहचान डॉक्टर साहिबा के कार चालक राजेश अठ्या के तौर पर होने के बाद उसकी पत्नी एवं रिश्तेदार भी मौके पर पहुंच गए थे।  उन्होंने अस्पताल की एक सिस्टर के साथ राजेश के लिव इन रिलेशनशिप में रहने तथा उसकी मौत की कड़ियां उससे जोड़कर मामले को सनसनीखेज बना दिया है।


प्राप्त जानकारी के अनुसार डॉ अलका निखार मैडम की कार के चालक रहे राजेश अठ्या को पूर्व में एक नर्स से संबंधो के चलते हटा दिया गया था। वही बाद में वह फिर से कार चलाने लगा था। करीब 3 माह से लापता राजेश की गुमशुदगी की रिपोर्ट कोतवाली में दो माह पूर्व दर्ज कराई गई थी। राजेश अस्पताल की एक सिस्टर के साथ लिव इन रिलेशनशिप में करीब डेढ़ साल से रह रहा था। जिसकी जानकारी उसकी पत्नी और परिजनों को भी थी। जिस वजह से उसके लापता होने पर सबसे पहले उसकी तलाश में उपरोक्त नर्स पर शंका जाहिर की गई थी। 


राजेश का शव मिलने की सूचना पर निखार अस्पताल पहुची आरती अठ्या का यहां तक कहना है कि राजेश के लापता होने के बाद उसकी पतासाजी कराने को लेकर वह दमोह एसपी से लेकर पथरिया विधायक रामबाई से भी मिली थी। जिनके सामने वह पति का पता लगाने के लिए रोई गिड़गिड़ाई थी। लेकिन किसी ने ध्यान नहीं दिया था। बाद में 181 पर शिकायत भी की थी जिसको वापस लेने के लिए उस पर लगातार दबाव डाला जाता रहा था। लेकिन उसके पति का पता लगाने कोशिश नहीं की गई। आज पति का शव मिलने के बाद आरती की पीड़ा मीडिया के सामने फिर से फूटती हुई नजर आई।

इधर निखार हॉस्पिटल पहुंची कोतवाली पुलिस के साथ एफएसएल टीम ने कार्रवाई करते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजते हुए जांच शुरू कर दी है। मृतक की पत्नी द्वारा लगाए जा रहे आरोपों के संदर्भ में फ़िलहाल पुलिस के अधिकारी कुछ भी बोलने से बच रहे हैं। सीएसपी अभिषेक तिवारी का कहना है कि जांच में जो भी तथ्य सामने आएंगे उनके अनुसार कार्रवाई की जाएगी। जबकि कोतवाली टीआई सत्येंद्र सिंह का कहना है कि लापता नर्स के बारे में फिलहाल कोई जानकारी नहीं है। और ना ही उनकी गुमशुदगी आदि की रिपोर्ट कोतवाली में दर्ज हुई है। कुल मिला कर उपरोक्त सारे हालात निखार हॉसटल में पर्दे के पीछे चलने वाले रहस्यमई हालातों की ओर इशारा करते नजर आ रहे हैं। जल्द मामले की नई अपडेट के साथ मिलते हैं। पिक्चर अभी बाकी है

Post a Comment

0 Comments