Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

बुंदेलखंड के 3 जिलों में सक्रिय वाहन चोर गिरोह पर दमोह पुलिस का शिकंजा.. सागर के तीन बत्ती तथा पन्ना के रैपुरा सहित दमोह से चोरी हुई 8 बाइक बरामद, मुख्य सरगना फरार.. मात्र चार से पांच हजार में बेच देते थे चोरी की बाइक..

 तीन युवकों से चोरी की 8 बाइक बरामद की गई..

दमोह। पलक झपकते मौका पाकर शहर के मुख्य चौराहों से बाइक चोरी करने वाले गिरोह के 3 सदस्यों को पकड़ कर पुलिस ने इनके कब्जे से चोरी की 8 बाईके बरामद की है जिनमें से दो बाइक सागर तथा पन्ना जिले से भी चोरी की गई थी। फिलहाल इस ग्रुप का मुख्य सरगना फरार है और इसके पकड़े जाने के बाद और भी बड़े खुलासों की उम्मीद की जा रही है।


दमोह एसपी डीआर तेनिवार ने पुलिस कंट्रोल रूम में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में इस बाइक चोर गिरोह के पकड़े जाने के घटनाक्रम का खुलासा किया। दरअसल पिछले दिनों तीन गुल्ली सागर रोड पर एक चलते हुए मालवाहक से एक युवक बाइक द्वारा एक बोरी को सड़क पर फेंके जाने के बाद बाइक सवार साथी के साथ बोरी को उठा ले जाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। 


इसका पता लगाना कोतवाली पुलिस के लिए चुनौती बना हुआ था। वही वायरल वीडियो में नजर आ रहे युवक की पहचान लोको क्षेत्र निवासी सत्यम तिवारी के तौर पर होने पर कोतवाली टीआई सत्येंद्र सिंह ने एसपी के निर्देशन में एक टीम गठित करके आरोपी को गिरफ्त में लेने में देर नहीं की। आरोपी तथा उसके नाबालिक साथी के पास से पकड़ी एक एक बाइक की पतासाजी करने पर यह दोनों बाइक चोरी की निकली इसके बाद पुलिस का पूछताछ का सिलसिला आगे बढ़ा तो धरमपुरा निवासी शाहिद खान भी पुलिस के शिकंजे में आ गया। 

कुल मिलाकर इनके पास से चोरी की 8 बाइक बरामद हुई जो दमोह के नेहरू पार्क नरसिंह मंदिर सहित अन्य क्षेत्रों के अलावा तीन बत्ती सागर और रैपुरा पन्ना से चोरी करना बताया गया है। फिलहाल गिरोह का मुख्य सरगना धीरज नामदेव फरार बताया जा रहा है जिसके पकड़े जाने पर अन्य वारदातों के खुलासे की उम्मीद की जा रही है। बताया गया है कि चोरी के बाद आरोपी इन बाइकों को महज 4 से 5 हजार रु में बेच देते थे। एसपी ने मामले में सराहनीय भूमिका का निर्वहन करने वाली कोतवाली पुलिस की टीम को पुरस्कृत करने की घोषणा की है। अभिजीत जैन की रिपोर्ट

Post a Comment

0 Comments