Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

रेलिंग विहीन बटियागढ़ पुल पर बड़ा हादसा टला.. जबलपुर से छतरपुर रोड पर जा रहा 16 चक्का ट्राला क्रॉसिंग के दौरान अनियंत्रित होकर जूड़ी नदी के पुल से नीचे गिरते गिरते बचा.. बाईपास होने के बाद भी बस्ती से निलकने वाले भारी वाहन आए दिन बनते है दुर्घटना की बजह..

  जूड़ी नदी पुल से नीचे गिरता बचा 16 चका ट्राला..


दमोह। जिला मुख्यालय से करीब 35 किलो मीटर दूर दमोह छतरपुर स्टेट हाईवे पर बटियागढ़ बस्ती को हैवी वाहनों की आवाजाही से बचाने के लिए बाईपास का निर्माण वर्षों पूर्व कराया जा चुका है। इसके बावजूद खडेरी केरवना बंडा मार्ग से आने वाले वाहनों के अलावा दमोह तरफ के अनेक बड़े वाहन बटियागढ़ बस्ती के अंदर से जूड़ी नदी पुल से निकलते रहते हैं। 

ऐसे ही कुछ हालात के बीच मंगलवार को खडेरी से गेंहू लेकर जबलपुर छतरपुर रोड पर पहुचे एक 16 चक्का ट्रेलर के जूड़ी नदी पुल को पार करते समय  क्रॉसिंग के दौरान टायर बर्स्ट होने से अनियंत्रित हो गया। इस दौरान स्पीड कम होने की वजह से ट्राला पलटने के बजाय ड्राइवर साइड का अगला हिस्सा नदी पुल पर लटक गया। वही डीजल टैंक में छेद हो जाने से डीजल भी झरझर करके बहता रहा। 


इस दौरान बड़ी संख्या में ग्रामीणों की भीड़ लगे रहने तथा क्रॉसिंग के दौरान एक बोलेरो के क्षतिग्रस्त होने का नजारा भी देखने को मिला। स्थानीय ग्रामीणों का कहना था कि अधिकांश बड़े वाहन बाईपास का उपयोग करने के बजाय बस्ती के बीच से निकलते हैं जिससे हादसे की आशंका बनी रहती है पुलिस प्रशासन को चाहिए कि भारी वाहनों का प्रवेश थाने के सामने से रोका जाए वहीं बारिश को ध्यान में रखकर जुड़ी नदी के दोनों तरफ बैरियर लगाए जाएं जिससे बाढ़ ग्रस्त पुल को वाहन चालक पार करने से बचे।

Post a Comment

0 Comments