Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

दर्जन भर दुर्घटनाओं के बाद जागा प्रशासन.. तेंदूखेड़ा पाटन जबलपुर रोड के एक्सीडेंटल प्वाईंट का जायजा लेने पहुची एमपीआरडीसी और पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों की टीम.. क्षतिग्रस्त रैलिंग बदलेगी, स्पीड ब्रेकर, चमकीले बोर्ड लगेंगे..

  ठेकेदार को दिए जल्द सुधार कार्य कराने के निर्देश 

दमोह। सागर रहली स्टेट हाईवे तथा तेंदूखेड़ा पाटन मार्ग के एक्सीडेंटल प्वांइट पर करीब दर्जन भर वाहन दुर्घटनों के बाद आखिरकार सड़क निर्माण से जुड़े दो विभागों के अधिकारियों की टीम ने आज दमोह जबलपुर जिले के सीमावर्ती क्षेत्र में पहुचें। यहां पर 11 दिसंबर के बाद से लगातार हादसे हो रहे थे देखते ही देखते वाहन सड़क छोड़कर खाई में पहुंच जाते थे और छतिग्रस्त होकर वाहनों में मौजूद लोग घायल हो रहे थे। लगातार मीडिया की सुर्खियों मे रहे इस पहाड़ी टर्न वाले दुर्घटना स्थल  का  निरीक्षण कर अधिकारियों ने ठेकेदार को जल्द सुधार कार्य करने के निर्देश दिए। 

मंगलवार को एमपीआरडीसी विभाग के ई एसडीओ के साथ पीडब्ल्यूडी के ई जेपी सोनकर तेन्दूखेड़ा पीडब्ल्यूडी के एसडीओ बी के खरे और लखन यादव के साथ अन्य अधिकारी के अलावा ठेकेदार भी मौजूद रहे।  जिन्होंने सागर से जबलपुर तक स्टेट हाईवे 15 मार्ग का निर्माण किया है।  मौजूद इंजीनियरों के साथ तेन्दूखेड़ा दमोह जिले की सीमा के साथ उन सभी जगहों का जायजा लिया जहां आये दिन हादसे होने की जानकारी मिल रही थी।  बाद में सभी मौजूद अधिकारियों ने ठेकेदार को निर्देश दिये हैं कि शीध्र उन सभी जगहों में सुधार किये जाये जिससे होने वाले हादसों पर लगाम लगाई जा सकें। 

’चार वाहनों वाले घटनास्थल को देखा’- हड़ऊ की घटिया पर पहुंचे अधिकारियों ने पूरी सड़क का जायजा लिया उन सभी जगहों को देखा जहां वाहन पलटे है किन्तु सबसे ज्यादा महत्व उस जगह को दिया जहां 11 दिसम्बर को तीन घंटे में चार वाहन एक ही स्थान पर पलटे बाद में उन्होंने हादसों के लिए बताया कि स्पीड तेज होने के कारण चारों वाहन मोड़ पर पलटे थे बाद में एमपीआरडीसी वालों ने ठेकेदार को निर्देश दिया है कि जिन जिन स्थान की रैलिंग टूटी हुई है वहां पर नई रैलिंग लगाने के साथ उन सभी जगहों पर सुधार कार्य करे जहां हादसे हुये है।  

’एक सप्ताह में13 वाहन पलटे’-जानकारी के लिए बता दें कि घटिया पर 11दिसबंर से हादसों की शुरुआत हुई जहां पर 11 दिसंबर में 3 घंटे में चार वाहन एक ही जगह पर पलटे थे उसके बाद लगातार प्रतिदिन हादसों की बात सामने आती गई और एक सप्ताह में पलटे गए वाहनों की संख्या 13 हो गई और इस स्थान को एक्सीडेंटल पॉइंट कहा जाने लगा जिसके बाद एमपीआरडीसी और पीडब्ल्यूडी विभाग के अधिकारी मंगलवार को वहां पर पहुंचे और रोकथाम के लिए संबधित ठेकेदार को सुधार करने के निर्देश दिए। 

रैलिंग बदलेगी स्पीड ब्रेकर, चमकीले बोर्ड लगेंगे’

एमपीआरडीसी विभाग के अधिकारियों के साथ पीडब्ल्यूडी विभाग के अधिकारी भी घटिया पर हादसों का जायजा लेने गए ऊनके साथ तेन्दूखेड़ा पीडब्ल्यूडी के एसडीओ बीके खरे भी मौजूद रहे उन्होंने बताया कि पूरी घटना का जायजा लेने के बाद एमपीआरडीसी के अधिकारियों ने संबंधित ठेकेदार को घटिया पर ब्रेकर बनाने के निर्देश दिए हैं साथ ही चमकीले स्टीकर भी लगाए जाएंगे क्योंकि अधिकांश हादसे रात्रि में ही हुए हैं इसके अलावा घटिया पर चमकीले बोर्ड भी लगाए जाएंगे जिससे दूर से आने के वाहनों को देखकर अपनी गति धीमी करे घटना का जायजा लेते समय उन्होंने 11 दिसंबर को एक साथ एक ही स्थान पर पलटे चार वाहनों के स्थान को विशेष महत्व दिया है ठेकेदार के निर्देश दिए हैं कि सभी जगह रंगीन कलर की स्टीकर लगाए जाए जो रात्रि में जमके और चालकों के सुरक्षा बनाए रखने के निर्देश दिए साथ ही उन्होंने संबधित ठेकेदार को जल्द ही निर्माण कार्य शुरू करने की बात कही है। विशाल रजक की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments