Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

दमोह कटनी स्टेट हाईवे पर टोल प्लाजा के गार्ड को.. भाजपा विधायक की गाड़ी रोकना महंगा पड़ा.. गुस्साए विधायक जी ने एक घंटे तक बिना टोल चुकाए गाड़ियों को निकल वाया.. ASP ने कंपनी के अधिकारी से बात कराकर मामला सुलझाया..

टोल प्लाजा पर भाजपा विधायक की गाड़ी रोकना महंगा पड़ा.. 

दमोह कटनी स्टेट हाईवे पर बांदकपुर घाट पिपरिया के बीच टोल प्लाजा के गार्ड तैनात को भाजपा विधायक की बोलेरो गाड़ी रोके जाने से गुस्साए विधायक जी द्वारा करीब एक घंटे तक धरना देकर वहां से निकलने वाले वाहनों को बिना टोल चुकाए निकलवाए जाने का घटनाक्रम सामने आया है। इस दौरान मौके पर दमोह से एडिशनल एसपी को भी पहुंचना पड़ा वही टोल वसूल करने वाली बंसल कंपनी के अधिकारियों को मोबाइल पर विधायक जी से बात करके खेद जताना पड़ी, तब कहीं जाकर मामला शांत हुआ। 

 प्राप्त जानकारी के अनुसार 25 अक्टूबर की दोपहर में बोलेरो कार क्रमांक एमपी 15 CC-0509 दमोह तरफ से कटनी की ओर जाते समय बांदकपुर के आगे टोल प्लाजा पर बिना टोल चुकाए आगे निकलने लगी तो वहां मौजूद सुरक्षा गार्ड धर्म सिंह लोधी ने गाड़ी को रोक लिया। जिस पर चालक द्वारा विधायक जी की गाड़ी होने पर सुरक्षा गार्ड द्वारा चालक से आई कार्ड की मांग की गई। जिस पर से गाड़ी में से उतरे व्यक्ति ने अपना परिचय विधायक प्रदीप पटेल के तौर पर दिया। लेकिन इस नाम के व्यक्ति के आसपास के क्षेत्र से विधायक होने की जानकारी नहीं होने की बात करते हुए टोल कर्मचारी ने जब आइडेंटी कार्ड दिखाने को कहा तो विधायक जी का गुस्सा भड़कते देर नहीं लगी। तथा उन्होंने वहीं पर धरने पर बैठने का ऐलान करते हुए अनेक जगह पुलिस के अधिकारियों को फोन कर के टोल कर्मचारियों द्वारा बदतमीजी की सूचना दे डाली । 

जिसके बाद मौके पर बांदकपुर पुलिस पहुंच गई लेकिन विधायक जी का गुस्सा शांत नहीं हुआ तथा निकलने वाले वाहनों को बिना टोल चुकाए ही निकलवाया जाता रहा।  जानकारी लगने पर करीब घंटे भर बाद दमोह से एडिशनल एसपी शिव कुमार सिंह भी मौके पर पहुंचे तथा विधायक जी से बात की तब पता चला कि महोदय रीवा जिले के मऊगंज से विधायक प्रदीप पटेल जी हैं। बोलेरो कार क्रमांक एमपी 15 CC-0509 से भोपाल से अपने निर्वाचन क्षेत्र वापस लौट रहे थे। लेकिन रास्तें में गाड़ी रोके जाने पर गुस्से में टोल प्लाजा पर रूककर रह गए।

बाद में टोल कर्मचारियों ने विधायक जी से माफी मांगते हुए वंसल कंपनी के अधिकारियों से मोबाइल पर विधायक की चर्चा कराई और उन्होंने भी विधायक जी से खेद प्रकट किया तब कहीं जाकर विधायक जी वहां से कटनी की तरफ बढ़े और बेरियल पर टोल की वसूली फिर से शुरू हो सकी। इधर इस घटनाक्रम के चलते 1 घंटे तक दोनों तरफ से वाहन बिना टोल टैक्स चुकाए ही निकलते रहे। जिसको लेकर कंपनी के कर्मचारियों ने बांदकपुर चौकी पुलिस को पूरे घटनाक्रम का एक लिखित आवेदन देते हुए मामले में आवश्यक कार्रवाई करने का निवेदन किया जिससे वह कंपनी के उच्च अधिकारियों को 1 घंटे तक टोल टैक्स की वसूली नहीं हो पाने की वजह बतला सके। 


इस पूरे मामले को लेकर मोबाइल पर जब विधायक प्रदीप पटेल से चर्चा की गई तो उन्होंने कंपनी के गार्ड  पर बदतमीजी से पेश आने आरोप लगाया वही टोल टैक्स पर तैनात ड्यूटी कर्मचारी का कहना था की उनके उच्च अधिकारियों से विधायक जी की चर्चा हो जाने के बाद मामला समाप्त हो गया है। इस सबके बावजूद टोल गार्ड धर्म सिंह लोधी के खिलाफ धारा 151 की कार्रवाई किए जाने की जानकारी सामने आई है। वही पूरे घटनाक्रम के दौरान मौके पर मौजूद रहे बांदकपुर चौकी प्रभारी रामबिहारी पांडे ऑफ द रिकॉर्ड तो  पूरा घटनाक्रम स्वीकार करते रहे लेकिन आधिकारिक तौर पर कुछ भी बोलने से बचते नजर आए..

Post a comment

0 Comments