Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

महाराष्ट्र से आए निवेशक को झूठे केस में फंसाने की धमकी देना महंगा पड़ा.. जिस थाने में पदस्थ था उसी में FIR होने पर पुलिस कर्मी गिरफ्तार.. इधर बच्ची से गैंगरेप व नृशंस हत्या के दो आरोपी.. पुलिस को चकमा देकर थाने से फरार..

जिस थाने में पदस्थ थे उसी में पुलिस कर्मी गिरफ्तार
इंदौर। राजेंद्र नगर थाने में पदस्थ प्रधान आरक्षक के खिलाफ राजेंद्र नगर थाने में ही प्रकरण दर्ज लिए जाने की जानकारी सामने आई है। मामला एडवायजरी फर्म संचालको के साथ मिलकर पुलिस कर्मी के निवेशक को धमकी देने का है। दरअसल एडवायजरी फर्म संचालको ने निवेश में मुनाफ़ा देने के नाम पर निवेशक को जनवरी माह में महाराष्ट्र से इंदौर बुलाया था। बाद में यहा झूठे केस में फंसाने की धमकी देकर धोखाधड़ी की। इसी मामले की शिकायत की जांच के बाद इंदौर पुलिस ने धोखाधडी का प्रकरण पुलिस कर्मी सहित छह लोगो के खिलाफ दर्ज किया है। आरोपी पुलिसकर्मी और एक अन्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।
गैंगरेप व हत्या के दो आरोपी थाने से फरार..
रतलाम। जिले के बिलपांक थानान्तर्गत ग्राम भेरुपाड़ा में एक बच्ची के गैंग रेप कर उसकी नृशंस हत्या करने वाले तीन आरोपियों में से दो पुलिस गिरफ्त से फरार हो गए, आरोपियों को कल सोमवार को ही गिरफ्तार किया गया था। जानकारी अनुसार दोनों आरोपी थाने के सामने से ही पुलिस को धक्का देकर भाग निकले। एसपी गौरव तिवारी ने  दोनों आरोपियों पर दस-दस हजार के इनाम की घोषणा कर फोटो जारी किए हैं,गंभीर अपराध के आरोपियों के फरार होने से पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया है
 बताया जा रहा है कि रतलाम पुलिस ने गैंगरेप और हत्या के मामले में कालू निनामा, दिपला उर्फ दीपक नाहर और रवि निनामा को गिरफ्तार किया था। इनमें से दिपला और रवि थाने से फरार हो गए हैं। आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद शाम को जिला चिकित्सालय में उनके डीएनए के सैम्पल्स लिए गए थे, इसके बाद उन्हे पुलिस रिमाण्ड पर बिलपांक थाने ले जाया गया था। शाम को आरोपियों को भोजन कराने के लिए उनकी हथकड़ियां खोली गई थी और उसी समय दो आरोपी थाने से भाग निकले। पुलिस ने पूरे जिले में नाकाबंदी कर सरगर्मी से तलाश की जा रही है। 

Post a comment

0 Comments