Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

दमोह जिले के सेहरी झलोन गांव के जैन मंदिर से.. 70 वर्ष से अधिक प्राचीन भगवान पारसनाथ की अष्टधातु की मूर्ति सिंहासन सहित चोरी.. तेंदूखेड़ा थाना पुलिस मौके पर पहुचकर.. डॉग स्कॉट के साथ जांच में जुटी.. फिलहाल नहीं लगा कोई सुराग..

जैन मंदिर से अष्टधातु की मूर्ति सिंहासन सहित चोरी
दमोह। जिले के तेंदूखेड़ा थाना अंतर्गत ग्राम सेहरी झलोन के प्राचीन जैन मंदिर से 70 वर्ष पुरानी भगवान श्री पारसनाथ की अष्ट धातु की प्रतिमा चोरी हो जाने का दुखद घटनाक्रम सामने आया है। जानकारी लगने पर बुधवार दोपहर तेंदूखेड़ा थाना टीआई सहित पुलिस टीम डॉग स्कॉट और फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट के साथ मौके पर पहुंची। इस दौरान देर तक जांच कार्यवाही भी की जाती रही। लेकिन फिलहाल पुलिस के हाथ कोई सुराग नहीं लगने की जानकारी सामने आई है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार झलौन के समीप सेहरी गांव में बीती रात चोरों ने जैन मंदिर का ताला तोड़कर अंदर घुसे चोरों ने गुप्त दान की पेटी से नगदी निकालने के बाद भगवान पारसनाथ की अष्टधातु की 70 वर्ष से अधिक प्राचीन मूर्ति को सिंहासन सहित चोरी कर लिया। सुबह जब समाज के लोग मंदिर पहुंचे तो ताला टूटा देख कर तथा अंदर वेदी से भगवान की प्रतिमा गायब देखकर उन्हें चोरी की जानकारी लगी। घटना की सूचना तत्काल तेंदूखेड़ा थाना पुलिस को दिए जाने के बाद दोपहर में मौके पर पहुंची पुलिस ने जैन समाज के लोगों से जानकारी लेकर जांच शुरू कर दी है। 
 वही डॉग स्कॉट की मदद से गांव के कुआ, नदी एवं अन्य क्षेत्रो में पतासाजी के प्रयास किये गए। फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट की मदद से कांच पर बने निशानों को तलाशने के प्रयास किए गए। टीआई संधीर चोधरी ने बताया कि जांच जारी है फिलहाल कोई सबूत नहीं मिल सके है। वहीं गांव के रत्नेश जैन ने बताया कि पुलिस डाग के कुआ के पास जाने की बजह से कुए में कुए के पानी को खाली कराकर मूर्ति का पता लगाने का प्रयास भी जल्द ग्रामीण जनों द्वारा किया जाएगा। 
उल्लेखनीय है कि सेहरी गांव में जैन समाज के कुल दो परिवार ही निवासरत है तथा एक परिवार के मकान के प्रथम तल पर यह जैन मंदिर स्थित है जहां पर दोनों परिवारो के लोग प्रतिदिन पूजन अभिषेक करने के लिए जाते है। इस समय जैन समाज के पर्यूषण पर्व चल रहे हैं ऐसे में सेहरी गांव के मंदिर से जिन प्रतिमा के चोरी होने की खबर आसपास क्षेत्रों में पहुंचते ही आसपास के क्षेत्र के समग्र जैन समाज में नाराजगी भरा माहौल बना हुआ है तथा आरोपियों का पता लगाकर तत्काल गिरफ्तारी के साथ देव प्रतिमा को बरामद किए जाने की मांग पुलिस प्रशासन के अधिकारियों से की जा रही है। झलोन से मुकेश जैन की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments