Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

लॉक डाउन के तीसरे दिन 2 नए मरीज मिले.. पांच स्वस्थ होकर घर रवाना हुए.. एक्टिव केस 81, रिपोर्ट आना अभी 330 बाकी.. कोरोना से घबराए नही, बतायें और इलाज करायें.. दमोह जिला अस्पताल से तीन, हटा से दो मरीज डिस्चार्ज हुए..

 2 नए मरीज मिले.. पांच स्वस्थ होकर घर रवाना.. 
दमोह। जिले में कोरोनावायरस के पेशेंट लगातार मिलने के बाद शनिवार रविवार के अलावा दमोह नगर के 10 किलोमीटर क्षेत्र में सोमवार और मंगलवार को भी लॉक डाउन चल रहा है। शनिवार से शुरू हुए लॉकडाउन के तीसरे दिन सोमवार को जहां पांच मरीज स्वस्थ होकर अपने घरों को रवाना हुए वही दो नए मरीज भी मिले हैं। जोकि दमोह के बजरिया वार्ड तथा हटा के निवासी बताए जा रहे हैं। आज दमोह जिला अस्पताल से तीन तथा हटा से दो मरीजों को स्वस्थ्य होने पर डाक्टरस टीम द्वारा सम्मान विदा किया गया। जिले में अभी तक 156 कोविड-19 पेशेंट मिल चुके हैं जिनमें से 74 स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं, एक मरीज की मृत्यु हो चुकी है इस तरह फिलहाल एक्टिव केस 81 है जल का उपचार जारी है वही 330 रिपोर्ट आना अभी बाकी है।
 आज जिला अस्पताल से डिस्चार्ज होकर घर जा रहे कोरोना योद्धा ने कहा कोरोना एक संक्रमण बीमारी है, इससे घबराने की जरूरत नहीं है, हॉस्पिटल आयें, अगर आपको कोई भी संक्रमण हो तो स्वयं जिला अस्पताल आयें, यहां डॉक्टर्स से कंसल्ट करें, अपना टेस्ट करवाएं, बिल्कुल घबराने की जरूरत नहीं है, सभी सुविधाएं यहां पर है, टाइम-टू-टाइम सिस्टर्स आपका ख्याल रखती है, डॉक्टर श्री पटेल बहुत अच्छे से ट्रीट करते हैं, ख्याल रखते हैं, आपको घर की कमी बिल्कुल भी महसूस नहीं होगी, डॉक्टर सर से मैंने कहा है, अगर किसी पेशेंट को मेरी जरूरत होगी तो मुझे कॉल करके बुलाया जा सकता है।

उन्होंने कहा अगर आप जिला अस्पताल आएंगे तो घर से ज्यादा कोरेन्टाइन यहां पर रहेंगे, यहां पर अगर कोई समस्या है, डॉक्टर साहब से बोला तुरंत उसका निदान समय पर हो जाता है, सभी स्टॉफ सेवा अपना समझ कर रहे, जैसे आप घर में रहते हैं, वैसे ही यहां पर रहे, यहां रहेंगे तो घर से बेहतर माहौल मिलेगा। डॉक्टर पटेल सर ने एक बड़े भाई की तरह समझाया, ख्याल रखा, नर्स अपने छोटे भाई का जैसा ख्याल रखती है, वैसा ही ख्याल रखा, टाइम से आना सुबह-दोपहर किसी भी टाइम आप की दवाई का टाइम होने पर दवाई देती हैं। इसी प्रकार अन्य ठीक हुई युवती योद्धा ने कहा यहां पर किसी भी तरह की कोई भी परेशानी नहीं है, जैसे आप घर में रहते हैं, वैसे यहीं पर साफ-सफाई से रहे, ध्यान से रहे, अच्छे से रहे, यहां पर कोई प्रॉब्लम नहीं है, यहां पर सफाई कर्मी आते-जाते हैं और प्रॉपर सफाई करते हैं, डॉक्टर नर्स उन्होंने बहुत अच्छे तरीके से हम लोगों को स्वस्थ किया, उनका बहुत-बहुत धन्यवाद।

आरएमओ डॉ पटेल ने कहा जिला अस्पताल के डीसीएससी वार्ड से 3 कोरोना योद्धाओं को पूर्ण स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया जा रहा है, इसी के साथ-साथ कोविड केयर सेंटर हटा से 2 कोरोना योद्धाओं को डिस्चार्ज किया गया है, 5 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है, अब जिले में 81 केस एक्टिव बचे हुए हैं, जिसमें 04 सागर, 01 भोपाल, 02 जबलपुर, डीसीएससी वार्ड दमोह में 46, हिंडोरिया 07, हटा में 16 है।  उन्होंने कहा मेरा सभी से यही संदेश है जैसा कि कल काफी संख्या में कोरोना मरीज निकले हुए हैं, घबराने की जरूरत नहीं है, सावधानियां बरतनी बहुत ही आवश्यक है, लोग सावधानियां नहीं बरत रहे, जिससे वह पॉजिटिव हो रहे हैं, भीड़ ना लगाएं, शासन के नियमों का पालन करें, शासन-प्रशासन का सहयोग करें और सभी डॉक्टर्स स्टॉप का भी साथ दें, सावधानियां बरतने से आप विपरीत परिस्थितियों में नहीं जाएंगे और उपलब्ध संसाधन में हम उपचार उपलब्ध करा पाएंगे। 
डाँ पटेल ने कहा हमें जागरूक होने की आवश्यकता है, स्वयं जागरूक हो जाते हैं तो कोरोना किसी को नहीं हो सकता, यदि आप नियमों का पालन नहीं करेंगे तो जरूर आप कोरोना पीडित हो सकते हैं, विपरीत परिस्थितियों में जाने से तभी बच सकते हैं जब आप बचाव करेंगे, अनावश्यक ना घूमे फिरे, घर पर ही रहे, शासन द्वारा दिये निर्देशों का अक्षरशरू पालन करें। उन्होंने कहा आगे भी इसी क्रम में लगातार डिस्चार्ज का दौर चलेगा, इस प्रकार के सुखद अनुभव हमें मिलते रहे यही ईश्वर से कामना है, दमोह में लगातार खुशियां भी मिल रही है, इसी प्रकार खुशियों के पल हमें मिलते रहे और ऐसे ही सभी मरीज डिस्चार्ज होकर खुशी-खुशी अपने घर  पहुंचते रहे, यही कारवां आगे बढ़ता रहे,  ईश्वर की असीम दमोह पर बनी रहे, यही प्रार्थना ईश्वर से करते हैं।
इस अवसर पर डॉक्टर सोनू शर्मा, डॉक्टर सचिन मलैया, डॉक्टर आशुतोष गुप्ता, स्टॉफ नर्स, लैब टेक्नीशियन, वार्ड बॉय सहित अन्य चिकित्सीय स्टाफ मौजूद रहे। योद्धाओं का फूल-मालाओं से स्वागत कर उन्हे घर की ओर रवाना किया गया।

Post a comment

0 Comments