Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

पत्नि पर जानलेवा हमला करके भागे पति की बाइक ट्रैक्टर ट्राली से टकराई.. पति की मौत पत्नि का इलाज जारी.. हादसा या हत्या पुलिस जांच में जुटी.. इधर जुझार घाट जलकेंद्र पर तैनात कर्मचारी से मारपीट ने फिर खोली सुरक्षा इंतजामों की पोल..

ट्रैक्टर ट्राली से टकराए बाइक सवार की मौत
दमोह। पत्नि पर जानलेवा हमला करके भाग रहे पति की बाइक टैªक्टर ट्राली से टकराने के बाद पति की मौत हो जाने का दुखद घटनाक्रम सामने आया है। यह हादसा है हत्या पुलिस इसकी जांच में जुटी हुई है। 
 प्राप्त जानकारी के अनुसार बांदकपुर रोड समन्ना के पास खड़े एक ट्रैक्टर ट्राली से टकराकर गंभीर हालत में जिला अस्पताल भेजे गए बाइक सवार को मृत घोषित कर दिया गया था। बाद में उसकी बाइक क्रमांक एमपी 34 एमबी 4314 के आधार पर पहचान हिंडोरिया निवासी रघुवीर लोधी के तौर पर की गई थी।
इसी दौरान हिंडोरिया निवासी माया लोधी को लेकर जिला अस्पताल पहुचे परिजनों के द्वारा भी मृतक की पहचान माया के पति के रूप में करते हुए बताया गया कि रघुवीर ने दोपहर में अपनी पत्नि के साथ बेरहमी से मारपीट की गई थी। जिससे उसकी कमर में फैक्चर हो गया था। बाद में रघुवीर हिंडोरिया से बाइक लेकर दमोह की ओर भाग गया था। इधर घायल माया के भाई को बहिन के साथ मारपीट की जानकारी लगने पर उन्होंने बटियागढ़ से हिंडोरिया पहुचकर घायल बहिन को जिला अस्पताल पहुचाया।
 जहां कुछ देर बाद उसके पति का शव भी हादसे में मौत के बाद पहुच गया।  मृतक रघुवीर के साले गोविंद ने बताया कि मेरी बहन की शादी हिंडोरिया में रघुवीर लोधी से  हुई थी, जो पति द्वारा आए दिन मारपीट की जाती थी देहात थाना जबलपुर नाका चोकी पुलिस ने पूरे घटनाक्रम की जानकारी लेकर जांच शुरू कर दी है। सोमवार को पोस्टमार्टम उपरांत शव परिजनों को सौंपा जाएगा। पुलिस घटना के हर पहलू को ध्यान में रखकर जांच में जुटी हुई है। जिसके बाद ही साफ हो सकेगा की रघुवीर की मौत महज एक हादसा थी या कुछ ओर..
 जुझार घाट जलकेंद्र पर तैनात कर्मचारी से मारपीट
 दमोह। नगरपालिका द्वारा जल स्त्रौतों की सुरक्षा को लेकर अनदेखी लापरवाही का दौर जारी है। शुक्रवार को नौगजा पहाड़ी पानी टंकी में आधा दर्जन किशोरों के नहाने का बीडिया वायरल होने के बाद पुलिस ने इनके खिलाफ कार्रवाई की थी। वहीं नगरपालिका अधिकारी ने टंकी साफ कराकर मामले का पटाक्षेप कर दिया था। 
इधर शनिवार को राजनगर तालाब पहुचने वाले जुझार घाट के पानी से खिलवाड़ करते हुए नहाने धोने का बीडियों बायरल हुआ था। जिसके बाद यहां भी सुरक्षा इंतजाम कराने की ओर ध्यान आकर्षित कराया गया था। लेकिन नगरपालिका अधिकारी द्वारा कोई ध्यान नहीं दिया गया था। इधर शनिवार को ही सागर आईजी ने दमोह पहुचकर पानी टंकियों पर सुरक्षा गार्डो की तैनाती के निर्देश दिए थे। 
लेकिन इसके पहले ही रविवार दोपहर जुझार घाट पर व्यारमा नदी के जल संग्रहण केंद्र तैनात कर्मचारी चूरामन अठ्या के साथ रंजरा गांव के कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा जमकर मारपीट किए जाने की घटना सामने आ गई। एक अन्य कर्मचारी शुभम यादव के साथ भी मारपीट होना बताया जा रहा है। घायल चूरामन को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वही पुलिस घटना की जांच कर आरोपियों की तलाश में जुटी हुई है। 
तीन दिन में एक के बाद एक तीन घटनाए जल स्त्रोत क्षेत्रों की सुरक्षा को लेकर सामने आ चुकी है। इसके बावजूद नगरपालिका अधिकारी सेनेटाइजर के खेल में मस्त होकर अपने कछ शार्गिदों के साथ व्यस्त बने हए है। इन घटनाओं के बाद यह भी जांच का विषय होना चाहिए की आखिरकार क्यों जानबूझकर सुरक्षा व्यवस्था को इस तरह से खिलवाड की जा रही है। तथा इन क्षेत्रों में मस्टर पर कार्यरत कर्मचारी कहा किसकी डयूटी बजा रहे है।

Post a comment

0 Comments