Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

बुंदेलखंड के अनेक क्षेत्रों में बूंदाबांदी के साथ आकाशीय बिजली का तांडव.. रहली विधानसभा के ढाना क्षेत्र में खेत मे गाज गिरने से.. सेन परिवार के चार सदस्यों की दर्दनाक मौत.. पूर्व मंत्री गोपाल भार्गव ने अस्पताल पहुंचकर शोक संवेदना जताई..

 सानोधा थाना क्षेत्र में आकाशीय बिजली से चार की मौत-
सागर। बुंदेलखंड क्षेत्र में अचानक मौसम में आए बदलाव ने किसानों के साथ कोरोना वायरस से परेशान लोगों की चेहरों पर चिंता की लकीरें खींच दी है। दमोह, पन्ना तथा सागर जिले में जगह-जगह बूंदाबांदी तथा गाज गिरने की घटना सामने आई है। ढाना क्षेत्र में आकाशीय बिजली गिरने से एक ही परिवार के चार सदस्यों की मौत हो जाने की दुखद घटना सामने आई है। जानकारी लगने पर भोपाल से लौट रहे पूर्व मंत्री गोपाल भार्गव ने सागर के जिला अस्पताल पहुंचकर पीड़ित परिजनों से मुलाकात करते हुए शोक संवेदना व्यक्त की है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार शनिवार शाम अचानक मौसम में आए बदलाव के बाद आसमान में बादल के डेरे तथा हल्की बारिश बूंदाबांदी के बीच रहली विधानसभा अंतर्गत  ढाना के समीप खाड़ ग्राम में अकाशीय बिजली का तांडव देखने को मिला है। इस दौरान खेत में बने झोपड़ी में पानी से बचने के लिए छुप गए सेन परिवार के चार सदस्यों के ऊपर आकाशीय बिजली गिरने से सभी चारों लोग झुलस कर बेहोश हो गए। बाद में 108 की मदद से सभी को सागर के जिला अस्पताल ले जाया गया लेकिन तब तक उनकी सांसें थम चुकी थी। घटना की तत्काल बाद युवा समाजसेवी अभिषेक भार्गव जिला अस्पताल पहुंचे।
इधर भोपाल से गढ़ाकोटा लौट रहे पूर्व मंत्री गोपाल भार्गव को जब घटना की जानकारी लगी वह भी सागर में रुक कर सीधे जिला अस्पताल पहुंचे जहां उन्होंने सेन परिवार के दुखी सदस्यों से मुलाकात करके शोक संवेदना व्यक्त की तथा अंतिम संस्कार हेतु राशि प्रदान करते हुए शासन से चार चार लाख रुपए की मुआवजा राशि शीघ्र दिलाए जाने का भरोसा दिलाया। मृतकों में भरत तथा दिनेश सेन  सगे भाई है। कौशल्या एक भाई की पत्नी है और हर्ष 10 वर्षीय पुत्र है। दुखद घटना क्रम में दो सगे भाई  एक भाई की पत्नी और पुत्र की मौत की खबर ने  ढाना क्षेत्र को  गमगीन कर दिया है। ओम शांति शांति शांति

Post a comment

0 Comments