Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

कोरोना से जंग में.. इंदौर के जूनी थाना टीआई देवेंद्र चंद्रवंशी ने प्राण न्योछावर किये.. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गहन संवेदनाए जताते हुए 50 लाख के सुरक्षा कबच के साथ.. पत्नी को सब इंस्पेक्टर बनाने की घोषणा की..

 कोरोना से जंग में 20 दिन बाद टीआई का निधन-
इंदौर/ भोपाल। जूनी थाने में पदस्थ रहे बहादुर टी आई देवेंद्र चंद्रवंशी की कोरोना से जंग लड़ते हुए 20 दिनों के संघर्ष के बाद अपने प्राण न्योछावर कर दिए जाने के दुखद समाचार ने देश प्रदेश वासियों को झकझोर कर रख दिया है। 44 वर्षीय  श्री चंद्रवंशी ने देर रात अरविंदो अस्पताल में अंतिम सांस ली।
प्राप्त जानकारी के अनुसार वर्ष 2007 में एसआई बने देवेंद्र शाजापुर जिले के निवासी थे। इंदौर के जूनी थाने में टीआई देवेंद्र चंद्रवंशी पिछले 20 दिन से अरविंदो अस्पताल में उपचार रत थे । उनके कोरोना संक्रमण पाए जाने के बाद उनके साथ के एक कांस्टेबल की रिपोर्ट भी कोरोना पॉजिटिव आई थी। इस दौरान थाने के पूरे स्टाफ को क्वारंटाइन कर दिया गया था। उन्हें 30 मार्च को एडमिट किया था। जांच के दौरान दो बार उनकी रिपोर्ट में कोरोना वायरस नेगेटिव आई थी। नेगेटिवे रिपोर्ट आने के बावजूद हार्ट‑अटेक से उनकी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि उन्हें कोरोना के बाद निमोनिया हो गया था। 
अरविंदो हॉस्पिटल के डॉ विनोद भंडारी के अनुसार इन्हें पल्मोनरी एम्बुलिजम हुआ है जो एक तरह का हार्ट अटैक है जो नार्मल लोगो मे भी होता है। यही मौत का कारण है क्योंकि कोरोना तो खत्म हो चुका था और दो रिपोर्ट नेगेटिव आ गयी थी, एक दो दिन में इनको डिस्चार्ज किया जाना था। लेकिन रात 11:30 बजे अचानक सांस तेज चलने लगी और हार्ट रेट तेज हो गई उसके बाद मैंने नहीं बचाया जा सका।
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने स्वर्गीय चंद्रवंशी के निधन पर गहन दुख व्यक्त करते हुए शोक संतप्त परिवार को सुरक्षा कवच के रूप में 50 लाख रुपये की राशि स्वीकृत करने और दिवंगत थाना प्रभारी की पत्नी को सब इंस्पेक्टर के पद पर पदस्थापना की घोषणा भी की है। ओम शांति शांति शांति..

Post a comment

0 Comments