Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

बटियागढ़ में दूसरे दिन भी बाढ़ ग्रस्त रहा जूड़ी नदी का पुल.. जान जोखिम में डालकर पुल को पार करते रहे स्कूली बच्चे और ग्रामीण जन.. बाइक सवार बहते बहते बचा.. दो होमगार्ड के भरोसे सुरक्षा इंतजाम..

बटियागढ़ में जूड़ी नदी का पुल दूसरे दिन भी बाढ़ ग्रस्त 
दमोह। बटियागढ़ तहसील मुख्यालय पर जुड़ी नदी का उफान पर रहना दूसरे दिन भी जारी रहा जिससे जुडी नदी का पुराना पुल दूसरे दिन भी बाढ़ ग्रस्त इस दौरान भारी वाहन तथा अन्य गाड़ियां बाईपास मार्ग ऊंचे पुल से होकर निकलती रही। परन्तु पुराने पुल से इस पार से उस पार जाने वालों को रोकने के लिए बेरीकेट्स  सहित अन्य सुरक्षा व्यवस्था नजर नहीं आई। जिससे जान जोखिम में डालकर लो इस पार से उस पार पैदल ही होते रहे।
 रविवार को बटियागढ़ के बाढ़ ग्रस्त पुल से जान जोखिम में डालने के अनेक नजारे सामने आए है। जिनमें कोचिंग जा रहे स्कूली बच्चों का जान जोखिम में डालकर पैदल ही पुल पार करना महत्वपूर्ण कहा जा सकता है। इधर एक बाइक सवार के बाढ़ ग्रस्त पुल से इस पार से उस पार होते हुए बहते बहते बचने का नजारा भी सामने आया है। वही अनेक ग्रामीण जन भी पुल के ऊपर से बहने वाले पानी की परवाह किए बिना बेधड़क आवागमन करते रहे।
आपको बता दें शनिवार सुबह से बटियागढ़ की जोड़ी नदी का पुल बाढ़ ग्रस्त बना हुआ है शनिवार को पुल को पार करते समय करीब आधा दर्जन पालतू मवेशी बह गए थे। वही सुबह से बैरिकेट्स सहित अन्य सुरक्षा इंतजाम नजर नहीं आए थे। बाद में पुल के दोनों तरफ होमगार्ड के एक एक जवान की ड्यूटी लगा दी गई थी। जो जान जोखिम में डालकर पुल से आवागमन करने वालों को रोकने में असमर्थ नजर आ रहे थे। अभिजीत जैन की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments