Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

आदिवासी दिवस पर सीएम कमल नाथ की घोषणा.. साहूकारों से लिया कर्जा होगा माफ, वन ग्राम होगे राजस्व.. विधायक राहुल सिंह ने कहा.. तेंदूखेड़ा कालेज रानी दुर्गावती, बटियागढ़ कालेज सावित्री फुले के नाम होगा..

उत्साह के साथ मनाया गया विश्व आदिवासी दिवस-
मप्र में विश्व आदिवासी दिवस उत्साह से मनाया गया। इस मौके वा मुख्यमंत्री कमलनाथ ने छिंदवाड़ा में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होकर आदिवासी वर्ग के लिए अनेक घोषणाए की। प्रदेश के अनुसूचित क्षेत्रों में रहने वाले आदिवासियों द्वारा साहूकारों से लिए गए सभी कर्ज माफ हो जाएंगे। इससे डेढ़ करोड़ आदिवासियों को लाभ मिलेगा। सरकार ने इसके लिए  औपचारिक व्यवस्थाएं कर ली है। सभी 89 अनुसूचित क्षेत्रों में यह कर्ज 15 अगस्त तक माफ होना शुरू हो जाएंगे। श्री कमलनाथ ने वन ग्रामों को राजस्व ग्राम बनाये जाने की भी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आदिवासी वर्ग की मांग पर अनुसूचित जनजाति विभाग का नाम बदलकर आदिवासी विकास विभाग किया जायेगा। साहूकारों से लिए कर्ज माफ करने के संबंध में मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी आदिवासी ने कर्ज लेने के लिए अपनी जेवर, जमीन गिरवी रखी है तो वह भी उन्हें वापिस होंगे। वहीं प्रदेश सरकार के मंत्रीगण भी विभिन्न जिलों में आयोजित कार्यक्रमों में शामिल हुए। दमोह जिला मुख्यालय पर आयोजित समारोह में विधायक राहुल सिंह मुख्य अतिथि रहे।   
                                
दमोह। आज विश्व आदिवासी दिवस 09 अगस्त की शासकीय छुट्टी मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी ने घोषित की है। उन्होने कहा रानी दुर्गावती, राजा शंकरशाह, कुवंर रघुनाथशाह, विरसा मुण्डा जैसे महान विभूतियों ने इतिहास मे संघर्ष और बलिदान दिये जिनके खून सींचने के बाद ये स्थिति बनी कि आज हम स्वतंत्र भारत में रहकर आजादी की सांस ले रहे हैं उन योद्धाओं को आज नमन किया जाना चाहिए। इस आशय के विचार आज दमोह विधायक राहुल सिंह ने विश्व आदिवासी दिवस पर अनुसूचित जाति छात्रावास में आयोजित कार्यक्रम में व्यक्त किये। इस मौके पर कलेक्टर तरूण राठी, पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह, सीईओ जिला पंचायत डॉ. गिरीश मिश्रा, जिला पंचायत उपाध्यक्ष कौशल्या बाई सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण मौजूद थे।

विधायक राहुल सिंह ने कहा तेन्दूखेडा महाविद्यालय का रानी दुर्गावती और शासकीय महाविद्यालय बटियागढ़ नाम बदलकर सावित्री बाई फुले किये जाने की बात कही। उन्होंने कहा हम प्रत्येक वर्ष 09 अगस्त आदिवासी दिवस के दिन शहीदो को बलिदानियों को याद करेंगे, नमन करेंगे। मैं बधाई देता हूं आराधना गौड़ को जिसने रानी दुर्गावती जी के पूरे जीवन परिचय से हमारा ध्यान आर्कषित किया, हमारे बच्चों को इस बात का ज्ञान होना चाहिए कि जो हमारे पूर्वज हैं, उन्होने कितने संघर्ष कितना बलिदान दिया। उन्होंने छात्रावास के बार्डन एवं अधिकारियों को भी बधाई दी। उन्होंने कहा बच्चों को यदि इतिहास के बारे में इतनी गहराई से पता हैं, तो यह एक सराहनीय हैं, धन्यवाद के पात्र हैं।

 उन्होंने कहा राजा शंकरशाह और कुवंर शाह जी की स्मृति में 5 करोड़ की लागत से एक संग्रहालय जबलपुर मे बनाने की घोषणा की गई है जो जल्द ही प्रारम्भ हो जायेगी। मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ 35 बर्षो से जिस लोकसभा क्षेत्र से सासंद चुनकर आते हैं, वह आदिवासी क्षेत्र हैं, इस कारण से मुख्यमंत्री जी को आदिवासी समाज ह्मदय से जुड़ा हुआ हैं, किसकी क्या पीड़ा है, क्या समस्या है, वो बहुत अच्छे जानते हैं और इसीलिए बहुत अच्छे तरीके से एवं सुनियोजित तरीके से आदिवासी समाज को सही दिशा एवं दशा देने श्री कमलनाथ पिछले 35 बर्षो से कार्य कर रहे हैं। मप्र सरकार इन 5 बर्षो में आदिवासी समाज के लिए शिक्षा, खेल, संस्कति, व्यवसाय सभी क्षेत्रों मे अपनी ईमानदारी और कर्तव्यनिष्ठा के साथ अपना कर्तव्य निभाईगी।
इस अवसर पर कलेक्टर तरूण राठी ने कहा आज का दिन बहुत महत्वपूर्ण हैं, सदियो से अर्जित ज्ञान को नमन करने का दिन है, आज नेचुरोपेथी कही ना कही हमारी संस्कृति मे रही है और विशेष रूप से आदिवासी संस्कृति का अभिन्न अंग है, जिसे आज की भाषा मे नेचुरोपेथी कहा जाता हैं, हमारा सौभाग्य है कि जो ज्ञान वर्षो से पीढियो से हमारा समाज का अभिन्न अंग रहा है, उसको याद करने के लिए उसको नमन करने के लिए हमे आज का दिन निर्धारित किया गया है। उन्होने कहा देश का 1857 स्वाधीनता संग्राम, 1947 स्वाधीनता आंदोलन हो इतिहास मे हमने पढा है मुण्डा विद्धोह विभिन्न प्रकार के विद्धोह हमारे आदिवासी अंचलो मे होते रहे है, क्यैंकि ऐसा समाज था और है जो मूल रूप से स्वच्छंद प्रिय है वो किसी बाहरी हस्तक्षेप को अपनी संस्कृति मे हस्तक्षेप को स्वीकारता नही हैं, योगदान हमारे आदिवासी समाज का हमारे देश के विकास मे रहा उन सबको मनन करने का याद करने का एक अच्छा अवसर है, इसके साथ एक चेतना देता है कि जो सरकार की योजना चल रही है उसका हम कैसे लाभ उठा सकते हैं।

 कलेक्टर श्री राठी ने कहा जिले में 22 आदिवासी छात्रावास लगभग 50 सीटर संचालित है, शिक्षा विभाग के छात्रावास भी हमारे जिले में संचालित है, सरकार की विभिन्न योजनाए है, हम किस तरीके से आदिवासी छात्र-छात्राओं को रोजगार से जोड सके, इस हेतु राज्य शासन ने निर्णय लिया है, अगस्त माह से वनाधिकार के लंबित दावे के निराकरण की कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी, जिसके लिए ट्रेनिंग दी जा रही है। सितम्बर से अभियान चलेगा । वनाधिकार के जो दावें लंबित है, इन सभी दावों को अंतिम परिणिती तक पहुँचाने लक्ष्य लिया है और मुझे पूरा भरोसा है काम अच्छे से कर लियें तो यह एक बहुत बडी उपलब्धि जिले के लिए होगी। खास तौर पर हमारे आदिवासी लोगो के लिए जिनकी जमीन है, उनको कब्जा मिल पायेगा। आप सब से मेरा आग्रह है कैसे हम सब सरकार की योजनाओ का लाभ उठाये और आगे बढें इस और निरंतर सोचे और आगे बढकर देश की प्रगति मे अपना योगदान दें।

कार्यक्रम में छिदवाड़ा से मुख्यमंत्री कमलनाथ के साथ अन्य मंत्रियों के संबोधन का सीधा प्रसारण देखा गया ।
कार्यक्रम में अतिथियों द्वारा दीप प्रज्जवलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। छात्रा प्रियंका और संगीता ने सरस्वती वंदना तथा स्वागत समूह नृत्य छात्रा शालिनी और प्रतीक्षा ने ““आयो रे शुभ दिन आयो रे““प्रस्तुत किया। जिला कोषालय अधिकारी एवं प्रभारी जिला संयोजक विवेक घारू और परियोजना अधिकारी कमलेश जैन ने अतिथियों को बेच लगाकर, पुष्पगुच्छ भेंट स्वागत किया। इस मौके पर परियोजना अधिकारी कमलेश जैन ने स्वागत भाषण प्रस्तुत किया। आराधना गौड़ ने रानी दुर्गावती पर अपना उद्बोधन छात्र अनमोल ने विरसा मुण्डा के जीवन पर अपनी बात रखी। छात्रा शालिनी, प्रतीक्षा, सपना, शांति और प्रीति ने समूह नृत्य प्रस्तुत किया।

इस अवसर पर अतिथियों ने नीट में चयनित, बीएएमएस भोपाल में अध्ययनरत सोनम गौड़, शासकीय सीनियर उत्कृष्ठ बालक छात्रावास में निवासरत कक्षा 10 वीं में 91.20 प्रतिशत प्राप्त करने वाले छात्र अंकेश सींग, शासकी ओल्ड सीनियर बालक छात्रावास तेन्दूखेड़ा में निवासरत कक्षा 10 वीं में 88 प्रतिशत प्राप्त करने वाले छात्र अमित सींग, नेतृतव विकास शिविर में चयनित कक्षा 10 वीं में 87 प्रतिशत अंक प्राप्त करने वाली हर्षिता मांझी को प्रमाण पत्र एवं स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया। इसके अलावा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाली छात्राओं को भी पुरूस्कृत किया गया।
कार्यक्रम में नपा के नेता प्रतिपक्ष राशू चौहान, शहर कांग्रेस अध्यक्ष यशपाल ठाकुर, विधायक प्रतिनिधि पवन गुप्ता, जिला उपाध्यक्ष लालचंद राय, ब्लॉक अध्यक्ष नितिन मिश्रा, पूर्व जनपद अध्यक्ष सतीश नायक, कमलेश उपाध्याय, प्रताप रोहित, राजा रौतेला, अजय जाटव, विमलेश ठाकुर, हेमराज भैया, भीकम मिश्रा, दीपक मिश्रा, पार्षद राघवेन्द्र सिंह, बीरेन्द्र सोनी, प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष लिपिक संघ राकेश सिंह हजारी, अबरार खान, मुकेश व्यास, कलावती सिंह ठाकुर, अनिल नेमा, लक्ष्मण सिंह सोलंकी, ओंकार प्रसार मिश्रा, जनप्रतिनिधिगण सहित बड़ी संख्या में अधिकारी-कर्मचारी, आमजन तथा छात्रावास की छात्रायें मौजूद थीं।

Post a comment

0 Comments