Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

फरार आरोपियों की तलाश में बसपा विधायक रामबाई और जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण के आवास पर छापा.. प्रेस कांफ्रेंस में रामबाई की इस्तीफे की धमकी, सागर IG ने फरारियों पर इनाम की रकम 25 हजार की..

चौरसिया हत्याकांड के एक सप्ताह बाद भी तनाव-
दमोह। हटा में कांग्रेस नेता देवेंद्र चौरसिया की दिन दहाड़े हत्या के मामले में नामजद आरोपियों की तलाश में आज पुलिस ने बसपा विधायक और जिला पंचायत अध्यक्ष के आवास पर छापामार कार्यवाही कर तलाशी ली।
लेकिन दोनों ही जगह फरार आरोपी नहीं मिले। वही हटा में मुस्लिम समाज एवं नगरपालिका के जनप्रतिनिधियों ने आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन करते हुए ज्ञापन सौंपा। इधर आरोपियों की गिरफ्तारी पर सागर आई जी ने इनाम की रकम बढ़ा कर 10 से 25 हजार रुपए कर दी है। 
जिला पंचायत अध्यक्ष के आवास पर छापा-
हटा के कांग्रेस नेता देवेंद्र चौरसिया की हत्या के 7 दिन बाद भी नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी नही हो सकी। पुलिस पर बढ़ते दबाब के बीच आज दमोह SP  आरएस बेलवंशी ने संयुक्त टीमो के साथ हटा में गांधी वार्ड स्थित जिला पंचायत दमोह के अध्यक्ष शिवचरण पटेल के घर छापामार कार्यवाही कर आरोपियों की पतासाजी का प्रयास किया। लेकिन पुलिस को कोई बड़ी सफलता हाथ नही लगी। 10 मिनिट तक चले तलाशी अभियान के दौरान यहा मिले दो कर्मचारियों को पुलिस ने पकड़कर थाने लाकर पूछताछ की।
 जप्त वाहनों में पंचायत अध्यक्ष पुत्र की भी गाड़ी-
 गौरतलब है कि देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड के  7 नामजद आरोपियों में जिला पंचायत अध्यक्ष शिव चरण पटेल के पुत्र इंद्रपाल पटेल का भी नाम। जिसे  निर्दोष बताने की कोशिश में लगे शिवचरण ने अपने समाज संगठन से ज्ञापन सांसद प्रहलाद पटेल को दिलवाया था। सांसद पटेल द्वारा इसको लेकर दमोह एसपी को एक पत्र लिखा गया था। जिसके बाद सांसद पर अपराधियों को संरक्षण देने के आरोप के साथ हटा तथा पटेरा में पुतला दहन भी किया गया था। इधर पुलिस ने देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड में आरोपियों द्वारा प्रयुक्त किये गए जिन 4 वाहनों को जब्त किया है उनमें से एक डस्टर गाड़ी शिवचरण पटेल के पुत्र इंद्रपाल पटेल के नाम पर आरटीओ में रजिस्टर्ड निकली है। 
 मुस्लिम समाज तथा नपा प्रतिनिधियो के ज्ञापन-
हटा में विभिन्न संगठनों द्वारा चौरसिया हत्या कांड में गिरफ्तारी को लेकर लगातार प्रदर्शन करके ज्ञापन दिए जा रहे है। हिंडोरिया तथा  पटेरा का बाजार की  इस मामले को लेकर बंद रह चुका है  वही आज  हटा की मुस्लिम समाज  तथा नगर पालिका  जन पथरिया द्वारा भी  एक ज्ञापन सौंपा गया। जिससे लगातार पुलिस पर आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर दबाब बढ़ रहा है।
पथरिया विधायक के आवास पर भी पड़ा छापा-
इसी के चलते पथरिया विधायक राम भाई के आवास पर भी एसपी पारस बेल वंशी के नेतृत्व में पुलिस टीम द्वारा छापामार कार्यवाही करके तलाशी ली गई लेकिन यहां भी पुलिस को कोई आरोपी नहीं मिला। उल्लेखनीय है कि चौरसिया हत्या कांड के नामजद आरोपियों में विधायक रामबाई के पति तथा देवर के अलावा अन्य परिजनों के नाम शामिल है।
 विधायक रामबाई ने चंदू-गोविंद को निर्दोष बताया-
पुलिस की छापामार कार्यवाही के बाद विधायक राम बाई ने आनन फानन में प्रेस कान्फ्रेंस आयोजित करके अपने पति तथा देवर के निर्दोष होने की बात दोहराते हुए कहा कि आखिर पुलिस इस मामले में जांच क्यों नहीं करा रही है। उनका कहना था कि जांच में वारदात के वक्त यदि चंदू गोविंद 20 किमी क्षेत्र में पाया जाना साबित हो जाये तो वह विधायक पद से इस्तीफा दे देंगी।
सागर आईजी ने ईनाम की रकम 25 हजार की-

सागर डीआईजी दीपक वर्मा ने चौरसिया कांड के संदर्भ में पुलिस द्वारा लगातार की जा रही कार्रवाई से मीडिया को अवगत कराते हुए बताया कि इनाम की राशि 10 से बढ़ाकर 25 हजार रुपए कर दी गई है। लगातार पुलिस की विभिन्न में जिले संभाग तथा प्रदेश में आरोपियों की तलाश में जुटी हुई है। फरार आरोपी चंदू गोविंद के राम बाई के संपर्क में होने की बात पर डीआईजी ने कहा कि जरूरत पड़ने पर उनसे भी पूछताछ की जाएगी।

Post a comment

0 Comments