Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

पुलिस/ प्रेस लिखी गाड़ियों पर खास नजर.. पुलिस लिखी बाइक सवार युवक के बैग में मिले डेढ़ लाख से अधिक.. दस्तावेज के अभाव में जब्त हुई रकम..

फल विक्रेता की बाइक पर क्यों लिखा है POLICE-
दमोह। चुनाव आचार संहिता के चलते पुलिस का चेकिंग अभियान और नगदी जब्ती किए जाने की कार्रवाई लगातार सामने आ रही है। इस दौरान नगद राशि के साथ संबंधित दस्तावेज लेकर नहीं चलने वाले लोगों को प्रशासनिक पुलिस कार्यवाही से परेशानी भी उठाना पड़ रही है। इधर पटेरा में पुलिस लिखी एक बाइक सवार की जांच के दौरान युवक के बैग से डेढ़ लाख से अधिक रुपए बरामद हुए। जिन से संबंधित कोई कागजात प्रस्तुत नहीं किए जाने पर यह रकम जप्त कर ली गई है।
 पटेरा थाने के सामने शनिवार रात पुलिस द्वारा चलाए जा रहे चेकिंग अभियान के दौरान उप निरीक्षक विजय  शिवहरे एवं दानसिंह के साथ पुलिस टीम द्वारा वाहनों की जांच की जा रही थी इस दौरान पटेरा से दमोह की तरफ जा रही बाइक क्रमांक एमपी 34 एमएच 4068 जिस की नंबर प्लेट पर पुलिस भी लिखा हुआ था, को रोककर वाहन चालक की जांच की गई। 
वाहन चालक दमोह के गाड़ी खाना निवासी युवक तौफीक पिता रफीक खान के बैग की तलाशी लिए जाने पर उसमें 1 लाख 65 हजार 600 रुपये नगद मिले। युवक द्वारा स्वयं को फल विक्रेता बताया गया परंतु यह रकम कहां से कैसे लेकर आ रहा था इस संदर्भ में कोई स्पष्ट जानकारी नहीं दे पाने के साथ ही रुपयों से संबंधित कोई दस्तावेज भी प्रस्तुत नहीं किए जा सके।
जिसके बाद एसएसटी टीम प्रभारी एमआर सुमन और एसपी शुक्ला ने गवाहों के समक्ष उक्त 1 लाख 65 हजार 600 रुपये की जब्ती की कार्यवाही करते हुए रुपयों को मालखाने में जमा करा दिया है। इस  दौरान लोगों की भीड़ लगी रही। वहीं खुद को फल विक्रेता बताने वाला युवक की बाइक की नंबर प्लेट पर पुलिस क्यों लिखे हुए है तथा इन रुपयों के बारे में कोई स्पष्ट जानकारी क्यों नहीं दे सका, इसको लेकर भी चर्चाओं का बाजार सरगर्म रहा। 
भारत-वेस्टइंडीज के बीच हो रहे तीसरे वनडे मैच के दौरान पुलिस लिखी मोटरसाइकिल सवार युवक से बरामद की गई उक्त रकम के तार भी कहीं क्रिकेट के सट्टे से तो नहीं जुड़े ? इसकी जांच भी पुलिस द्वारा की जा रही है। पटेरा से संजय शुक्ला की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments