Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

दमोह जबलपुर स्टेट हाईवे पर कार और बाइक सवारों के बीच सीधी भिड़ंत.. एक जबलपुर रेफर दूसरे का जबेरा मैं इलाज जारी.. इधर बटियागढ़ में शराब छोड़ने की दवाई लेने के लिए लगने वाली भीड़ से कलारी वालों की नींद उड़ी..

 ढाबा के पास कार और बाइक के बीच सीधी भिड़ंत..

दमोह। जबलपुर स्टेट हाईवे पर एक बार फिर रफ्तार के कहर के साथ आमने-सामने की भिड़ंत का एक्सीडेंट सामने आया है कार तथा बाइक सवारों के बीच हुई सीधी टक्कर में घायल दो बाइक सवारों में एक को गंभीर हालत में इलाज के लिए जबलपुर भेजा गया है वहीं दूसरे का जबेरा में इलाज जारी है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बुधवार शाम सिग्रामपुर  ढाबा के पास हुए भीषण एक्सीडेंट में बाइक सवार भजिया निवासी बिहारी आदिवासी और मोनू झारिया कार की टक्कर लगने के बाद बाइक से उछलकर सड़क पर दूर जा गिरे। घटनास्थल पर खड़ी कार क्रमांक एमपी 20 सीके 3236 विश्वास पर क्षतिग्रस्त खड़ी हुई है वही बाइक को भी काफी नुकसान पहुंचा है। एक्सीडेंट के बाद मौके पर लोगों की भीड़ लग गई

लहूलुहान हालत में उन्हें सड़क पर पड़े देखकर वहा से निकल रहे हरिराम ठाकुर ब अंकित सिंह ने पुलिस को कॉल करके जानकारी दी। उसके बाद मौके पर पहुंचे सिंग्रामपुर चौकी प्रभारी  धर्मेंद्र उपाध्याय मैं दोनों घायलों को जबेरा स्वास्थ्य केंद्र भिजवाया। जहां से गंभीर स्थिति में बिहारी आदिवासी को जबलपुर रेफर कर दिया गया है वही मोनू झारिया का जबेरा में इलाज जारी है। जबेरा से मयंक जैन के साथ सिग्रामपुर से निवेश जैन की रिपोर्ट

बटियागढ़ में शराब छोड़ने की दवाई लेने के लिए लगने वाली भीड़ से कलारी वालों की नींद उड़ी..

दमोह।  जिले के बटियागढ़ जनपद मुख्यालय पर प्रत्येक मंगलवार को शराब छुड़ाने की दवा निशुल्क वितरित की जाती है जिसे लेने के लिए सैकड़ों की संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ती है लोगों का कहना है कि पहले सप्ताह से ही उन्हें फायदा होने लगता है। यहां पर प्रत्येक मंगलवार को शराब छोड़ने वालों की भीड़ उमड़ने से शराब बेचने वालों की नींद उड़ती नजर आने लगी है।

बटियागढ़ बस स्टैंड के पास शराब छुड़ाने की दवा का निशुल्क वितरण कर रहे बद्री विश्वकर्मा का कहना है कि उनको एक सिद्ध महात्मा खुश होकर शराब छुड़ाने की जड़ी बूटी दे गए थे। जिसे पानी में मिलाकर वह प्रत्येक मंगलवार को दो बार 12:00 बजे तक भी वितरित करते हैं पिछले 5 माह में इस दवा का सेवन करके करीब पांच हजार लोगों की शराब की लत छूट जाने का दावा किया गया है। इनमें अनेक लोग ऐसे भी है जो पिछले कई वर्षों से शराब का सेवन करते आ रहे थे। इनके परिजन इससे परेशान थे और यह सब कुछ गवा चुके थे। 

दमोह जिले के अलावा सागर जबलपुर भोपाल संभाग के विभिन्न क्षेत्रों से भी यहां पर मंगलवार को शराब छुड़ाने की दवा लेने के लिए लोगों की भीड़ बढ़ने से मेले जैसा माहौल देखा जा सकता है। यहां पर दवा लेने के लिए आने वाले लोगों को अपने साथ एक डिब्बे में 5 लीटर पानी लेकर आना होता है। जिससे दवा लेने वालों के डिब्बों की लाइन लगी नजर आती है वही दावा किया जा रहा है कि कुछ ही हफ्तों में शराब की लत पूरी तरह से छूट जाती है।

Post a Comment

0 Comments