Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

युवा दिलों की धड़कन इंस्टाग्राम यूट्यूब स्टार गर्ल.. परिजनों की डेथ के बाद घर से भाग कर जा रही थी लखनऊ.. यूट्यूब पर परिजनों ने भागने का वीडियो किया.. जीआरपी इटारसी की टीम ने कुशीनगर एक्सप्रेस से सकुशल बरामद किया..

 डांट के बाद औरंगाबाद की यूट्यूब स्टार गर्ल घर से भागी 

इटारसी। सोशल साइट यूट्यूब इंस्टाग्राम पर अपलोड वाले अनेक वीडियो युवाओं के लिए दीवाना बनाए हुए हैं। अपनी मादक अदाओं का जलवा बिखेर कर अनेक युवा यूट्यूब इंस्टाग्राम पर अपने वीडियो अपलोड करके जहां देश दुनिया में जलवा बिखेर रहे हैं वही विज्ञापनों के जरिए हर महीने लाखों रुपए कमा रहे हैं। ऐसे युवा कलाकारों के फॉलोवर्स की संख्या भी लाखों में होने के साथ लोग इनके नई वीडियो अपलोड होने का बेसब्री से इंतजार करते हैं ऐसी ही एक औरंगाबाद निवासी यूट्यूब स्टार गर्ल को  किसी बात को लेकर उसके परिजनों को डांटना महंगा पड़ गया। गुस्से में यह 16 वर्ष की किशोरी किसी को बताए बिना घर से भाग निकली। परिजनों को जब इसका पता लगा तो उन्होंने पुलिस को सूचना दी और यूट्यूब पर उसके लापता होने भागने की वीडियो अपलोड कर दी। जिसके बाद इसके प्रशंसकों में हड़कंप के साथ पुलिस सक्रिय हुई। और चारों तरफ 16 वर्षीय यूट्यूब स्टार गर्ल की तलाश की सूचना फोटो के साथ वायरल की गई। जिसके बाद जीआरपी इटारसी की टीम ने उसे एलटीटी-गोरखपुर कुशीननगर एक्सप्रेस ट्रेन से सकुशल बरामद कर परिजनों को सौंप दिया है।

बताया जा रहा है कि इस यूट्यूब स्टार गर्ल के द्वारा अपलोड किए जाने वाले वीडियो के युवा दीवाने रहते हैं उस के 45 लाख के करीब फॉलोअर्स है। बीती रात  कुशीनगर एक्सप्रेस के इटारसी स्टेशन पहुंचने पर फोटो के आधार पर जब किशोरी की तलाश की गई तो वह ट्रेन के स्लीपर कोच में बैठी मिली। बाद में
 चाइल्डलाइन की मदद से नाबालिक को जीआरपी थाने लाया गया। और उसके परिजनों को सूचना देने पर देर रात उनके इटारसी पहुंचने पर बेटी को कर दिया गया। 

भोपाल रेल एसपी हितेश चौधरी ने बताया कि औरंगाबाद पुलिस से सूचना मिली थी कि 16 साल की यूट्यूब स्टार गर्ल जो औरंगाबाद से लापता हुई है संभवत वह कुशीनगर एक्सप्रेस में बैठी हुई है। ट्रेन के स्लीपर कोच में चेक किया तो किशोरी बैठी मिल गई। किशोरी की बरामदगी में जीआरपी थाना प्रभारी बीवी टांडिया, एएसआई अनिता दास, महिला आरक्षक प्रियंका, प्रधानआरक्षक केके यादव, आरक्षक सुमित यादव, अंकित मलिक का सराहनीय योगदान बताया गया है। इधर देर रात इटारसी पहुंचे परिजनो ने बताया उन्होंने बेटी को डांटा था। हमसें नाराज होकर वह घर से भाग निकली। औरंगाबाद के अलावा लखनऊ यूपी में उनका गृहनगर है। माता--पिता ने औरंगाबाद पुलिस, इटारसी जीआरपी और मीडिया का धन्यवाद। किया है जिनकी मदद से हमारी बेटी हमें मिल गई।

Post a Comment

0 Comments