Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

कोतवाली के सबसे नजदीकी एटीएम में तोड़फोड़ करने वाला सीसीटीवी में कैद.. पुलिस की रात्रि गश्त पर सवालिया निशान...क्या भारत पाक क्रिकेट मैच की हर बाल पर लगने वाले.. क्रिकेट के सट्टे पर अंकुश लगा पाएगी पुलिस..

एटीएम में तोड़फोड़ करने वाला सीसीटीवी में कैद..

दमोह। पुलिस थाना कोतवाली से चंद कदम की दूरी पर को ऑपरेटिव बैंक चौराहे के समीप स्थित भारतीय स्टेट बैंक के एटीएम में देर रात तोड़फोड़ किए जाने का घटना क्रम रविवार सुबह सामने आने के बाद चर्चाओं का बाजार सरगम रहा। कोतवाली के सबसे नजदीकी एटीएम बूथ में जिस तरह से घुसकर तोड़फोड़ की वारदात को अंजाम दिया गया है उससे पुलिस की रात्रि गश्त की भी पोल खुल गई है।
नगर के कोऑपरेटिव बैंक चौराहे पर संचालित भारतीय स्टेट बैंक के एटीएम बूथ में किसी बड़े पत्थर से प्रहार करके स्क्रीन को क्षतिग्रस्त किए जाने का घटनाक्रम सामने आने के बाद प्रथम दृष्टया यह मामला किसी मंदबुद्धि व्यक्ति द्वारा किए जाने का अनुमान लगाया जा रहा था। वही एटीएम बूथ में लगे सीसीटीवी कैमरे में पत्थर से तोड़ फोड़ करने वाले जिस व्यक्ति की तस्वीर कैद हुई है उसे भी प्रथम दृष्टया मानसिक विक्षिप्त बताया जा रहा है।
 ऐसे में पुलिस तथा बैंक प्रबंधन के लिए राहत की बात यह कही जा सकती है कि एटीएम में तोड़फोड़ करने वाले बदमाश का उद्देश्य चोरी डकैती नहीं था। लेकिन इस घटना क्रम ने शहर में एटीएम बूथ सुरक्षा प्रबंधन को लेकर बैंकों द्वारा किए जाने वाले इंतजामों की भी पोल खोल कर रख दी है। एटीएम बूथ में सीसीटीवी कैमरे से लेकर अलार्म तक लगे होने के बावजूद तोड़फोड़ की इस वारदात का पता क्या बैंक प्रबंधन को तत्काल इसलिए नहीं लगा क्योंकि रविवार का दिन था। वही एटीएम बूथ के बाहर क्या सुरक्षा गार्ड की तैनाती नहीं की गई थी। वही कथित मानसिक विक्षिप्त जब वारदात को अंजाम दे रहा था उस दौरान पुलिस गश्त कहां पर हो रही थी। कोतवाली से बस स्टैंड स्टेशन तरफ जाने वाले मार्ग पर जहां की रात्रि में बसों तथा ट्रेनों के आवागमन के दौरान आवाजाही बनी रहती है ऐसे में यदि एटीएम बूथ के साथ तोड़फोड़ की वारदात को अंजाम दिया गया तो यह निश्चित रूप से गंभीर घटनाक्रम है। भले ही कोतवाली टीआई इस मामले को मानसिक विक्षिप्त द्वारा किया जाना मानकर हल्के में ले रहे हो।
यहा उल्लेखनीय है कि कोतवाली में प्रभारी निरीक्षक के बदलाव के बाद जहां अपराधों पर नियंत्रण का ढिंढोरा पीटने में कुछ चापलूस महज इस कारण से लग गए हैं की अब उनकी दुकानदारी पहले जैसे चलने लगेगी। वही वर्तमान निरीक्षक से आम नागरिक अपेक्षा कर रहे हैं की वह हकीकत में अपराधों पर अंकुश लगाने कारगर कदम उठाए। न कि नाबालिक बच्चों को सड़क छाप मजनू प्रचारित करा कर उनके भविष्य से खिलवाड़ करें।
भारत पाक मैच पर हर बाल पर लगते दाव..!
दमोह नगर तथा आसपास के क्षेत्रों में क्रिकेट के सट्टे का बुखार सर चढ़कर बालने के हालात किसी से छिपे नहीं है।आईपीएल 20/20 मैचों के दौरान नगर के अनेक युवाओं के लाखों के कर्ज में डूब कर बरबाद हो जाने यहां तक की कुछ युवाओं को आत्मघाती कदम उठाने जैसे हालात से आज भी उनके परिजन उबर नहीं पाए है। वही पिछले दिनों देहात थाना क्षेत्र में मिली एक युवक की अधजली लाश के क्राईम का क्लू भी एक नामी गिरामी क्रिकेट सटोरये के ईदगिर्द घूमने की चर्चाए शहर में खुलेआम होती रही थी। वहीं आज होने वाले भारत पाक मैच की हर बाल पर हजारों लाखों के दाव लगने की चर्चाए भी सरगर्म है। ऐसे में कोतवाली पुलिस के हाथ क्या आज होने वाले मैच के सटोरयों के गिरवान तक पहुच पाएगे अथवा नहीं इसको लेकर फिलहाल इंतजार है।

Post a Comment

0 Comments