Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

केंद्रीय मंत्री की मौजूदगी में तेंदूखेड़ा नगरपालिका भवन का लोकार्पण.. इधर खस्ता हाल हाईवे को लेकर कांग्रेस परिवहन प्रकोष्ठ द्वारा नोहटा पुल पर प्रदर्शन.. जबलपुर हाईकोर्ट ने अवैध होर्डिंग मामले में.. नगरीय प्रशासन, कलेक्टर व नगर पालिका को नोटिस जारी किए..

 नवनिर्वाचित प्रतिनिधियों ने किया पदभार ग्रहण..
दमोह। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी और प्रदेश के मुख्यमंत्री जी की जन हितेषी योजनाओं का पात्र व्यक्तियों को लाभ मिले इस दिशा में दृढ़ता से काम करना है। सरकार की योजनाओं की दिन प्रतिदिन समीक्षा करनी चाहिए और जरूरतमंद को योजना का लाभ मिले सुनिश्चित किया जाए। इस आशय के उदगार केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग एवं जलशक्ति राज्यमंत्री श्री प्रहलाद सिंह पटेल ने तेन्दूखेड़ा में नवनिर्मित नगरपालिका परिषद के भवन के लोकार्पण उपरांत आयोजित पदभार तथा शपथ ग्रहण के गरिमामय समारोह को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किये। उन्होंने कहा जनप्रतिनिधि अधिकारियों के साथ शहर की गलियों में घूमे और निरीक्षण कर रणनीति बनाकर काम किया जाए।

श्री पटेल ने कहा शुरुआत से ही कड़े फैसले लेने होंगे सड़कों पर जानवर न रहें गौशाला बनाएं इसमें ऐसे मवेशियों को शिफ्ट किया जाए जब पशु लेने पशुपालक आने पर ऐसे व्यक्तियों से जुर्माना वसूल किया जाए। उन्होंने सामाजिक जागरण के संबंध में चर्चा करते हुए साफ तौर पर कहा कि हम सबको नगर को साफ सुथरा रखने सहभागिता निभानी होगी। केंद्रीय राज्य मंत्री श्री पटेल परिषद ने नवनिर्वाचित पदाधिकारियों को शुभकामनाएं देते हुए समाज का सहयोग करते हुए बेहतर काम करने का आह्वान किया। 

श्री पटेल ने कहा जो परिषद जीतकर आई है पूरी इमानदारी और परिश्रम के साथ यह विजय हासिल की है। उन्होंने शपथ ली है वे शपथ को बार.बार पढ़ें। उन्होंने कहा जब व्यक्ति शपथ लेता है तो कहते है मैं किसी के साथ पक्षपात नहीं करूंगा। यह ताकत परिषद के पास होना चाहिए यदि आपका कोई विरोधी भी आए और यदि आपको लगता है या काम सही है तो वह काम होना चाहिए। जो व्यक्ति पंक्ति में सबसे पीछे रह गया है उसको बराबर पर लाकर खड़ा करना है।   

विधायक धर्मेंद्र सिंह लोधी ने कहा अध्यक्ष पद पर हमने सफलता प्राप्त की है निश्चित रूप से यह बहुत बड़ी सफलता है आने वाले समय में जिस प्रकार से आप सभी लोगों ने भारतीय जनता पार्टी में अपना विश्वास दिखाया है उस नाते हम सबका दायित्व और कर्तव्य इस नगर के विकास के लिए और बढ़ जाता है। उन्होंने मंच के माध्यम से जनता को बहुत.बहुत धन्यवाद करते हुये कहा जो सहयोग आप सभी ने दिया है उसके लिए आप सभी का वंदन.अभिनंदन है। यहां के विकास के लिए जितना अच्छा होगा हम सभी लोग मिलकर काम करेंगे। उन्होंने कहा घर.घर गली.गली जाकर देखा गया है कि यहां पर बहुत.सी समस्याएं हैं उन समस्याओं को हल करने का दायित्व हम सभी का है। आप सब की समस्याओं के निदान के लिए और नगर के विकास के लिए हम काम करेंगे आप सभी का स्नेह और आशीर्वाद ऐसे ही हमें मिलता रहे।

 इस अवसर पर पूर्व मंत्री दशरथ सिंह लोधी नवनिर्वाचित नगर पालिका अध्यक्ष सुरेश जैन उपाध्यक्ष लक्ष्मी प्रसाद नामदेव कलेक्टर एस कृष्ण चैतन्य पुलिस अधीक्षक डी तेनीवार एसडीएम अविनाश रावत निज सचिव राजकुमार सिंह सांसद प्रतिनिधि रूपेश सेन सतीश तिवारी विक्रांत गुप्ता विनोद राय तुलाराम यादव भरत सिंह गोविंद यादव मूरत सिंह मुख्य नगरपालिका अधिकारी भैयालाल सिंह सहित जनप्रतिनिधि गणमान्य नागरिक अधिकारी.कर्मचारी मौजूद रहे। परिषद के पदाधिकारियों को एसडीएम अविनाश रावत ने शपथ दिलाई। कार्यक्रम के प्रारंभ में मुख्य नगरपालिका अधिकारी ने प्रतिवेदन प्रस्तुत किया और आभार प्रदर्शन नगरपालिका अध्यक्ष ने किया।

 कांग्रेस परिवहन प्रकोष्ठ द्वारा नोहटा पुल पर धरना प्रदर्शन

 दमोह- जबलपुर मार्ग की हालत इतनी खराब हो चुकी है कि दमोह से गुवरा तक ऐसा कोई भी स्थान नहीं है। जहां पर सड़क में गड्ढे ना हो और नोहटा पुल के समीप तो स्थिति इतनी भयावह है कि उन गड्ढों में गिरकर कभी भी कोई भी बड़ा हादसा व्यारमा  नदी में हो सकता है और इसके लिए पूर्णरूपेण एमपीआरडीसी एवं शासन प्रशासन होगा ।यह बात कांग्रेस परिवहन प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष प्रजू यशोधरन द्वारा नोहटा पुल पर सड़कों के सुधार कार्य हेतु किए गए धरना प्रदर्शन को संबोधित करते हुए कहे। उन्होंने कहा कि हमारे प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री को मध्य प्रदेश की सड़कें वाशिंगटन की सड़कों से अच्छी नजर आती हैं।  इसलिए उनको प्रदेश की सड़कें वॉशिंगटन की सड़कों से अच्छी नजर आती हैं । मुख्यमंत्री जी आप यहां आकर जमीनी स्तर पर देखें कि हमारे दमोह जिले की प्रमुख सड़कों की हालत क्या है। ऐसी कोई सड़क नहीं है जहां गड्ढों के अलावा और भी कुछ हो। पर आए दिन हो रही दुर्घटनाओं के चलते जहां अनेक वाहन चालक काल के गाल में समा चुके हैं। वहीं आए दिन लोगों को दुर्घटना का शिकार होना पड़ता है।
    इस अवसर पर क्षेत्र के पूर्व विधायक प्रताप सिंह लोधी ने भी संबोधित करते हुए कहां कि यदि शीघ्र ही इन सड़कों का सुधार का नहीं किया गया तो दमोह से सिग्रामपुर तक जगह-जगह आंदोलन में प्रदर्शन किया जाएगा। सभा को गोविंद तिवारी नीरज जयसवाल सहित अनेक पदाधिकारियों ने संबोधित किया। इसके पूर्व प्रकोष्ठ के पदाधिकारियों एवं ग्राम वासियों द्वारा इन गड्ढों के विरोध में धरना दिया गया और नारेबाजी की गई तथा दोनों ओर से आने वाले वाहनों को भी रोक कर चक्का जाम किया। धरना प्रदर्शन को अनेक वक्ताओं ने संबोधित करते हुए इन सड़कों और गड्ढों के शीघ्र सुधार की मांग की अन्यथा अनिश्चितकालीन धरना देने की बात कही गई। 
धरना प्रदर्शन के उपरांत नोहटा नायब तहसीलदार नीतू बागरी को कलेक्टर के नाम संबोधित एक ज्ञापन सौंपा गया जिसमें शीघ्र ही इन सड़कों के सुधार का ना होने की दशा में अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन किए जाने की बात कही गई। धरना प्रदर्शन में प्रमुख रूप से कांग्रेस परिवहन प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष प्रजु यशोधरन, संतोष रजक, तेजी यादव, दीपक यादव, संदीप यादव, मान सिंह लोधी, कांग्रेस परिवहन प्रकोष्ठ के प्रदेश सचिव पं सतीश दुबे, अमित जैन, आशीष जैन, रम्मू पटैल, लक्ष्मी पटैल, शेख अमान, लक्ष्मी पटैल, कमलेश पटैल, राजकुमार पटेल, आरिफ गुड्डू खान, शाहिद खान, अनिल रैकवार, माधव सिंह, राजेश साहू, राम , हीरा, ओंकार आदि सहित अनेक सदस्य एवं पदाधिकारियों की उपस्थिति रही।

दमोह शहर में  क्यों नहीं हटाए अवैध होर्डिंग.. हाईकोर्ट
 जबलपुर/ दमोह ! दमोह शहर में अवैध होर्डिंग की भरमार को लेकर दायर जनहित याचिका पर उच्च न्यायालय ने प्रदेश के नगरीय प्रशासन विभाग, कलेक्टर दमोह, मुख्य नगरपालिका अधिकारी दमोह को नोटिस जारी कर 4 सप्ताह में जवाब मांगा गया है याचिका में उठाए गए बिंदुओं को ध्यान में रखते हुए मुख्य न्यायाधीश व जस्टिस विशाल मिश्रा की खंडपीठ ने याचिका की प्रारंभिक सुनवाई के बाद नोटिस जारी किए
दमोह के पत्रकार अनुराग हजारी ने याचिका के माध्यम से न्यायालय को बताया कि दमोह शहर की सीमा व सीमावर्ती क्षेत्रों में पिछले 10 वर्षों से भी अधिक समय से कतिपय व्यक्तियों द्वारा संबंधित विभागों की सक्षम स्वीकृति के बगैर कि अवैध रूप से कब्जा कर सड़क किनारे व जहां-तहां खाली पड़ी विभिन्न विभागों लोक निर्माण विभाग, शासकीय स्कूलों ,नजूल भूमि, उद्योग विभाग की भूमि, नगर पालिका के अधिकार क्षेत्र वाली भूमि पर  होर्डिंग / लगाए जाते हैं इतना ही नहीं शहर के पेड़ों और विद्युत सप्लाई करने वाले खंभों पर भी बड़ी संख्या में लगाए जाने का कृत्य नगर पालिका व नजूल विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों / कर्मचारियों की सांठगांठ के चलते लगातार जारी है इससे जहां शहर में अवैध  होर्डिंग/ फ्लेक्स की बाढ़ सी आ गई है वहीं शहर की सुंदरता भी बदरंग हो गई है 
शहर के लगभग हर चौराहे व मुख्य चौराहों के किनारे करीब 200 से होर्डिंग / फ्लेक्स समय कानून व्यवस्था को चलाते नजर आ रहे हैं संबंधित विभागों के प्रमुखों की अनदेखी व आपराधिक सांठगांठ के चलते सास की भूमियों पर पक्के लोहे के खंभे ग।ड कर अनाधिकृत कब्जा कर होर्डिंग / फ्लेक्स लगाए जा रहे हैं जिससे ना  अवैध अतिक्रमण को बढ़ावा मिल रहा है बल्कि नगर पालिका सहित शासन को प्रतिमाह लाखों रुपए की प्रत्यक्ष राजस्व हानि हो रही है याचिका में शहर की सुंदरता पर ग्रहण  बने अवैध होर्डिंग फ्लेक्सों को सख्ती से हटाने की मांग याचिका में की गई है याचिका में बताया गया कि आवेदक ने वर्ष 2019 में भी इस आशय की शिकायत कलेक्टर , सीएमओ सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारियों से लेकर मंत्रालय भोपाल तक की थी इसके बाद गत 2021 में पुनः अवैध होर्डिंग की शिकायत संबंधित अधिकारियों की थी जबकि मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय के आदेश के पालन में शासन द्वारा होर्डिंग नियम 2016 बनाए गए हैं तथा उसके बाद शासन ने सभी कलेक्टरों को सख्त हिदायत दी है की अवैध होर्डिंग पर कड़ाई से कार्रवाई की जावे लेकिन कार्रवाई नदारद रही जिसके चलते उच्च न्यायालय की शरण लेनी पड़ी
याचिकाकर्ता पत्रकार अनुराग हजारी की ओर से अधिवक्ता दिनेश उपाध्याय ने न्यायालय में बताया कि याचिकाकर्ता ने नगर पालिका दमोह एवं कलेक्टर एवं सभी अधिकारियों को 2019 से लेकर लगातार शिकायत की है किंतु कोई कार्यवाही नहीं हुई जो कि ना केवल मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय के आदेश की अवहेलना है बल्कि होर्डिंग नियम तथा मोटर व्हीकल अधिनियम के प्रावधानों का उल्लंघन है याचिका में उठाए गए बिंदुओं को ध्यान में रखते हुए माननीय मुख्य न्यायाधीश एवं विशाल मिश्रा की खंडपीठ ने मध्यप्रदेश शासन नगरी प्रशासन विभाग, कलेक्टर दमोह एवं नगर पालिका को नोटिस जारी कर 4 सप्ताह में जवाब पेश करने करने के निर्देश दिए हैं।

Post a Comment

0 Comments