Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड में हाईकोर्ट ने फिर निरस्त की मुख्य आरोपियों की जमानत.. इधर बीमा कंपनी को मृतक के परिवारजनों को पौने चवालीस लाख रू क्षतिपूर्ति देने के आदेश..एक साथ चार बड़े ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज हुई दमोह की बुंदेली भाषा की शॉर्ट फिल्म किल कोरोना...

 देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड मामले में हाईकोर्ट ने फिर निरस्त की मुख्य आरोपियों की जमानत..

दमोह। जबलपुर हाईकोर्ट ने हटा के बहुचर्चित देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड के मुख्य नामजद आरोपी चंदू सिंह,गोविंद सिंह, संदीप तोमर और भान सिंह की जमानत एक बार फिर से निरस्त कर दी दरसल आरोपियों ने तीन साल की जेल की अवधि और गवाहों की न्ययालय में साक्ष्य हो जाने एवं एक दो गवाहों द्वारा अभियुक्तों की पहचान की मामूली भूल के आधार पर जमानत की मांग की थी जिस पर म प्र उच्च न्यायालय की न्यायाधीश अंजुलि पालो की बेंच में मामले की सुनवाई हुई वहीं अप्पतिकर्ता सोमेश चौरसिया की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता अनिल खरे ने दलील दी के आरोपी राजनैतिक रसूखदार व्यक्ति हैं व जमानत के उपरांत साक्ष्य को प्रभावित करेंगें साथ ही न्यायालय को आपत्तिकर्ता द्वारा बताया गया के सुप्रीम कोर्ट द्वारा गोविंद सिंह एवं चंदू सिंह की जमानत याचिका सुप्रीम कोर्ट द्वारा खारिज की जा चुकी है साथ ही गोविंद सिंह की सभी जमानतें सुप्रीम कोर्ट ने निरस्त कर दी है वही इन आरोपियों पर हत्याकांड के मामलों में तिहरे आजीवन कारावास की सजा बोली गई है आहत सोमेश चौरसिया की ओर से हटा न्यायालय में पैरवी करने वाले अधिवक्ता मनीष नगाइच ने बताया कि मामले की गंभीरता और राजनीतिक पहुंच व आरोपियों के द्वारा सामुहिक हत्याकांड में संलिप्तता के आधार पर उच्च न्यायालय ने गंभीरता पूर्वक विचार करने के उपरांत फिलहाल किसी भी तरह से नामजद आरोपियों की ज़मानत देने से इनकार कर दिया है।

दुर्घटना दावा अधिकरण ने बीमा कंपनी को मृतक के परिवारजनों को पौने चवालीस लाख रूपया क्षतिपूर्ति राशि देने का दिया आदेश
दमोह।
 आवेदकगण जिनमें श्रीबाई धर्मेन्द्र पटैल डॉ.सतेन्द्र पटैल, निवासी कादीपुर थाना हिण्डोरिया जिला दमोह वालो के पिता जगन्नाथ पटैल घटना दिनांक 24.04.2019 को अपनी मोटर साईकिल से चुनाव का आदेश लेने हाईस्कूल हिण्डोरिया जा रहे थे हिण्डोरिया के पहले दमोह हिण्डोरिया मेन रोड पर नीले रंग के बजाज कंपनी के आटो क्रमांक एमपी 34 1053 के चालक असलम खान ने आटो को तेजगति व लापरवाही पूर्वक चलाया और जगन्नाथ पटैल की मोटर साईकिल में पीछे से टक्करमार दी जिस कारण जगन्नाथ पटैल की उपरोक्त दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी, जगन्नाथ पटैल का शासकीय अस्पताल हिण्डोरिया एवं दमोह में इलाज हुआ था और फिर 24.04.2019 को ही उनकी उपरोक्त दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी जिसकी रिपोर्ट मृतक के पुत्र धर्मेन्द्र पटैल ने थाना हिण्डोरिया में की थी जिस पर थाना हिण्डोरिया पुलिस ने आटो चालक के विरूद्व धारा ए भा.द.वि. का मामला पंजीवृद्व किया था। मृतक जगन्नाथ पटैल शासकीय स्कूल तानखेड़ी में सहायक शिक्षक के पद पर पदस्थ थें। मृतक के पुत्र धर्मेन्द्र पटैल, डॉ. सतेन्द्र पटैल एवं पत्नी श्रीमती श्री बाई पटैल ने मृतक जगन्नाथ पटैल की उपरोक्त दुर्घटना का क्षतिपूर्ति दावा श्रीमान रामसहारे राज पंचम मो.दु.दा.धि. दमोह के समक्ष प्रस्तुत किया था जिसका क्लेम प्र.क. 200/2019 है। आवेदकगण के विद्वान अधिवक्ता पी.आर.पटैल मयंक पटैल, विनोद पटैल, अनूप कुमार सेन, अलका कोष्ठी, संतोष नामदेव एडवोकेट के द्वारा प्रस्तुत क्षतिपूर्ति आवेदन पत्र स्वीकार करते हुए एवं अनावेदकगण बीमा कंपनी, ऑटो चालक एवं आटो मालिक के गवाहो द्वारा प्रस्तुत की गई साक्ष्य का बारीकी से प्रतिपरीक्षण करने के उपरांत अधिकरण ने आवेदकगण के पक्ष में 4375000 रूपया छह प्रतिशत वार्षिक ब्याज की दर से क्षतिपूर्ति राशि देने का आदेश पारित किया है।

एक साथ चार बड़े ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज हुई दमोह की बुंदेली भाषा की शॉर्ट फिल्म किल कोरोना...

हर्ष का विषय है ,कि दमोह जिले की शॉर्ट फिल्म किल कोरोना बुंदेली भाषा में ओम शिव शक्ति फिल्म्स इंटरनेशनल के बैनर तले हरीश पटेल द्वारा निर्देशित की गई थी, ये शॉर्ट फिल्म आज एक साथ चार बड़े ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज की गई है 


 हंगामा प्ले,  जी5, वीआई मूवीज और एयरटेल एक्सट्रीम जैसे ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज होने के बाद अब फिल्म जल्दी एम एक्स प्लेयर और बाकी ओटीटी प्लेटफॉर्म पर भी रिलीज होगी...कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती , ये पंक्तियां सटीक बैठती है, लगातार फल की चिंता किए बिना मेहनत करने वालों पर.  हर्ष का विषय है कि दमोह जिले की ये शॉर्ट फिल्म आज एक साथ चार बड़े ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज की गई है, , हरीश पटेल बुंदेली फिल्म इंडस्ट्रीज को लेकर बुंदेली भाषा की फिल्मों को लेकर दमोह में लगातार प्रयास कर रहे हैं,  इसी प्रयास में आज पहली सफलता ये की दमोह में कोरोना काल में लोगों को जागरूक करने के मकसद से लेकर बनी बुंदेली शॉर्ट फिल्म किल कोरोना आज ओटीटी पर रिलीज हुई है, किल कोरोना जल्दी ही अन्य ओटीटी प्लेटफॉर्म पर भी रिलीज होने जा रही है, ज्ञात हो कि हरीश ने बुंदेली फिल्मों और वेब सीरीज के निर्माण करने के मकसद से अपनी संस्था ओम शिव शक्ति फिल्म्स इंटरनेशनल का ऑफिस भी दमोह में डाला और संस्था को मुंबई वेस्टर्न फिल्म प्रोड्यूसर्स एसोसिएशन से रजिस्टर्ड भी कराया, उनके द्वारा बनाई गई  समाज को मैसेज देने वाली कई फिल्मों ने कई फिल्म फेस्टिवल में ख्याति बटोरी और अब ओटीटी पर अपनी सफलता के परचम लहराने जा रही हैं..

इसके साथ ही साथ हरीश पटेल मुंबई बॉलीवुड में भी बतौर सिनेमैटोग्राफर सक्रिय हैं और कई बड़ी फिल्मों और वेब सीरीज में सिनेमैटोग्राफी कर रहे हैं, उन्होंने सभी दमोह वासियों से ओटीटी पर फिल्म देखने की गुजारिश की और साथ ही अपनी रेटिंग देने के लिए भी कहा दमोह जिले के लिए गौरव की बात है , दमोह शहर से बुंदेली भाषा की शॉर्ट फिल्म का ओटीटी पर रिलीज होना आगे के भविष्य के लिए आशान्वित करता है , कि कई और फिल्में ओटीटी पर जाकर अपनी ख्याति बटोरेंगी जिससे दमोह शहर का नाम रोशन होगा..

Post a Comment

0 Comments