Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

लोकायुक्त टीम ने बिजली विभाग के सहायक अभियंता को 80 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा.. सागर लोकायुक्त टीम की छतरपुर में कार्यवाही

 सागर लोकायुक्त टीम की छतरपुर में कार्यवाही

सागर लोकायुक्त की टीम में तीसरे सावन सोमवार को छतरपुर पहुंचकर ट्रैक कार्यवाही करते हुए बिजली विभाग के एक सहायक अभियंता को 80 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ने के बाद में भ्रष्टाचार अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत कार्रवाई की है।
मामले में छतरपुर के बजरंग नगर निवासी शैलेन्द्र रैकवार मैं सागर लोकायुक्त एसपी को लिखित आवेदन देकर शिकायत की थी कि उसकी दो ना फैक्ट्री के बिजली चोरी का प्रकरण नहीं बनाने वह बिजली का अस्थाई मीटर लगवाने के एवज में सहायक अभियंता रिंकू मीणा के द्वारा ₹80000 के रिश्वत की मांग की जा रही है जिसके बाद लोकायुक्त टीम ने जाल बिछाते हुए अगस्त के पहले दिन कार्रवाई को अंजाम तक पहुंचाया।

मध्य प्रदेश विद्युत वितरण कंपनी के छतरपुर कार्यालय में लोकायुक्त डीएसपी राजेश खेड़े के नेतृत्व में पहुंची टीम ने कार्यवाही करते हुए शैलेंद्र रैकवार से ₹80000 की रिश्वत लेते हुए सहायक अभियंता रिंकू मैना, टेस्टिंग सहायक प्रवीण तिवारी एवं लाईन परिचालक घनश्यामदास दुबे को आरोपी बनाया है। इन सभी के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत कार्यवाही जारी है। कार्रवाई करने वाली लोकायुक्त टीम में उपुअ राजेश खेड़े, निरीक्षक के पी एस बेन, निरीक्षक एवं विपुस्था स्टाफ शामिल रहा इधर बिजली विभाग के कार्यालय में लोकायुक्त की कार्रवाई की खबर से हड़कंप के हालात बने रहे तथा चर्चाओं का बाजार सरग रहा।

Post a Comment

0 Comments