Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

विद्युत उपकेंद्र में ड्यूटी के दौरान आपरेटर सौरभ व्यास की करंट से दुखद मौत.. बाढ़ के दौरान नाले में बहे बुजुर्ग का शव 2 किलोमीटर दूर मिला.. मंत्री राहुल सिंह बारिश प्रभावित क्षेत्रों का जायजा लिया, ग्रामीणों की समस्याओं के निराकरण निर्देश दिए..

 बिजली कर्मी सौरभ व्यास की करंट लगने से दुखद मौत..

दमोह। जिले भर में 3 दिनों तक जारी रही अतिवृष्टि भरी वर्षा के हालात के दौरान अनेक ग्रामीण क्षेत्रों में जान जोखिम में डालकर बिजली विभाग के आउटसोर्स कर्मचारी विद्युत आपूर्ति को सुचारू बनाने के लिए दिन रात मेहनत करते हुए नजर आए हैं जबकि उनके पास कंपनी की ओर से आवश्यक संसाधनों को अभाव साफ तौर पर देखा जा सकता है। ऐसे ही कुछ हालातों के बीच गैसाबाद विद्युत केंद्र में पदस्थ विद्युत विभाग के आउट सोर्स ऑपरेटर सौरभ व्यास की मंगलवार को करंट लग जाने से दुखद दर्दनाक मौत हो जाने का झकझोर देने वाला घटनाक्रम सामने आया है। 
बताया जा रहा है कि मडियादो निवासी 24 वर्षीय सौरभ व्यास विद्युत वितरण कंपनी में आउट सोर्स कर्मचारी के तौर पर गैसाबाद विद्युत केंद्र में ऑपरेटर के पद पर पदस्थ था। वहीं तीन दिन के अतिवृष्टि भरे हालात में गैसाबाद विद्युत केंद्र परिसर भी बारिश के पानी से जलमग्न बना हुआ था ऐसे में क्षेत्र के लोगों की विद्युत आपूर्ति समस्या के मैदान में लगातार जुटे सौरभ को सुबह 9:00 बजे करीब अचानक तेज करंट लगा जिसके बाद वह दोबारा नहीं उठ सका। घटना के बाद उसे स्थानीय डाक्टरों को दिखाया गया और फिर हटा अस्पताल रेफर किया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।
सौरभ की मौत की बजह भले ही करंट लगना हो लेकिन हालातों के लिए कहीं ना कहीं विद्युत वितरण कंपनी और आउट सोर्स एजेंसी को जिम्मेदार ठहराने से लोग नहीं चूक रहे हैं जानकारों का कहना है कि विद्युत विभाग के आउटसोर्स कर्मचारियों के लिए जहां हमेशा इमरजेंसी ड्यूटी के लिए जहां तत्परता दिखाना पड़ती है वही उनकी सुरक्षा के लिए हाथों में पहनने के लिए दस्ताने पैरों में पहनने के लिए जूते सहित अन्य सुरक्षा उपकरण उपलब्ध नहीं कराने एजेंसी द्वारा ध्यान नहीं दिया जाता। जिससे जान जोखिम में डालकर बारिश के दिनों में बिजली कर्मचारी कार्य करने को मजबूर रहे हैं।
उल्लेखनीय है कि 3 दिन की अतिवृष्टि के दौरान हटा क्षेत्र के अनेक गांव में बाढ़ जैसे हालात बने रहने के बावजूद बिजली विभाग के कर्मचारियों द्वारा जान जोखिम में डालकर कार्य करने की तस्वीरें सोशल मीडिया पर सामने आई थी जिसको लेकर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री ने भी कमेंट करते हुए सराहना की थी लेकिन आज इस दुखद घटना क्रम ने सभी को झकझोर कर रख दिया है। सौरभ व्यास की दुखद मृत्यु मामले में परिजनों को तत्काल बड़ी सहायता राशि के साथ अन्य आउटसोर्स कर्मचारियों को सुरक्षा उपकरण इंतजाम उपलब्ध कराए जाने की अपेक्षा की जा रही है जिससे अन्य कोई कर्मचारी बारिश के दिनों में या अन्य दिनों में किसी प्रकार की दुर्घटना का शिकार नहीं हो सके।

बाढ़ के दौरान नाले में बहे बुजुर्ग का शव मिला.. 

 दमोह। जिले में 3 दिन तक लगातार जारी नहीं अतिवृष्टि के दौरान सभी नदी नाले उफान पर रहने से जनजीवन अस्त व्यस्त बना रहा वही मडियादो थाना अंतर्गत पाली ग्राम के नाली में आई बाढ़ के दौरान बह गए बुजुर्ग का शव 2 किलोमीटर दूर दूसरे दिन बरामद होने की जानकारी सामने आई है।

बताया जा रहा है कि पाली ग्राम में नाले में आई बाढ़ के पानी के साथ बुजुर्ग बंधु यादव 62 वर्ष बहते चले गए थे। जिनका का शव करीब 2 किलोमीटर दूर बरामद किया गया। शव की तलाश में प्रबंधन टीम द्वारा लगातार प्रयास किए जा रहे थे वही रेस्क्यू के बाद शव मिलने पर मडियादो पुलिस को अग्रिम कार्यवाही हेतु शव सौंप दिया गया है।
 
मंत्री राहुल सिंह बारिश प्रभावित क्षेत्रों में जायजा लिया
 दमोह। अधिक वर्षा, पानी भराव, तेज आंधी-तूफान के कारण हमारी विधानसभा क्षेत्र दमोह के अंतर्गत आने वाले सभी नदी, नाले उफान पर हैं। जिससे आम जनमानस को कई समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। खबर मिलते ही आज सुबह-सुबह कैबिनेट मंत्री श्री राहुल सिंह द्वारा ग्राम पंचायत तेजगढ़ खुर्द जाना हुआ। तेजगढ़ और बहेरा 2 गांव सम्मिलित हैं और तेजगढ़ से बहेरा के रास्ते में एक छोटा पुल है! जिस पर से बहेरा के लोग तेजगढ़ होते हुए दमोह के लिए आवागमन पाते है। समस्या तब बन जाती है जब बरसात में पुलिया के ऊपर 10 फ़ीट ऊचाई तक पानी बहता रहता है, आवागमन पूर्णता वर्जित हो जाता है जिससे बहेरा के लोगों को पगडंडी के सहारे घूम-कर बालाकोट के रास्ते दमोह आना पड़ता है। आज सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया कलेक्टर को अवगत कराया व समस्या का स्थाई निराकरण करने हेतु निर्देश दिए।
ग्राम पंचायत बांसा में भी इसी प्रकार की स्थिति बनी हुई है कोपरा नदी का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है, जिस कारण से ग्राम पंचायत इमलिया लांझी और धनगौर हेतु आवागमन मार्ग बंद है। माननीय मंत्री जी ने इमलिया लांझी और धनगौर में अपने लोगों व कार्यकर्ताओ से मोबाइल फोन के माध्यम से बात की और यथा स्थिति का जायजा लेते हुए राशन, किराने की समस्या ना बन पाए इसके लिए समय-समय पर मोबाइल से कनेक्टिविटी बनाये रखने की सलाह दी। आश्वासन देते हुए कहा कि चौबीसों घंटे पूरी स्थिति का जायजा ले रहा हूं। अगर कहीं कोई भी समस्या आती भी है तो तत्काल उसका निराकरण करवाने की जिम्मेदारी मेरी है, आप चिंता ना करें, अपना और अपने लोगों का ध्यान रखें। घबराने की कोई जरूरत नहीं है स्थिति कंट्रोल में है। रात्रि में तेज आंधी-तूफान चलने के कारण, लाइने और खंभे क्षतिग्रस्त हो चुके हैं जिनका भी सुधार कार्य चालू है, बहुत जल्द लाइन चालू  हो जावेगी।
बांसा में जनपद उपाध्यक्ष प्रतिनिधि श्री दीपक सिंह परिहार जी, श्री शेरू सिंह परिहार जी, श्री शैलेंद्र तिवारी जी, श्री अमित जैन जी व पार्टी के कार्यकर्ताओं की उपस्थिति रही। साथ में जनपद अध्यक्ष प्रतिनिधि श्री राजू ठाकुर जी, श्री देवी सहाय चौबे जी, श्री अभिषेक जैन जी, दमोह तहसीलदार श्री विकास अग्रवाल जी व संबंधित क्षेत्र के पटवारियों की उपस्थिति रही।

Post a Comment

0 Comments