Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

लापता युवक का 20 दिन बाद कंकाल मिलने के मामले में.. एसपी ने किया बड़ा खुलासा.. करेंट लगने से हुई थी जहीर की मौत..मछली मारने फैलाए गए करेंट सेहुई थी मौत

 मछली मारने फैलाए गए करेंट सेहुई थी मौत 

दमोह। जिले के तेजगढ़ थाना अंतर्गत 20 दिन से लापता युवक का कंकाल मिलने से सनसनी के हालात निर्मित हो गए थे वहीं परिजनों ने दोस्तो पर हत्या किए जाने के आरोप लगाते हुए सड़क पर चक्का जाम करके देख कर प्रदर्शन किया था मामले की जांच के बाद यह तथ्य सामने आए हैं कि करंट लगने से युवक की मौत हुई थी तथा उसके साथियों ने मौत का राज छुपाने के लिए शव गड्ढे में फेंक दिया था। 

पुलिस जांच के दौरान पूरे मामले का खुलासा होने पर एसपी डीआर तेनिवार ने प्रेस कांफ्रेंस में पूरे घटनक्रम की जानकारी देते हुए पुलिस द्वारा आरोपियों को गिरफ्तार किए जाने तथा कार्यवाही के संदर्भ में  जानकारी दी। थाना तेजगढ़ क्षेत्रांतर्गत ग्राम सुनवाही के 05 युवक  गोलू अहिरवार, बृजेश अहिरवार,  सीताराम अहिरवार, विजय अहिरवार, जहीर उर्फ शहनबाज 12 जून को मछली मारने पुरेवा तालाब गये थे। वहां पर बिजली के करंट से मछली मारने के लिये तार लगाया गया था।  रात्रि में जहीर उर्फ शहनवाज जब मछलियों को देखने निकला तो उसे करंट लग गया। जिससे  उसकी बिजली करंट से मृत्यु हो गई तो मृतक जहीर उर्फ शहनबाज के साथी गोलू अहिरवार, सीताराम अहिरवार, विजय अहिरवार, बृजेश अहिरवार ने उठाकर शव को छिपाने व साक्ष्य मिटाने की दृष्टि से मृतक जहीर का शव पुरेवा तालाब से 01 कि.मी. दूर जंगल में गड्डे में फेंककर आ गये और इस घटना को किसी को नहीं बताया।

इधर जहीर के घर नहीं पहुंचने पर परेशान होकर परिजनों ने थाना तेजगढ़ में रिपोर्ट की जिस पर  गुम इंसान कमांक 28/22 कायम कर जांच में लिया गया। जांच दौरान मृतक के साथियों से पूछताछ की गई कोई जानकारी प्राप्त नहीं हुई। इसी दौरान मृतक के परिजनो द्वारा निरंतर शक मछली मारने गये साथियों पर ही बताया एवं लिखित में शिकायत भी की गई। जिस पर सीताराम एवं गोलू अहिरवार से बारीकी से पूछताछ की गई तो इन्होने पूरी घटना स्वीकार की एवं बताया कि बिजली के करंट से भाईजान जहीर की मौत हुई है और हम चारों ने जहीर का शव जंगल में इस आशय से फेंका की उसे जंगली जानवर खा जायेगें और हम पकड़ में नहीं आयेगें। और वास्तव में जहीर का शव क्षत विक्षित हो गया शायद जानवरों ने खाया घटना स्थल पर मात्र कंकाल च मृतक जहीर के कपडे मिले।
गोलू अहिरवार व कानून विवादित बालक की निशानदेही से मृतक जहीर उर्फ शहनवाज का शव फेंकने का स्थान की शिनाख्त की मछली मारने दौरान करंट लगने का घटना स्थल देखा गया। इधर मृतक जहीर के शव को पोस्टमार्टम हेतु भेजे जाने पर परिजनों द्वारा हत्या का मामला दर्ज करके कार्रवाई की मांग को लेकर चक्काजाम प्रदर्शन किया गया। मामले में पुलिस द्वारा चारों आरोपियों पर धारा 304 ए के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है हाई कोर्ट में पेश किए जाने पर चारों आरोपियों को जेल भेज दिया गया है।

Post a Comment

0 Comments