Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

जैन श्रमण संस्कृति संस्कार शिक्षण शिविर पुरूस्कार वितरण से संपंन.. इधर चंद्रप्रभु मंदिर झलोन में आठ दिवसीय शिविर का समापन..

विधायक अजय टंडन ने प्रतियोगियों को पुरूस्कार बांटे

  दमोह। नगर की जैन धर्मशाला में चल रहे श्रमण संस्कृति संस्कार शिक्षण शिविर की समस्त प्रतियोगिताओं के परिणाम आज घोषित किए गए। कार्यक्रम की शुरुआत श्री जी के अभिषेक पूजन व शांति धारा से हुई तत्पश्चात बालिका मंडल द्वारा नृत्य के माध्यम से सामूहिक मंगलाचरण किया गया..

डॉ प्रदीप जैन द्वारा शिविर को लेकर अपने अनुभव सुनाए गए। उन्होंने कहा यह शिविर अपने आप में एक अद्भुत आयोजन हुआ है इस शिविर में हमें किसी से कहना नहीं पड़ा और लोगों ने अधिक से अधिक संख्या में अपनी भागीदारी सुनिश्चित की हम कोशिश करेंगे कि समय-समय पर ऐसे आयोजन होते रहे इस अवसर पर ब्रह्मचारिणी पुष्पा दीदी ने कहा ऐसे शिविर लोक चेतना का सशक्त माध्यम हुआ करते हैं इससे केवल जैन धर्म की प्रभावना नहीं हुई अपितु लौकिक जीवन के उपयोग में आने वाले विभिन्न विषयों पर भी गहन चर्चा इस शिविर के माध्यम से हुई है

mata ji

आर्यका मृदु मति माताजी ने कहा दमोह नगर कि जैन समाज ने इस शिविर के माध्यम से अपनी एकता का परिचय दिया है इस शिविर के माध्यम से हमने अपने बच्चों में ऐसे संस्कारों को जागृत किया है जो भविष्य में उनके बहुत काम आने वाले हैं आज शिविर के मुख्य अतिथि के रूप में दमोह के विधायक अजय टंडन का भी आगमन हुआ उन्होंने इस अवसर पर कहा ऐसे कार्यक्रमों के माध्यम से हम अपने बच्चों में एक नई ऊर्जा का संचरण करते हैं ऐसे कार्यक्रम भविष्य की बुनियाद के लिए बहुत आवश्यक है सांसद प्रतिनिधि नरेंद्र बजाज भी इस अवसर पर पूरे समय उपस्थित रहे उन्होंने प्रतियोगियों को पुरस्कार भी वितरित किए

shivir

  संचालन संजीव शाकाहारी एवं मानव बजाज ने किया इस अवसर पर मानव बजाज ने अपने विचार व्यक्त किए और शिविर को लेकर अपने अनुभव भी व्यक्त किए इस पूरे आयोजन में जैन पंचायत के अध्यक्ष सुधीर जैन वेलकम महामंत्री रूप चंद जैन शिविर के संयोजक विजय डायमंड मनीष जैन आउटलुक संजीव शाकाहारी राकेश पलंदी विनय जैन संजय डबुल्या रजनीश जैन महेंद्र चंदेरिया संदीप सीतेष जैन जितेंद्र जैन नीरज जैन सहारा धीरज जैन सहारा शिवांगी जैन सृष्टि जैन अमृता जैन प्रीति जैन प्रीति बड़कुल नरेंद्र जैन सब्लू लालू जैन बरतन बंटू गांगरा आशीष शाह  सहित अनेक लोगों का सक्रिय योगदान रहा।

 

चंद्रप्रभु मंदिर झलोन में आठ दिवसीय शिविर का समापन
दमोह। श्रमण संस्कृति संस्कार शिविर का पुरस्कार वितरण समारोह के साथ आज समापन हो गया। बच्चों ने धार्मिक कविता पाठ एवं भजनों की अंताक्षरी से भक्ति रस में सब को डुबो दिया। सकल दिगंबर जैन समाज ने पुरस्कार वितरण किया सर्वप्रथम भाग-1 बालबोध में कृतार्थ एकता प्रियांशी प्रथम द्वितीय तृतीय रही। भाग-2 एवं गोमटेश स्तुति विभाग में श्रेयांश आदीश  प्रथम अर्ची अंतश प्रिंसी द्वितीय आर्या और प्रथम तृतीय रहे आगम काव्या आयुषी आदर्श (नयन)मीठी आदि ने विशेष अंक प्राप्त किए। प्रश्नोत्तर रत्न मालिका ग्रंथ के शिविर में श्रीमती काजल मानसी प्रथम रही तथा श्रीमती राजुल एवं  कुमारी पूर्वी द्वितीय एवं तृतीय खुशी रही। पल्लवी अदिति निधि विनीता एवं कुमारी रानू विधि मिनी ने विशेषता प्राप्त की। बाकी सम्मिलित हुए शिविर में सभी शिवरार्थियो  को सांत्वना पुरस्कार प्रदान किए गए।

muni shri

पुरस्कार वितरण समारोह में मुनि श्री सुदत्त सागर महाराज ने कहा नैतिक धार्मिक और आध्यात्मिक मूल्यों की स्थापना धर्म और दर्शन के बिना नामुमकिन है यदि हमें संस्कारवान प्रबंध पीढ़ी तैयार करना है तो बाल युवा वर्ग को धर्म दर्शन का ज्ञान कराना होगा। पाठशाला सिविल स्वाध्याय गोष्ठी धार्मिक कार्यक्रम इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। क्षुल्लक  चंद्रदत्त सागर ने कहा कितना खाया यह महत्वपूर्ण नहीं कितना पचाया यह महत्वपूर्ण है कितना पढ़ा यह महत्वपूर्ण के साथ कितना आचरण में उतारा ही महत्वपूर्ण है जो आपने आत्म कल्याणर्थ शिविर में देव दर्शन स्वाध्याय का पूजन अभिषेक जाप आदि का संकल्प लिया है व जमीकंद अभक्ष्य भक्षण रात्रि भोजन ब्रेड बिस्कुट फास्ट फूड केक पेस्ट्री आदि बाजार की अशुद्ध वस्तुओं को त्याग किया है वह आपका धन समय बचाएगी व स्वास्थ्य ठीक करेंगे। समापन समारोह में जितेंद्र शास्त्री का शिविर में विशेष योगदान व शिक्षण कराने का सम्मान किया गया श्रमण  संस्कृति संस्थान की रजत जयंती पर आयोजित शिविर एक इतिहास के पन्नों पर अंकित होगा देश में 700 स्थानों पर शिविर लग रहे हैं संस्थान में अब तक 700 छात्र शास्त्री की उपाधि प्राप्त कर संस्कृति जैन दर्शन की संस्कृत प्राकृत की शिक्षा प्राप्त कर चुके हैं

 

 

 

Post a Comment

0 Comments