Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

मासूम से दुष्कर्म के आरोपी.. दस हजार के इनामी बदमाश को.. पुलिस ने कोर्ट में पेश किया, भेजा गया जेल.. SP ने पत्रकारों को दी जानकारी.. ग्रामीणों की मदद से जंगल में पकड़ा गया आरोपी

 दमोह। जिले के जबेरा क्षेत्र में एक 10 साल की मासूम बालिका रात में सोते समय अगवा करके दुराचार किए जाने के मामले में पुलिस द्वारा आरोपी की पतासाजी करने के साथ उसकी अवैध कब्जों कूपन हटाने की कार्यवाही की थी वही रात में गिरफ्तारी के बाद उसे आज कोर्ट में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया है।


इस पूरे प्रकरण को लेकर मीडिया को जानकारी देने के लिए शनिवार शाम पुलिस कंट्रोल रूम में प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया। जिसमें एसपी डीआर तेनीवार ने मामले के सभी पहलुओं का खुलासा करते हुए बताया कि किस तरह से आरोपी की पहले पहचान की गई उसके बाद जंगल में सर्चिंग के दौरान उसे हिरासत में लिया गया।

वही उसके पुराने रिकॉर्ड और केसों के साथ शासकीय भूमि पर अवैध कब्जा पाए जाने पर उसे भी हटाए जाने की कार्यवाही की गई। एसपी द्वारा प्रकरण गंभीरता को ध्यान में रखकर आरोपी की तलाश व सूचना पर 10 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया था। आरोपी हल्लन उर्फ हनुमत पिता बोटा अहिरवार उम्र 28 वर्ष निवासी ग्राम बिछिया थाना जबेरा वारदात के बाद विजय सागर के पास जंगल में पहाड़ी पर छुप गया था।

पुलिस द्वारा इस क्षेत्र में लगातार सर्चिंग किए जाने से उसे भागने का मौका नहीं मिला। वही 25 मार्च की शाम प्यास लगने पर ऐसे ही तालाब के पास पानी पीने के लिए पहुंचा तो ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने उसे हिरासत में लेने में देर नहीं की।पुलिस पूछताछ के दौरान उसने अपना जुर्म स्वीकार करते हुए बताया कि रात करीब 3:00 बजे वह मासूम को उठाकर मनोरंजन ग्रह के पीछे ले गया था जहां उसने उसके साथ गलत कार्य किया और फिर वह भाग गया। आरोपी को आज जिला कोर्ट में पेश किए जाने पर जेल भेज दिया गया है।

Sp

संपूर्ण प्रकरण व घटना की मॉनिटरिंग डीआईजी सागर विवेक राज सिंह एवं एसपी दमोह डीआर तेनीवार द्वारा की गई। आरोपी की पहचान पतारसी, जंगल सर्चिंग, घेराबंदी, दस्तयाबी एवं प्रकरण की विवेचना में एएसपी शिव कुमार सिंह, एसडीओपी तेंदूखेड़ा अशोक चौरसिया, डीएसपी (महिला सुरक्षा शाखा) सुश्री भावना दांगी, जबेरा थाना प्रभारी इंद्रा सिंह ठाकुर, थाना प्रभारी विकास सिंह चौहान, ब्रजेश पांडे, श्याम वैन, चौकी प्रभारी धर्मेंद्र उपाध्याय आदि के द्वारा अपने अधीनस्थ टीम के साथ कर्मचारियों सहित सराहनीय कार्य किया है। इनको उचित इनाम से पुरस्कृत किया जाएगा।  प्रकरण के आरोपी की सर्चिंग में जनता ने की मदद की है, उसमें जनता के प्रमुख व्यक्ति को भी उचित पुरस्कार से पुरस्कृत किया जाएगा।

Post a Comment

0 Comments