Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ.. प्रदेश के अनेक मंत्री पहुचे गढ़ाकोटा रहस महोत्सव में.. मंत्री भार्गव ने किया आत्मीय स्वागत.. आचार्य श्री विद्यासागर का पटनागंज प्रवेश आज

 सागर जिले के गढ़ाकोटा में आयोजित ऐतिहासिक रहस मेले में शामिल होने केंद्रीय उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया पहुँचे.केंद्रीय मंत्री सिंधिया के साथ मप्र सरकार के केबिनेट मंत्री गोविंद राजपूत, तुलसी सिलावट,प्रभुराम चौधरी और अरविंद भदौरिया भी गढ़ाकोटा पहुँचे जहां क्षेत्रीय विधायक और PWD मंत्री गोपाल भार्गव ने सभी का स्वागत किया..

राजा मर्दनसिंह जूदेव के राज्यारोहण के उपलक्ष्य में हर वर्ष रहस मेले का आयोजन होता है.तीन दिवसीय इस मेले का आज दूसरा दिन था.कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय मंत्री ने संबोधित किया.स्वासहयता समूह की महिलाओं को हितलाभ वितरण किया.
सम्मेलन को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री सिंधिया ने कहा रहस मेला पचास-सौ साल पुराना नहीं, बल्कि 214 साल पुराना है.यह मेला नहीं, गोपाल भार्गव का रेला है. इतनी बड़ी हस्ती आपके पास है, मेरी उम्र से ज्यादा जनसेवा का इतिहास गोपाल जी के पास है. वहीं सिंधिया से पत्रकारों द्वारा ढाने हवाई अड्डे के प्रश्न पर बताया गया कि ढाना हवाई पट्टी के विकास हेतु प्रदेश सरकार के प्रस्ताव पर कार्य किया जाएगा।
आचार्य श्री विद्यासागर का पटनागंज प्रवेश आज..
 सागर / कुंडलपुर के पंचकल्याणक के बाद आचार्य श्री विद्यासागर महाराज का ससंघ बिहार पटनागंज की ओर चल रहा है। 11 मार्च को संघ की आहारचर्या छिरारी के शास. स्कूल में हुई। दोप 2 बजे आचार्य संघ का बिहार छिरारी से रहली की ओर हुआ। शाम 4 बजे आचार्य संघ रहली से 4 किलोमीटर पहले स्कूल पहुंचा जहां पर रात्रि विश्राम होगा
मुनि सेवा समिति के सदस्य मुकेश जैन ढाना ने बताया कि 12 मार्च को सुबह आचार्य संघ की आहारचर्या पटनागंज में होगी। 12 मार्च को सुबह 8 बजे सागर जिले के प्रसिद्ध जैन तीर्थक्षेत्र पटनागंज मैं प्रवेश होगा। उल्लेखनीय है पटनागंज रहली मैं आचार्य श्री के आशीर्वाद के बाद  पत्थर के मंदिर का निर्माण कार्य चल रहा है लगभग आधा मंदिर बनकर तैयार है और कार्य भी लगातार जारी है। नवनिर्मित मंदिर में वेदियों का शिलान्यास कार्यक्रम प्रस्तावित है पांच बडी मूर्तियां आ चुकी हैं उन्हें वेदियों पर विराजमान कराने का कार्यक्रम आने वाले दिनों में संभावित है।  गढ़ाकोटा से रवि सोनी की रिपोर्ट

Post a Comment

0 Comments