Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

अब न्यूरो सर्जरी दमोह के मिशन अस्पताल में उपलब्ध.. डॉ अजय लाल के निर्देशन में मिशन अस्पताल को एक और उपलब्धि हासिल की..रियायत दर पर सभी को सुविधा उपलब्ध होगी..

 दमोह जिले की प्रमुख समाज सेवी संस्था आधारशिला संस्थान (सी.आई.सी.एम.) के निर्देशक डॉ. अजय लाल के निर्देशन में स्थानीय चर्च कैम्पस में स्थित मिशन अस्पताल का संचालन किया जा रहा है। आज मिशन अस्पताल ने प्रथम न्यूरो सर्जरी करते हुए दमोह जिले में एक इतिहास रचा है..

इस तरह की सर्जरी महानगरों में ही सम्भव है पर अब मिशन अस्पताल में रियायती दर पर यह सुविधा उपलब्ध करायी जा रही है। 21 फरवरी, 2022 को मिशन अस्पताल के आधुनिकतम आप्रेशन थियेटर में डॉ. निखलेश तिवारी एम.बी.बी.एस., एम.एस. डी.एन.बी. न्यूरो सर्जन के द्वारा पटेरा जनपद के ग्राम महुआखेड़ा निवासी वृन्दावन अहिरवाल की गर्दन एवं रीढ़ की हड्डी का सफल आप्रेशन किया गया।

ऑपरेशन

आप्रेशन के बाद डॉ. तिवारी ने जानकारी देते हुए बताया कि मरीज़ को गर्दन में हड्डी के दबाब के कारण चलने-फिरने, उठने-बैठने के साथ ही पेशाब करने तक में कठिनाई का सामना करना पड़ रहा था। यहां तक कि ठंडा व गरम पानी का अहसास खत्म हो चुका था। उनके द्वारा हड्डियों को आप्रेशन कर हटा दिया गया है। अब मरीज स्वस्थ है। वहीं मरीज के भाई तुलसी अहिरवार ने बताया कि उनके बड़े भाई तीन महीने से बहुत ही कठिन जीवन जी रहे थे। इलाज के संबंध में बड़े डॉक्टरों के द्वारा बहुत बड़ी राशि की बात की जा रही थी तभी मिशन अस्पताल में उनकी बात हुई जिसके बाद बहुत ही रियायती खर्च पर सफलता पूर्वक इलाज हो सका। उनके परिवार को इस बात की खुशी है। उन्होंने डॉ. तिवारी व मिशन अस्पताल के स्टाफ के प्रति आभार व्यक्त किया। न्यूरो सर्जरी के संबंध में डॉ. तिवारी ने बताया कि सिर दर्द, गर्दन दर्द, पीठ दर्द, साइटिका, कमर दर्द, एक्सीडेन्ट, ब्रेन ट्यिमर, एल्जाईमर, बच्चों का सिर बड़ा हो जाना एवं साथ ही बच्चों का मेन्टल डेवलपमेन्ट ना होना, इस तरह के मरीजों का इलाज मिशन अस्पताल में उपलब्ध है। आपने बताया कि वो पूर्व में बैंगलोर के प्रसिद्ध बी.जी.एस. ग्लोबल ग्लेन ईगल अस्पताल में सात वर्षों तक सेवाएं दे चुके हैं। अब वे मिशन अस्पताल में अपनी सेवाएं दे रहे हैं।

Ajay

आपने मिशन अस्पताल में उपलब्ध आधुनिकतम संसाधनों की उपलब्धता के लिए डॉ. अजय लाल के प्रयासों की मुक्त कंठ से प्रशंसा की। साथ ही कहा कि मिशन अस्पताल बुंदेलखंड के साथ जिले वासियों के लिए किसी वरदान से कम नहीं। ज्ञात हो कि दूसरे कोरोना काल की वेव के समय जो कठिन दौर दमोह जिले वासियों के सामने आया उसी को दृष्टिगत रखते हुए मिशन अस्पताल के संचालक डॉ. अजय लाल ने जहां ऑक्सीजन प्लान्ट को स्थापित कराया तथा पूरी जांच व्यवस्था को दृष्टिगत रखते हुए बुंदेलखंड क्षेत्र की अत्याधुनिक सी.मेन्स लेटेस्ट 96 स्लॉइस हाई परफारमेन्स सी.टी. स्केन मशीन को स्थापित किया गया है।

Ct

रियायती दर पर 24 घंटे सी.टी. स्केन के माध्यम से जांच की जा रही है। इस मशीन के द्वारा मरीज की छाती की जांच, टूटी हुई हड्डियों की जांच, रीढ़ की हड्डी की जांच, मस्तिष्क की जांच, पेट के रोगों की जांच सूक्ष्म तरीके से की जाती है एवं सभी प्रकार की सी.टी. एन्जियोग्राफी की जाती है जिसके माध्यम से रोग की सही जानकारी की रिपोर्ट देश के विख्यात एम.डी. रेडियोलॉजिस्ट के द्वारा कुछ ही घंटों में प्राप्त हो जाती है एवं शीघ्र ही मिशन अस्पताल में इलाज अब संभव हो गया है। इसी तरह जिन मरीजों की किडनी फेल हो चुकी है, उनके लिए 04 फिजिनियेस कंपनी की डिमोडॉयलेसिस मशीनों के माध्यम से नया जीवन प्रदान करने का कार्य प्रशिक्षित टेक्नीशियन एवं अनुभवी डॉक्टर्स के द्वारा 24 घंटेउपलब्ध कराया जा रहा है। इस तरह देखा जाए तो दमोह जिले वासियों के लिए मिशन अस्पताल किसी वरदान से कम नहीं।

Post a Comment

0 Comments