Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

मुख्यमंत्री ने कुंडलपुर-बांदकपुर को पवित्र क्षेत्र घोषित करने.. आचार्यश्री विद्यासागर महाराज के समक्ष महामहोत्सव मंच से ऐलान.. बड़ेबाबा के दर्शन कर छोटे बाबा का आर्शीवद लिया..

 मुख्यमंत्री ने कुंडलपुर-बांदकपुर को पवित्र क्षेत्र घोषित

विश्व प्रसिद्ध जैन तीर्थ स्थल कुंडलपुर में बड़े बाबा मंदिर निर्माण अवसर पर चल रहे पंचकल्याणक प्रतिष्ठा महामहोत्सव के छठवे दिन मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पत्नी साधना सिंह के साथ हेलीकॉप्टर से कुंडलपुर पहुंचे। जहां उन्होंने पहाड़ी पर स्थित बड़े बाबा के मंदिर पहुंचकर पूजन अर्चन किया बाद में छोटे बाबा के दर्शन करके आशीर्वाद लिया। पंचकल्याणक प्रतिष्ठा महा महोत्सव स्थल पर पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आचार्य विद्यासागर जी महाराज के ससंघ सानिध्य एवं हजारों की भीड़ के बीच कुंडलपुर के साथ बांदकपुर को पवित्र क्षेत्र घोषित करने का ऐलान भी किया। इस अवसर पर लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव कुंडलपुर प्रभारी मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा पूर्व मंत्री जयंत मलैया एवं रामकृष्ण कुसमरिया के अलावा बड़ी संख्या में गणमान्य जनों की मौजूदगी रही..

मुनि आदि कुमार को राजा श्रेयांस एवं सोम ने आहार दिए

कुंडलपुर में चल रहे पंचकल्याणक प्रतिष्ठा महोत्सव के छठवें दिन सोमवार को ज्ञान कल्याणक पूर्व रूप महोत्सव भक्ति भाव से मनाया गया। इस अवसर पर प्रतिष्ठाचार्य ब्रा विनय भैया ने दिव्य मंत्रोच्चार पूर्वक मांगलिक क्रियाओं के द्वारा भगवान का अभिषेक शांतिधारा पूजन संपंन कराए। इसके बाद ज्ञान कल्याणक पूजन, शान्ति हवन, ज्ञान संस्कार विधि, समवशरण की रचना एवं दिव्य देशना आदि धार्मिक अनुष्ठान सम्पन्न हुए।

इसके बाद इन्द्र.इन्द्राणियों ने देव.शास्त्र.गुरू की पूजन के साथ अष्ट द्रव्यों से भगवान की पूजा.अर्चना स्मरण ध्यान कर ज्ञान कल्याणक का अर्घ्य समर्पित किया। वहीं मुनि आदिकुमार के साथ अन्य मुनिराजों की आहार चर्या की क्रियाएं संपंन कराई गई। इस अवसर पर राजा श्रेंयास एवं सोम को मुनि आदिकुमार को पड़गाहन करके इच्छू रस के रूप में प्रथम आहार का सौभाग्य प्राप्त हुआ।

मुख्यमंत्री शिवराज सपित्न महा महोत्सव मंच पर

मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पत्नी साधना सिंह के साथ हेलीकॉप्टर से कुंडलपुर पहुंचे। जहां उन्होंने पहाड़ी पर स्थित बड़े बाबा के मंदिर पहुंचकर पूजन अर्चन किया बाद में छोटे बाबा के दर्शन करके आशीर्वाद लिया। पंचकल्याणक प्रतिष्ठा महा महोत्सव स्थल पर पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि बड़े बाबा का मंदिर अदभुत कला संस्कृति का धरोहर है,यहां का दृश्य अद्भुत है स्वर्ग के बारे में सुना था देखा नहीं पर वह भी इससे ज्यादा खूबसूरत नहीं हो सकता। आचार्य श्री की प्रेरणा से इस दृश्य को देखकर धन्य हुआ हूं, मुख्यमंत्री के रूप में नहीं किंतु गुरु के शिष्य के रूप में यहां आया हूं ,सौभाग्य के सूर्य का उदय हुआ है कि यह दृश्य मैं देख पा रहा हूं। उन्होंने हजारों श्रद्धालुओं के समक्ष कुंडलपुर और बांदकपुर को पवित्र नगर घोषित किया, यहां मांस मदिरा इत्यादि सारी चीजों पर प्रतिबंध रहेगा । कुंडलपुर में पधारने के बाद अपने पहले प्रवचन में निर्यापक मुनि पुंगव श्री सुधा सागर महाराज ने कहा समाज और राष्ट्र को चेतना तभी मिल सकती है जब धर्म का सहारा लिया जाए, पशुओं के रक्षण के लिए अभयारण्य स्थापित करके ही गोवंश की रक्षा की जा सकती है, यह हमारा कर्तव्य होना चाहिए। देश में गाय का दूध जीवित रहेगा तो दुनिया जीवित रहेगी..

मुख्यमंत्री और सम्पूर्ण मण्डप को संत शिरोमणि आचार्य श्री विद्यासागर महाराज ने संदेश दिया और कहा कि भारत के निवासी बनो इंडिया के नहीं, प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य है कि वह राष्ट्र की बात करें और देश का अवमूल्यन ना होने दें। आराम को छोड़कर इतिहास पढ़ो और संस्कृति बचाने का प्रयास करो तभी इंडिया साफ हो जाएगा। कोरोना को भगाने में आयुर्वेद ही कारगर सिद्ध हुआ है, पशु पालन भारत की आभा थी जिसके माध्यम से भारत को गौरव प्राप्त हुआ। भारत में अब विद्यालय नहीं बचे अब सारे के सारे स्कूल हो गए हैं, संस्कृति की रक्षा के लिए विद्यालय, विश्वविद्यालय स्थापित किए जाने चाहिए, साथ ही मातृभाषा को जीवित रखने के लिए प्रयास किए जाना चाहिए। मर्यादा पुरुषोत्तम राम के मार्ग पर चलोगे तो कभी दुख नहीं होगा, राम इसीलिए लोकप्रिय हैं क्योंकि उन्होंने जनहित के लिए जीवन समर्पण किया।

  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, साधना सिंह के साथ पीडब्ल्यूडी मंत्री गोपाल भार्गव, मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा, कैबिनेट दर्जा प्राप्त मंत्री राहुल सिंह, पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया, पूर्वमंत्री डॉरामकृष्ण कुसमरिया, पूर्व युवा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष अभिलाष पाण्डेय, धर्मेन्द्र सिंह, पी एल तंतुवाय, लखन पटेल, भाजपा जिला अध्यक्ष प्रीतम लोधी,भी मौजूद रहे..

Post a Comment

0 Comments