Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

दबंग विधायक के क्षेत्र में नहीं लगा तेंदुए का सुराग.. ग्रामीणों में आक्रोश के बाद विधायक रामबाई व पूर्व मंत्री रामकृष्ण कुसमरिया की दो टूक..

 दमोह। दबंग विधायक श्रीमती रामबाई सिंह परिहार के क्षेत्र देवरान में तेंदुआ की दोबारा दस्तक की खबर के बाद सतना की टीम के साथ वन विभाग का अमला जहां लगातार सक्रिय बना हुआ है वही ड्रोन कैमरे की लगातार सर्चिंग के बावजूद रविवार को भी तेंदुए की लोकेशन नहीं मिल सकी..

 इधर दहशत में ग्रामीणों द्वारा चक्का जाम आदि की चेतावनी के बाद विधायक रामबाई और पूर्व मंत्री राम कृष्ण कुसमरिया गांव पहुंचे जहां उन्होंने वन विभाग और पुलिस विभाग के अधिकारियों से चर्चा करके सर्चिंग कार्रवाई पर जहां सवाल उठाए वह ग्रामीणों को भी सुरक्षा का भरोसा दिलाया। इस दौरान विधायक रामबाई यह कहती दिखी की यदि 24 घंटे में तेंदूए  को नहीं पकड़ा गया तो गांव के लोग अपनी लाइसेंसी बंदूक से मार डालेगे। इधर पूर्व मंत्री कुसमरिया ने कहा कि उनको परमिशन दे दो उन्होनें तो डकैत मारे है फिर तेंदूआ क्या चीज है..

उल्लेखनीय की पिछले चार-पांच दिनों से दमोह जिले के ग्राम देवरान, भोंरासा, बाँसा के ग्रामीण तेंदूआ की दहशत के साये में है। बुधवार को यहां तेंदुए ने कुछ लोगों को हमला करके घायल कर दिया था वहीं गुरुवार को पन्ना टाइगर रिजर्व की टीम के पहुंचने के पहले तेंदुआ के गायब हो जाने और बाद में उसकी लोकेशन करीब 25 किलो मीटर दूर खमरिया इलाके में मिलने के बाद वहां पर सर्चिंग कार्यवाही की गई थी।

लेकिन शुक्रवार को तेंदुए के यहां से जंगल में चले जाने के बाद पन्ना टाइगर की टीम वापस लौट गई थी। इधर शनिवार शाम देवरान गांव के आसपास तेंदुआ की फिर से एक झलक देखने की खबर सुनकर ग्रामीणों में दहशत का माहौल निर्मित हो गया था। जिसके बाद वन विभाग की टीम ने मोर्चा संभाल लिया था। रविवार को यहां तेंदुए को पकड़ने के लिए पिंजरे रखवा दिए गए थे। वही ड्रोन कैमरे की मदद से भी लोकेशन तलाश की जा रही थी लेकिन शाम तक का कोई सुराग नहीं लग सका।

रामवाई

इधर दहशत के साए में ग्रामीणों द्वारा चक्का जाम आदि किए जाने की चेतावनी दिए जाने पर विधायक रामबाई मौके पर पहुंची। उन्होंने वन विभाग के अधिकारियों से चर्चा की तथा उनके द्वारा की जा रही कार्रवाई पर सवाल उठाते हुए 24 घण्टे में तेंदूआ को पकड़ कर जंगल में नही छोड़ पाने पर ग्रामीणों द्वारा लाइसेंसी बंदूक से मार देने तक की चेतावनी दे डाली। क्योंकि ग्रामीणों को अपने परिवार के लोगों की जान प्यारी है पहले भी चार लोगों को तेंदुआ घायल कर चुका है।

इस दौरान पूर्व मंत्री रामकृष्ण कुसमरिया, युवा मोर्चा के प्रदेश मंत्री राम पटेल, एसडीओ वन धीरेंद्र सिंह, रेंजर एमपी सिंह रेंजर, कुम्मेर सिंह सोलंकी युवा नेता एवं दिग्विजय पटेल निज सहायक के साथ-साथ स्थानीय ग्रामीणों की विशेष उपस्थिति रही।

इधर पूर्व मंत्री राम कृष्ण कुसमरिया ने तेंदुए को मारने की परमिशन मांगी है उनका कहना है कि उन्होंने पूर्व में कई डकैत मारे.. उपरोक्त दोनों नेताओं के उक्त बयान वाले वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद चर्चा का विषय बने हुए हैं।

दरअसल पांच दिन से देवरान क्षेत्र में तेंदुए को लेकर दहशत का माहौल बना हुआ है। बुधवार को तेंदुए ने 4 लोगों को घायल किया था जिम में विधायक रामबाई के रिश्तेदार भी शामिल थे। गुरुवार को पन्ना टाइगर रिजर्व की टीम तेंदुए को पकड़ने पहुंची थी लेकिन वह विधान सभा क्षेत्र बदलकर खमरिया पहुंच गया था।

शुक्रवार को वहां से गायब हो जाने के बाद जंगल में चले जाने की संभावना जताई गई थी। इधर शनिवार को ग्रामीणों द्वारा पुनः देवरान क्षेत्र में तेंदुए को देखा था जिसके बाद रविवार को सतना से वन विभाग की टीम तेंदुए को पकड़ने पहुंच गए थी। लेकिन ड्रोन कैमरे की मदद से तालाशे जाने के बाद भी तेंदुए की कोई लोकेशन नहीं मिल सकी।

जबकि ग्रामीणों के के बीच दहशत भरा माहौल बना हुआ जिसको लेकर चक्का जाम की चेतावनी दिए जाने पर विधायक राम भाई यहां पहुंची थी बाद में पूर्व मंत्री रामकृष्ण कुसमरिया भी यहां पर पहुंचे और उन्होंने वन विभाग के अधिकारियों से चर्चा की इसी दौरान उन्होंने उपरोक्त दो टूक शब्दों में चेतावनी दी उसके वीडियो सामने आने के बाद अब चर्चा के विषय बने हुए है..

Post a Comment

0 Comments