Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

तीन लाख की स्मेक के साथ कार सवार तस्करों पर पुलिस का शिकंजा.. इधर युवती की आंखों में मिर्ची मारकर सवा लाख रूपए की लूट..

 दमोह। नोहटा थाना पुलिस ने स्मैक तस्करी करने वाले गिरोह से जुड़े दो युवकों को कार सहित पकड़ने के बाद उनके कब्जे से तीन लाख रुपए कीमत की स्मैक बरामद करने के बाद विभिन्न धाराओं के तहत कार्यवाही की है वही उनके गिरोह के अन्य सदस्यों की पतासाजी का प्रयास किया जा रहा हैइधर पथरिया थाना अंतर्गत दिन दहाड़े लूट की सनसनीखेज वारदात सामने आई है। जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस जांच में जुटी हुई है वही बदमाशों की पतासाजी हेतु आसपास के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले जा रहे हैं। 

दिनदहाड़े युवती की आंखों में मिर्ची मारकर सवा लाख लुटे
दमोह। जिले के पथरिया थाना अंतर्गत दिन दहाड़े लूट की सनसनीखेज वारदात सामने आई है। जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस जांच में जुटी हुई है वही बदमाशों की पतासाजी हेतु आसपास के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले जा रहे हैं।  प्राप्त जानकारी के अनुसार एक फाइनेंस कंपनी में कार्यरत स्कूटी सवार युवती संगीता कुड़ेरिया 23 वर्ष बुधवार दोपहर समूह से क़िस्त के करीब सवा लाख रुपए बैग में लेकर स्कूटी से गढ़ाकोटा ऑफिस जा रही थी।
इसी दौरान पथरिया सरस्वती स्कूल के समीप हीरो हौंडा बाइक से आए तीन नकाबपोश बदमाशों ने आंखों में मिर्च पाउडर मारकर युवती से रुपए से भरा बैग छीना तथा फरार हो गए। बदमाश ठंड से बचाव हेतु मास्क मफलर से चेहरे को पूरी तरह से थके हुए थे अर्थात वह नकाबपोश जैसे बने हुए थे। फिलहाल पुलिस के सामने आरोपियों का पता लगाना चुनौती बना हुआ है वही वारदात की खबर से पथरिया क्षेत्र में सनसनी का माहौल व्याप्त है और लोग पुलिस व्यवस्था पर सवाल उठाते नजर आ रहे हैं।
तीन लाख की स्मेक के साथ कार सवार तस्करों को पकड़ा
दमोह। नोहटा थाना पुलिस ने स्मैक तस्करी करने वाले गिरोह से जुड़े दो युवकों को कार सहित पकड़ने के बाद उनके कब्जे से तीन लाख रुपए कीमत की स्मैक बरामद करने के बाद विभिन्न धाराओं के तहत कार्यवाही की है वही उनके गिरोह के अन्य सदस्यों की पतासाजी का प्रयास किया जा रहा है। बुधवार शाम पुलिस कंट्रोल रूम में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में एसपी डीआर तेनीबार ने नशे के कारोबार से जुड़े तथा पहली बार पकड़े गए स्मैक तस्करों को लेकर मीडिया के समक्ष खुलासा किया। इस दौरान एडिशनल एसपी शिव कुमार सिंह, एसडीओपी अशोक चौरसिया सहित पुलिस के अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

sp

दरअसल नोहटा थाना प्रभारी विकास चौहान व प्रभारी साइबर सेल को स्मैक का नशा करने वाले व्यक्यिों पर नजर रखने तथा इनके सम्पर्क सूत्रों की जानकारी एकत्रित करने तथा दमोह में स्मैक सप्लाई करने वालो पर कार्यवाही करने के निर्देश एसपी द्वारा दिए गए थे। जिसके बाद बीती रात विशेष सूचना पर चेकिंग व दबिश कार्रवाई करते हुए स्फिट कार क्रमांक एमपी 15 सीसी 5829 से अवैध मादक पदार्थ स्मैक 50.6 ग्राम के साथ दो आरोपियों को पकड़ने में नोहटा पुलिस टीम ने सफलता हासिल की। पकड़े गए आरोपी रानी उर्फ प्रवेशचंद पिता रमेश चंद मेहरा उम्र 28 साल नरसिंहपुर एवं प्रवीण पिता गौरीशंकर दुबे उम्र 28 साल निवासी देवरी जिला सागर के निवासी है। आरोपीगण शातिर बदमाश होने के साथ मादक पदार्थ को जिला राजगढ़ व राजस्थान से लाना बता रहे है। माल कहां से लाये है कब-कब लाते है कहां-कहां बड़ी मात्रा में सप्लाई किया है इस संबंध में विस्तृत पूछताछ हेतु पुलिस रिमांड लिया जाकर पूछताछ की जायेंगी। इनके खिलाफ थाना नोहटा पर अप क 39 / 22 धारा 8 / 21 का प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है। कार के अलावा 03 मोबाईल भी जब्त किये गए हैं।अवैध मादक पदार्थ की कीमत तीन लाख रुपए बताई गई है।

kaar

प्रकरण में पूछताछ पर प्राप्त जानकारी के अनुसार खिलचीपुर जिला राजगढ में स्मैक में मिलाने का पत्थर लाये है स्मैक व पत्थर को मिक्स करके पाउडर की मात्रा बढाई जाती है तथा छुप-छुप कर आवश्यकतानुसार दमोह व सागर में स्मैक गोपनीय तारीके से बेचता रहता है। आरोपीगण संबंधित व्यक्तियों को आवश्यकतानुसार एक ग्राम से लेकर 05-05 ग्राम तक बेचते है। एक ग्राम की कीमत करीब 5000 रूपये लेते है। इस स्मैक को कय करने वाले नोट या सिल्वर क्वाईल पर स्मैक का कुछ भाग आधा रखकर जलाते है और उसको सुघते हैं यह सारी कार्यवाही गोपनीय होती है। 

smaik

मामले में सराहनीय कार्य करने वाले अति पुलिस अधीक्षक शिवकुमार सिंह, एसडीओपी तेन्दूखेडा अशोक चौरसिया, सूबेदार त्रिलोक सिंह, थाना प्रभारी नोहटा विकास चौहान, सउनि रमाशंकर मिश्रा, सउनि लखन लाल कन्नौजिया, प्रधान आरक्षक राकेश अठ्या प्रधान,  सौरभ टंडन, आरक्षक अजीत दुबे, श्रीराम, संदीप राजपूत, रोहित राजपूत, रविकांत,  अनिकेत  की टीम की महत्वपूर्ण भूमिका रही। इस कार्यवाही से दमोह के कुछ नागरिक जो नशे के दल-दल की ओर जा रहे है, इनकी जानकारी पुलिस द्वारा एकत्रित कर ली है परन्तु वह पीड़ित है इसलिये उनका नाम सार्वजानिक नही किया है। इस कार्यवाही में निःसंदेह मादक पदार्थ नशा सेवन पर प्रभावी रोक होगी व नशे के कारोबार करने वालो के होसले पस्त होगें। इसलिये उक्त टीम को प्रशंसा व उचित इनाम से पुरूस्कृत किया जावेगा।

Post a Comment

0 Comments