Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

क्या देश प्रदेश में सबसे अधिक प्रतिनिधि नियुक्त करने का रिकार्ड हटा से भाजपा विधायक पीएल तंतुवाय के नाम दर्ज होगा..? कोरोना संक्रमण काल में विभिन्न विभागों से लेकर थाना, चौकी, छात्रावास में नियुक्त किए गए विधायक प्रतिनिधियो की संख्या 71 तक पहुची..

 भाजपा विधायक पीएल तंतुवाय ने बनाए 71 प्रतिनिधि


दमोह। जिले के हटा विधानसभा क्षेत्र से पहली बार बीजेपी की टिकट पर विधायक चुने गए पीएल तंतुबाय अक्सर किसी ना किसी वजह से चर्चाओं में बने रहते हैं। कोरोना संक्रमण काल में उनके द्वारा जारी की गई विधायक प्रतिनिधियों की जंबो सूची वायरल होने के बाद अब चर्चाओं में हैं। कल तक जो लोग विधायक निधि को लेकर चर्चा करते थे आज वह है विधायक प्रतिनिधियों की संख्या को लेकर सोशल मीडिया पर चटकारे लेकर चर्चा करते रहे। देखना होगा इन प्रतिनिधियों  की नियुक्ति के बाद पार्टी मजबूत होगी अथवा गुटबाजी को बढ़ावा मिलेगा


हटा विधायक पीएम तंतुबाय द्वारा अपने विधानसभा क्षेत्र के हटा जनपद तहसील नपा क्षेत्र के विभिन्न विभागों में बनाये गए 29 प्रतिनिधियों की एक सूची जारी की गई है। वही दूसरी सूची पटेरा, हिंडोरिया एवं कुम्हारी क्षेत्र के विभिन्न विभागों मैं बनाए गए 42 प्रतिनिधियों की है। जारी सूची में विभिन्न विभागों के अलावा पुलिस थाना पुलिस चौकी छात्रावास जेल विद्युत मंडल आदि में भी विधायक प्रतिनिधि बनाए गए हैं यहां तक की लंबे समय से बंद पड़े बिलाई पुलिस सहायता केंद्र के लिए भी प्रतिनिधि को नियुक्त किया गया है।


 जानकारों का कहना है कि मध्य प्रदेश ही नहीं पूरे भारत देश में शायद ही किसी विधायक ने अपने 71 सदस्य वाले जंबो प्रतिनिधि बनाए हो। वही इतनी लंबी विधायक प्रतिनिधियों की नियुक्त किए जाने की एक वजह दमोह विधानसभा उपचुनाव में बीजेपी की करारी हार के बाद पार्टी नेताओं को भविष्य के विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखकर जोड़े रखने की कवायद से जोड़कर भी देखा जा रहा है। उल्लेखनीय है कि क्षेत्रवासियों को अपने विधायक से जितनी आकांक्षाएं और अपेक्षाएं थी उन पर फिलहाल वह पूरी तरह से खरे उतरते नजर नहीं आ रहे हैं। जिस की एक वजह उनके निजी सचिव का कार्य ऐसे चर्चित व्यक्ति को सौंप दिया जाना भी कहा जा रहा है। जिनकी कार्यप्रणाली की वजह से पूर्व की विधायिका महोदय को अपने कार्यकाल में पार्टी कार्यकर्ताओं के असंतोष का सामना करना पड़ा था। और इसी तरह की स्थिति अब वर्तमान विधायक कार्यकाल के बढ़ने के साथ बनती नजर आने लगी है। 

ऐसे में देखना होगा 71 प्रतिनिधियों की नियुक्ति किए जाने के बाद इन पार्टी कार्यकर्ताओं को संबंधित विभागीय अधिकारी कर्मचारी उनको विधायक प्रतिनिधि के नाते कितनी तवज्जो देते हैं तथा यह लोग भी अपने विधायक प्रतिनिधि पद की गरिमा को कहां तक बरकरार रख पाते हैं। वही इस सूची के बाद यह कहा जा सकता है देश प्रदेश में सबसे अधिक प्रतिनिधि नियुक्तत करने करने का रिकॉर्ड श्री तंतुबाय के नाम दर्ज हो सकता है क्योंकि अभी तक किसी भी विधायक के इतने अधिक प्रतिनिधि बनाए जाने की सूची फिलहाल तो देखने को नहींं मिली है। 
 पिक्चर अभी बाकी है

Post a Comment

0 Comments