Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

कोरोना कर्फ्यू में 1 जून से छूट देने की तैयारियों के पूर्व पुलिस प्रशासनिक सख़्ती बड़ी.. फालतू घूमने वालो को भीषण धूप में खिलाई खुली जेल की हवा.. चोरी छिपे दुकानदारी करने वालो पर सख्त नजर के साथ कार्रवाई.. 31 मई तक गांव वाले भूल कर भी शहर में नही आए..

 चोरी छिपे दुकानदारी करने वालो पर जारी है सख्त नजर..


दमोह। मध्यप्रदेश में 1 जून से कोरोना कर्फ्यू में छूट दिए जाने के लिए सुझाव मांगे जाने के साथ तेजी से तैयारियां चल रही है वही करीब 40 दिन से लॉकडाउन में बेबस हो चुके लोग सड़कों पर आने आतुर बने हुए हैं। इधर 31 मई के पूर्व कोरोना संक्रमण दर न्यूनतम स्तर पर लाए जाने के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बाद एक बार फिर पुलिस प्रशासनिक अधिकारी कोरोना का कर्फ्यू का सख्ती से पालन कराने कड़ाके की धूप में सक्रिय हो गए हैं।


नौतपा के चौथे दिन 40 डिग्री टेंपरेचर से अधिक की गर्मी और तेज धूप में सड़क पर निकले पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों ने घंटाघर के पांचों तरफ़ स्थित बाजार क्षेत्र का पैदल घूम कर भ्रमण किया। इस दौरान कुछ लोग खरीदे गए सामान के साथ मिलने पर उनसे पूछताछ की गई और जिस दुकान से उन्होंने खरीदी की थी उसकी जानकारी लेकर अधिकारी उपरोक्त दुकानों तक भी पहुंचे।  लेकिन ऐसे अधिकांश दुकानदारों का रहवास भी वही होने तथा अंदर से दरवाजे शटर बन्द मिले। इसके बाद ऐसे दुकानदारों को चिन्हित करते हुए इनके खिलाफ कोरोना कर्फ्यू उल्लंघन की कार्रवाई करने तथा जुर्माना आदि करने नोटिस जारी करने के संबंधों को निर्देश दिए गए। 


वहीं दूसरी ओर ग्रामीण क्षेत्रों से शहर में आए अनेक लोग बिना कोई कारण के घंटाघर के आसपास बाजार क्षेत्र में घूमते मिले जिनको पुलिस वाहन मैं बैठा कर चिलचिलाती धूप में खुली जेल की हवा खिलाने के लिए रवाना किया गया। 
जारी कार्रवाई के संदर्भ में अपर कलेक्टर नाथूराम गोड ने बताया कि कोरोना  संक्रमण की दर को न्यूनतम किए जाने के लिए अति आवश्यक है कि लोग घरों में रहे और प्रशासनिक कार्यवाही से बचे अन्यथा पुलिस प्रशासन की शक्ति 31 मई तक लगातार जारी रहेगी।


आज की कार्यवाही के दौरान एडीएम एनआर गोंड, एसडीएम राकेश मरकाम एडिशनल एसपी शिव कुमार सिंह सीएसपी अभिषेक तिवारी तहसीलदार बबीता राठौर के अलावा अन्य पुलिस प्रशासनिक अधिकारी चकरी रहे सक्रिय रहे। वही जिला अस्पताल के पास अंबेडकर चौक सहित अन्य स्थानों पर भी पुलिस अमला लगातार सख्ती दिखाते हुए आने जाने वालों को रोकता टोकता सजगता से ड्यूटी करता नजर आया। 
दुकान खोलने पर 511 कारवाई, मास्क बसूली दस लाख के पार

कोरोना कर्फ्यू के दौरान मास्क नहीं लगाने वाले 9000 से अधिक लोगों के खिलाफ रोको टोको अभियान के तहत कार्रवाई की जा चुकी है तथा इनसे 10 लाख से अधिक की जुर्माना राशि वसूली जा चुकी है वही कोरोना  कर्फ्यू का उल्लंघन करके दुकान खोलने वाले 500 से अधिक लोगों के खिलाफ भी कार्यवाही की जा चुकी है। फालतू घूमने वाले ढाई सौ से अधिक लोगों को खुली जेल की हवा खिलाई जा चुकी है। इसके बावजूद लोग मानने को तैयार नहीं है जिस वजह से प्रशासन को अब सख्ती पर उतारू होना पड़ रहा है। अभिजीत जैन की रिपोर्ट

Post a Comment

1 Comments

  1. सिर्फ पैसा बसूला जा रहा पुलिस कार्य वाही में बे वजह ग्रामीणों से आने वालो को परेशान करती है पुलिस यदि आप देखेंगे तो लोकल के नागरिक अधिक घूमते है ,

    ReplyDelete