Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

आग से फसल नुकसान का मंजर देखने खेतों में पहुंची विधायक रामबाई ने पीड़ितों को सांत्वना दी.. इधर मुख्यमंत्री मैं ट्वीट करके किसानों को हर संभव मदद का भरोसा दिया.. सीएम के दमोह आगमन के दौरान अनेक जगह नही पहुच पाई थी फायर ब्रिगेड..

 फसल नुकसान का जायजा लेने खेतों में विधायक रामबाई 

दमोह। पिछले 1 सप्ताह में दमोह जिले में दर्जनों स्थानों पर खड़ी फसल में आग भड़कने से किसानों की लाखों की फसल का नुकसान हो चुका है वही नोहटा थाना क्षेत्र के एक किसान द्वारा कीटनाशक का सेवन करके खुदकुशी का घटनाक्रम भी सामने आ चुका है। पथरिया क्षेत्र के किसानों के आंसू पहुंचने के लिए विधायक रामबाई आज उन गांव में पहुंची जहां आग लगने से किसानों की फसल बरबाद हो चुकी थी।
दमोह जिले के जबेरा, हटा, पथरिया एवं दमोह विधान सभा क्षेत्र अंतर्गत दर्जन भर से अधिक स्थानों पर शॉर्ट सर्किट की वजह से खेतों में खड़ी फसल में आग लगने के हालातो ने संबंधित किसान परिवारों को झकझोर कर रख दिया है। चिलोद टपरिया में एक छोटे किसान की करीब दो एकड़ में लगी फसल शार्ट सर्किट से जल जाने के बाद उसने कीटनाशक पीकर जान दे दी है। जिसके बाद पथरिया विधायक रामबाई सिंह ने क्षेत्र के अग्नि प्रभावित गांव किन्द्राहो, झागरी, खिरिया आदि का आरआई, पटवारी, कोटवार के साथ पहुंचकर मुआयना कर मुआवजा दिलाने का किसानों को विश्वास दिलाया। 

उन्होंने कहा सभी किसानों के लिए सौ परसेंट मुआवजा दिलाया जाएगा। इस संबंध में उन्होंने मुख्यमंत्री, कृषि मंत्री और कलेक्टर को भी अवगत कराया साथ ही कहा कि अगर किसी किसान के पाइप या ट्रैक्टर के टायर डोरी या फिर और जो भी नुकसान हुआ है पूरा पूरा मुआवजा दिलाया जाएगा।
मुख्यमंत्री में ट्वीट करके किसानों को आश्वस्त किया..




मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ट्वीट करके मध्य प्रदेश सभी किसान भाइयों को आश्वस्त किया है कि उनको उनके नुकसान की भरपाई की जाएगी किसी को चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। जिसके जवाब में कुछ किसानों की रिट्वीट भी सामने आए हैं जिसमें उन्होंने प्रति एकड़ मुआवजा राशि दिए जाने का खुलासा करने का आग्रह किया

उल्लेखनीय है कि दमोह जिले के पथरिया के झागरी क्षेत्र में 30 मार्च के दिन कुछ किसानों के खेत में आग भड़की थी। उस दिन मुख्यमंत्री दमोह दौरे पर थे और गांव में फायर बिग्रेड भी इसी वजह से नहीं भेजी गई थी। क्योंकि मुख्यमंत्री के सुरक्षा इंतजामों में लगी हुई थी।
 जिसको लेकर पथरिया क्षेत्र से कांग्रेस के पूर्व प्रत्याशी गौरव पटेल द्वारा उसी समय मीडिया के जरिए ध्यान आकर्षित कराया गया था। लेकिन किसी ने कोई ध्यान नहीं दिया था और किसानों की फसल देखते ही देखते आग में जलकर पूरी तरह स्वाहा हो गई थी।

Post a comment

0 Comments