Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

अप्रैल के दसवें दिन 36 मरीजों की पाजेटिव रिपोर्ट.. कलेक्टर ने जिला अस्पताल में कोरोना मरीजों हेतु व्यवस्थाओं का जायजा लेकर.. जागरूकता रथ को झंडी दिखाकर रवाना किया.. रेमडिसिविर इंजेक्शन के लिए परेशान ना हो चिकित्सकों पर विश्वास रखें.. डॉ दिवाकर

 अप्रैल के दसवें दिन 36 मरीजों की पाजेटिव रिपोर्ट.. 

दमोह। अप्रैल के दसवें दिन 36 कोरोना मरीज सामने आये हैं, इनमें 16 फीमेल एवं 17 मेल मरीज हैं, इनमें सतुआ से 01, बंधा से 01, सिविल वार्ड से 01, मागंज वार्ड 03 दमेाह से 01, मागंज वार्ड 05 दमेाह से 01, बिलवारी मुहल्ला से 01, मागंज वार्ड 01 दमोह से 01, भूरी हिनौता से 01, मनका से 01, ब्लेक जबेरा से 01, नोहटा से 03, खिरिया से 01, एसपीएम नगर दमोह से 01, तीन गुल्ली दमोह से 01, हथनी से 01, जबलपुर नाका से 01, बनगांव से 01, लुर्हरा से 01, मुडारी से 01, बजरिया वार्ड 08 दमोह से 01, दमोह से 03, सुनवाहा से 01, फुटेरा वार्ड दमोह से 02, बनवार से 01, मुकेश कॉलोनी से 02, अमखेरा से 02, पटेरा से 01, करैयाराख दमोह से 01, टीचर कॉलोनी से 01  मरीज शामिल हैं। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉं संगीता त्रिवेदी ने जिले के निवासियों से आग्रह किया हैं कि अभी कोरोना गया नही हैं आने वाले 6 माह और परस्पर सामाजिक दूरी और हाथ धोते रहें।

कोरोना से बचाव हेतु जागरूकता रथ को किया रवाना..

दमोह। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा कोरोना की रोकथाम के लिए एहतियात बरतने कदम उठाये जा रहे है। इसी तारतम्य में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री तरुण राठी द्वारा कोरोना से बचाव हेतु एक जागरूकता रथ जिला चिकित्सालय से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। यह जागरूकता रथ जिला प्रशासन एवं नगर पालिका परिषद दमोह के संयुक्त अभियान के तहत चलाया जा रहा है, जिसके माध्यम से लोगों को कोरोना से बचाव के प्रति जागरूक किया जायेगा।

इस मौके पर कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री तरुण राठी ने बताया कि कोरोना का संक्रमण पूरे प्रदेश के साथ दमोह में भी बढ़ रहा है, इससे बचाव हेतु हमें स्वयं जागरूक होना पड़ेगा । इसी के तहत हमारे द्वारा यह जागरूकता रथ चलाया जा रहा है। कलेक्टर श्री राठी ने कहा कोरोना से लड़ने के लिए यह प्राथमिक और सबसे बड़ा हथियार है, वह यही तीन चीजें हैं, इसी की जागरूकता के लिए 2 दिन का विशेष अभियान भी चलाया गया है। साथ ही नुक्कड़ नाटक के माध्यम से और शहर में विभिन्न फ्लैक्स आदि के माध्यम से जनता से यही अपील की जा रही है कि वह कोरोना से लड़ने के लिए वह अपने व्यवहार में परिवर्तन लाएं। इस अवसर पर सीएमएचओ डॉक्टर संगीता त्रिवेदी, सिविल सर्जन डॉक्टर ममता तिमोरी, परियोजना अधिकारी शहरी विकास अभिकरण कपिल खरे, मुख्य नगरपालिका अधिकारी निशिकांत शुक्ला सहित अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहे।

जिला अस्पताल में कोरोना मरीजों हेतु व्यवस्थाओं का जायजा.. 

कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है, कोरोना से लड़ने के लिए हमें अपने व्यवहार में परिवर्तन करना होगा, इसकी आवश्यकता है। इस आशय के विचार कलेक्टर तरुण राठी ने आज जिला चिकित्सालय निरीक्षण के दौरान व्यक्त किये। उन्होंने कहा कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिये आज अभी जिला प्रशासन ने एक रथ रवाना किया है, जिसमें अधिकारियों की ड्यूटी भी लगाई गई है कि वे मास्क, सामाजिक दूरी और सैनिटाइजर प्रयोग के लिए सभी आमजन को अवगत कराएं। इस दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी अजय श्रीवास्तव, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ संगीता त्रिवेदी एवं सिविल सर्जन डॉ ममता तिमारी, डॉ दिवाकर पटैल सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद थे।

कलेक्टर श्री तरूण राठी ने आज जिला चिकित्सालय पहुंचकर कोविड-19 के बढ़ते मरीजों के दृष्टिगत व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने एनआरसी और अन्य कक्षों में की जा रही तैयारियों का जायजा लेकर इस संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिये। उन्होंने इस दौरान सिविल सर्जन कक्ष में बैठकर आक्सीजन की उपलब्धता और सतत् आपूर्ति के संबंध में रणनीति पर भी विचार कर जरूरी दिशा निर्देश दिये ।

रेमडिसिविर इंजेक्शन के लिए परेशान ना हो -डॉ दिवाकर

दमोह।  आरएमओ डॉ दिवाकर पटेल ने सभी से आग्रह करते हुए कहा कि कोरोना पॉजिटिव मरीज जिला चिकित्सालय या अन्य चिकित्सालय में भर्ती हो रहे हैं, शासन द्वारा जो दिशा निर्देश दिए गए हैं, कोविड पॉजिटिव मरीज को रेमडिसिविर इंजेक्शन लगाने के लिए उसी के आधार पर सभी चिकित्सकों द्वारा रेमडिसिविर इंजेक्शन लगाया जा रहा है। जिला चिकित्सालय में किसी प्रकार से शासन के द्वारा रेमडिसिविर इंजेक्शन की सुविधा अभी उपलब्ध नहीं कराई गई है, यदि उपलब्धता सुनिश्चित होने पर शासन के दिशा निर्देशानुसार जिन मरीजों को रेमडिसिविर इंजेक्शन दिया जाना है, उनको इंजेक्शन दिया जाएगा। 

उन्होंने कहा पिछले 1 वर्ष से वे कोविड मरीज का उपचार लगातार करते आ रहे है, रेमडिसिविर इंजेक्शन कोई जीवन रक्षक औषधि नहीं है, सरकार ने इसको इमरजेंसी ट्रायल के लिए मान्यता दी है, ना कि इसको सभी मरीजों को उपयोग करने की मान्यता दी है। बिना रेमडिसिविर इंजेक्शन के भी मरीज ठीक होते हैं, सरलता और सुगमता से सस्ती दरों पर आपको आसानी से इंजेक्शन उपलब्ध होते हैं, तो आप लगवाए, अन्यथा अति आवश्यक नहीं है, यदि इंजेक्शन नहीं भी मिलेगा तो भी हमारे पास उपलब्ध साधनों, ऑक्सीजन, अन्य दवाइयों पर मरीज ठीक होकर अपने परिजनों के पास जा रहे हैं, रेमडिसिविर इंजेक्शन के लिए परेशान ना हो चिकित्सकों पर विश्वास रखें।

आयुर्वेद चिकित्सालय में फीवर क्लीनिक का शुभारंभ

दमोह।   कलेक्टर तरुण राठी द्वारा दिये गए निर्देशों के तहत एवं जिला आयुष अधिकारी डॉक्टर आई के कुर्मी के मार्गदर्शन में शासकीय जिला आयुर्वेद चिकित्सालय दमोह में आज विश्व होम्योपैथिक दिवस को मनाया गया। आज चिकित्सालय में आने वाले मरीजों को होम्योपैथिक दवा आर्केनिकम एल्बम 30 को कोरोना वायरस से बचाव हेतु वितरित किया गया साथ ही डॉक्टर सैमुअल हैनीमैन की जयंती पर उनके चित्र पर फीवर क्लीनिक नोडल अधिकारी डॉ राजकुमार पटेल ने माल्यार्पण किया तथा डॉ अनंत राम पटेल ने उनके जीवन पर प्रकाश डाला। 

आरएमओ डॉ अनुराग कुमार ने बताया कि आज डॉक्टर हैनीमैन जयंती को मनाया गया तथा  फीवर क्लीनिक का शुभारंभ  किया गया, जिसमें 5 मरीजों को परीक्षण कर दवा वितरित की गई। साथ ही कोरोना वायरस से बचाव हेतु सुझाव दिए गए। कार्यक्रम में डॉ अनुपमा वर्मा, पुष्पेंद्र शर्मा, अरविंद असाटी, रम्मू  रैकवार, अंजनी राय, रामकली राय, सौरभ सिंह, दीनदयाल रजक की उपस्थिति रही।

नगरपालिका ने किया सेनिटाइज, प्रक्रिया आगे भी चलेगी

दमोह। जिला मजिस्ट्रेट श्री तरुण राठी के निर्देश एवं श्री निशिकांत शुक्ला मुख्य नगरपालिका अधिकारी के आदेशानुसार नगर में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को रोकने के लिये लगातार प्रयास किए जा रहे हैं, नगरपालिका के द्वारा नगरीय क्षेत्र में सेनिटाइजेंशन का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है। शासकीय ऑफिस, तहसील कार्यालय, एसडीएम ऑफिस, पॉलिटेक्निक कॉलेज, सर्किट हाउस एवं अन्य स्थानों पर सेनिटाइज किया जा रहा है।

 CMO निशिकांत शुक्ला द्वारा नगर में लोगों को कोरोना से बचाव के लिए  प्रचार-प्रसार मुनादी कराकर और आम नागरिकों से अपील की कि वह सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें 2 गज की दूरी का पालन करें, मास्क का प्रयोग करें बार-बार हाथ धोएं सैनिटाइजर का उपयोग करें भीड़ वाले क्षेत्रों में ना जाएं। नगरपालिका द्वारा सेनिटाइजेंशन का काम निरंतर किया जा रहा है जिससे लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाव हो सके। स्वास्थ्य अधिकारी श्री जावेद खान ने बताया आज नगरीय क्षेत्र में बाहर से आई बसों गाड़ियों को भी सेनीटाइज किया गया।

जन जागरूकता अभियान के तहत मास्क वितरित किये गये

दमोह। कलेक्टर तरूण राठी के निर्देश पर आज कोरोना के प्रति जन जागरूकता अभियान के तहत तेन्दूखेड़ा में भी निर्धारित 4 पाईट्स पर आमजनों को जागरूक किया गया और मास्क भी वितरित किये गये। एसडीएम तेन्दूखेड़ा ने बताया इस अभियान के तहत कल भी जागरूकता कार्यक्रम चलाया जायेगा। उन्होंने बताया आज लोगों को कोरोना से बचाव हेतु मास्क पहननें, दो गज दूरी का पालन तथा बार-बार हाथ धोने की अपील और समझाईश दी गई। शाम को मास्क न पहने 8 लोगो के चालान भी कांटे गये। 

पथरिया में भी चलाया गया अभियान-आज पथरिया में भी जन जागरूकता अभियान चलाया गया। तहसीलदार आलोक जैन ने बताया लोगो को न केवल मास्क वितरित किये गये बल्कि उन्हें सतत् मास्क पहनने, दो गज दूरी का पालन करने की समझाईश दी गई।पटेरा में भी चलाया गया जागरूकता अभियान- आज पटेरा में भी कोरोना के प्रति जागृति के उद्देश्य से बस स्टेण्ड पर कार्यक्रम किया गया। तहसीलदार श्री अग्रवाल ने बताया कि यहां पर केवल मास्क वितरित किये गये बल्कि कोरोना के विरूद्ध लड़ाई में आमजन की भागीदारी और कैसे बचे पर जानकारी दी गई। उन्होंने बताया कल भी अभियान के तहत कार्रवाई की जायेगी।

Post a Comment

0 Comments