Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

रेल संघर्ष समिति ने यात्री ट्रेनों को नियमित चलाने.. स्टेशन मास्टर को रेल मंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा.. कोटा जबलपुर एक्सप्रेस को नागपुर तक बढ़ाने.. राज्यरानी व भोपाल बिलासपुर एक्सप्रेस जल्द शुरू कराने.. क्षिप्रा एक्सेप्रस को प्रतिदिन चलाने की मांग..

  स्टेशन मास्टर को रेल मंत्री के नाम ज्ञापन सौपा गया

दमोह। कोरोना काल में बंद की गई अधिकांश रेल गाड़ियों को अभी तक शुरू नहीं किया गया है वहीं स्पेशल ट्रेनों के नाम पर यात्रियों से मनमाना किराया बसूला जा रहा है। ऐसे में सभी यात्री गाड़ियों को नियमित किए जाने, बंद पैसेंजर गाड़ियों को जल्द चालू करने तथा कोटा जबलपुर एक्सप्रेस को नागपुर तक बढ़ाए जाने की मांग को लेकर रेल मंत्री के नाम का ज्ञापन रेल संघर्ष समिति द्वारा स्टेशन मास्टर को सौंपा गया।

 दमोह रेल संघर्ष समिति से प्रांजल चैहान, सुरेन्द्र छोटू दवे, अतुल जैन, सुभाष जाधवानी, राजेन्द्र रज्जन पटेल, सन्तोष रैकवार, पप्पू चैवे सहित अन्य सदस्यों ने शुक्रवार को रेलवे स्टेशन पहुचकर स्टेशन मास्टर जेएस मीणा को रेल मंत्री पीयुष गोयल के नाम संबोधित एक ज्ञापन सौपा। जिसमें पश्चिम मध्य रेलवे द्वारा बुंदेलखंड की जनता खासकर दमोह सागर क्षेत्र के लोगों तथा बीना कटनी रेलखंड के साथ सौतेला व्यवहार करने तथा आदिवासी गोंडवाना क्षेत्र से रेल संपर्क के मामले में लगातार उपेक्षा किए जाने के ओराप लगाए है।

 कोरोना काल में बंद की गई भोपाल बिलासपुर ट्रेन जो कि देश की आजादी के पहले से चलती रही है को अभी तक शुरू नहीं किया गया है। इसी तरह मप्र की राजधानी से सीध संपर्क वाली दमोह भोपाल राजरानी एक्सप्रेस को चलाने भी ध्यान नहीं दिया जा रही है। जबकि आम रेल यात्रियों के लिए इन गाड़ियों के बंद रहने से सबसे अधिक परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इसी तरह कोटा से जबलपुर के बीच चलने वाली एक्सप्रेस को गोंदिया के रास्ते नागपुर तक बढ़ाकर चलाने तथा रेल मंत्री द्वारा पूर्व में घोषणानुसार इंदौर हावड़ा क्षिप्रा एक्सेप्रस को प्रतिदिन चलाने की मांग की गई है। 

Post a comment

0 Comments