Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

सीएम के दमोह आगमन के पूर्व भाजपा पदाधिकारी को किसने जलाया.. ? बजरिया वार्ड 5 के अध्यक्ष आटो चालक राजू अहिरवार का अधजला शव.. दिग्सर गांव के पास मिलने से सनसनी.. परिजनों के साथ भाजपा कार्यकर्ताओं मे आक्रोश..

 भाजपा के वार्ड अध्यक्ष का अधजला शव मिलने से सनसनी

दमोह। देहात थाना अंतर्गत दिग्सर गांव के समीप सड़क किनारे एक ऑटो रिक्शा के खड़े होने तथा समीप ही एक युवक का अधजला हुआ शव पड़े होने की खबर सोशल मीडिया पर वायरल होने से सनसनी पूर्ण माहौल बना हुआ था। वही बाद में मृतक की पहचान भाजपा के वरिष्ठ कार्यकर्ता और वार्ड अध्यक्ष के तौर पर होते ही बड़ी संख्या में भाजपा नेता और कार्यकर्ता भी मौके पर पहुंच गए हैं। देहात थाना पुलिस ने भी मौके पर पहुंच कर जांच शुरू कर दी है।

 प्राप्त जानकारी के अनुसार देहात थाना अंतर्गत दिग्सर ग्राम के समीप अधजले हालत में पड़े शव की शिनाख्त दमोह शहर के बजरिया वार्ड पांच निवासी राजू अहिरवार के तौर पर हुई है। राजू राज नाम का यह युवक बीजेपी का सक्रिय कार्यकर्ताओं ने के साथ बजरिया वार्ड 5 का वार्ड अध्यक्ष भी बताया जा रहा है। आटो चलाकर अपना व परिवार का जीवन यापन करने राजू राज के साथ किसने वारदात को अंजाम दिया इसका पता तो जांच के बाद ही चलेगा।

                                    

                                   

लेकिन जली हालत में उसका शव मिलने और समीप ही उसका आटो रिक्सा खड़े होने से जलाकर हत्या की आशंका जताई जा रही है। जानकारी लगते ही भाजपा दमयंती मंडल के अध्यक्ष मनीष तिवारी व संतुलाल रोहित भी अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंच गए हैं थे वही देहात थाना टीआई दीपक खत्री भी मौके पर पहुंचकर जांच पंचनामा कार्रवाई शुरू कर दी हैं। मुख्यमंत्री के दमोह नगर आगमन के एक दिन पहले घटित इस वारदात को लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं में आक्रोश देखने को मिल रहा है। 

                                 

वही अपने साथी ऑटो चालक की जली हुई लाश मिलने खबर से अन्य ऑटो चालकों में आंखों में माहौल बना हुआ है तथा उनके द्वारा पुलिस कार्यवाही कर जल्द हत्यारों को गिरफ्तार किए जाने के बाद की मांग की जा रही है। ऑटो चालकों ने युवा नेता सिद्धार्थ मलैया के समक्ष अपनी बात रखते हुए घटना की निष्पक्ष जांच और न्याय की गुहार लगाई है। 

                                    

इधर घटना की जानकारी लगने पर सीएससी अभिषेक तिवारी और एफएसएल टीम प्रभारी किरण सिंह के साथ जांच दल मौके पर पहुंच डॉग स्क्वायड की मदद से पतासाजी की कोशिशें कर चुके है। वहीं CSP व देहात थाना पुलिस इस घटनाक्रम को पारिवारिक विवाद के चलते  आत्महत्या का मामला बताया है। 

Post a comment

0 Comments