Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

छतरपुर जिले के पटवारी नवलकिशोर त्रिपाठी की मौत के लिए अधिकारियों की अत्याधिक मानसिक प्रताडना को जिम्मेदार ठहराया.. मप्र पटवारी संघ ने मुख्यमंत्री, प्रमुख सचिव राजस्व के नाम ज्ञापन सौंपा.. इधर दलपतपुरा दमोह के पटवारी सस्पेंड..

 . मप्र पटवारी संघ ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा.

दमोह। छतरपुर जिले के पटवारी नवलकिशोर त्रिपाठी की अधिकारियों द्वारा अत्याधिक मानसिक प्रताडना से हृदयघात से मृत्यु को लेकर मुख्यमंत्री, प्रमुख सचिव राजस्व को कलेक्टर महोदय के माध्यम से सौंपा ज्ञापन। जिसमें मप्र पटवारी संघ जिला दमोह कार्यवाहक जिलाध्यक्ष कुंज बिहारी दुबे ने बताया कि जिला छतरपुर के पटवारी नवलकिशोर त्रिपाठी अधिकारियों की अत्याधिक मानसिक प्रताडना के कारण हृदयघात से असमय मौत के शिकार हो गये है।

                                       

 उनके पुत्र अभिषेक त्रिपाठी द्वारा बताया गया कि उनके 59 वर्षीय वृद्ध पिता का स्वास्थ्य ठीक नही होने के बावजूद उनका स्थानांतरण अन्यत्र दूरस्थ एवं दुर्गम स्थल कर दिया गया था। जिसके संबंध में उनके पिता द्वारा माननीय उच्च न्यायालय में अपील करने पर उच्च न्यायालय द्वारा स्थगन आदेश जारी किया गया था, इसके बाबजूद जिला कलेक्टर द्वारा माननीय उच्च न्यायालय के आदेश की अवमानना करते हुए, न्यायालय के आदेशों को नही माना, बीमारी से ग्रसित हॉस्पिटल में भर्ती श्री त्रिपाठी पटवारी के खिलाफ बहां के नायब तहसीलदार दुर्गेश तिवारी एवं एस.डी.एम. राहुल सिलाडिया द्वारा मातगुवां थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई गई। पीडित पटवारी को हॉस्पिटल में फोन पर धमकाया और इतनी अत्यधिक मानसिक प्रताडना दी गई कि वो काल के गाल में असमय ही समाहित हो गये।  

उक्त अमानवीय एवं मानसिक यंत्रणाओं के कारण वर्तमान परिस्थितियों में हमारे कई पटवारी साथी काल ग्रसित हो चुके है, यह भी प्रायः देखा गया है, कि वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा पटवारियों के प्रति बेहद ही असंवेदनशील व्यवहार तथा मानसिक प्रताडना दी जा रही है। अतः म०प्र० पटवारी संघ भोपाल यह मांग करता है कि इस घटना की न्यायिक जॉच कर दोषी अधिकारियों का स्थानांतरण अन्यत्र जिलों में किया जाकर उनके विरूद्ध एफआईआर दर्ज की जावे, तथा दोषियों के खिलाफ निष्पक्ष एवं सख्त कानूनी कार्यवाही की जावे। ताकि भविष्य में ऐसी घटना की पुनरावृति ना हो। घटना के संबंध में आगामी तीन दिवस में कोई उचित कार्यवाही होने की स्थिति मे प्रदेश का समस्त पटवारी दिनांक 9 फरवरी 2021 से प्रदेशव्यापी आंदोलन हेतु वाध्य होगा। जिसकी सम्पूर्ण जबाबदेही शासन की होगी।


ज्ञापन देने वालों में मप्र पटवारी संघ जिला दमोह कार्यवाहक जिलाध्यक्ष कुंज बिहारी दुबे, नीरज चौरसिया, आशीष साहू, बृजेन्द्र तिवारी, अभिषेक जैन, पंकज विश्वकर्मा, मुन्ना सींग गौड़, उमाकांत अग्रवाल, हरिओम सोनी, मनोज पटैरिया, देवेन्द्र जाट्व, पुरूषोत्तम विश्वकर्मा और बड़ी संख्या में पटवारी संघ के लोगों की उपस्थिति रही। 

ग्राम दलपतपुरा के पटवारी नीरज चौरसिया निलंबित..

दमोह। अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पथरिया अदिति यादव ने तहसीलदार बटियागढ़ के प्रतिवेदन आधार पर पटवारी हल्का नंबर 04 ग्राम दलपतपुरा के पटवारी नीरज चौरसिया द्वारा पदीय दायित्वों के निर्वहन में गंभीर लापरवाही, असंवेदनशीलता होने के साथ तहसीलदार बटियागढ़ से की गई अनुशासनहीनता के आरोप में मध्यप्रदेश सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के नियम तीन एवं तीन-क का घोर उल्लंघन मानते हुये  तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। निलंबन की अवधि में श्री चैरसिया का मुख्यालय तहसील पथरिया नियत किया गया है तथा निलंबन के दौरान मूलभूत नियम 53 के अंतर्गत नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता की पात्रता रहेगी। 

Post a Comment

0 Comments