Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

केन्द्रीय मंत्री प्रहलाद पटैल ने सिंग्रामपुर में महामहिम राष्ट्रपति के कार्यक्रम तैयारियों का जायजा लिया.. बांदकपुर में जागेश्वनाथ के दर्शन किए.. पथरिया में कृषक प्रशिक्षण शिविर में शामिल हुए.. वर्चुअल इंडिया टूरिज्म मार्च 2021 का ऑनलाईन शुभारंभ किया..

सिंग्रामपुर में महामहिम के कार्यक्रम की तैयारियां..

दमोह। महामहिम राष्ट्रपति जी सिंगौरगढ़ पधार रहे हैं, सिंगौरगढ़ किला और उसके आसपास जितने भी रमणीय स्थान हैं सौंदर्यीकरण का काम एएसआई और बाकी संस्था मिलकर कर रहे हैं, महामहिम के आगमन पर हम सब उस तैयारियों में जुटे हुए हैं, जिससे महामहिम के सम्मान में कोई कमी ना रहे, उनकी मूल इच्छा जनजातीय बंधुओं से मिलने की है, रानी दुर्गावती परिवार के वंशज व उनसे जुड़े हुए लोग हमारी कोशिश होगी उनको महामहिम से अवश्य भेंट करवाएं, राष्ट्रपति जी की मूल इच्छा थी की किसी जनजाति के कार्यक्रम में जाए सिंगौरगढ़ से बेहतर जगह और कोई नहीं हो सकती है। 

इस आशय के उद्गार  केन्द्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्यमंत्री श्री प्रहलाद पटैल ने आज दोपहर सिंग्रामपुर में महामहिम राष्ट्रपति जी के कार्यक्रम के मद्देनजर की जा रही व्यवस्थाओं एवं तैयारियों का जायजा लेते हुये व्यक्त किये। इस मौके पर कलेक्टर श्री तरूण राठी, पुलिस अधीक्षक श्री हेमंत चैहान और सीईओ जिला पंचायत श्री अजय श्रीवास्तव सहित एएसआई और पुलिस और प्रशासन के अधिकारी मौजूद रहे। उन्होंने वीरांगना रानी दुर्गावती प्रतिमा स्थल-पार्क का निरीक्षण के दौरान चल रहे कार्यो के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिये। श्री पटैल यहां से हैलीपेड और मुख्य कार्यक्रम स्थल पहुंचकर प्रत्येक बिन्दुओं पर विस्तार से चर्चा की। इस दौरान यहां एएसआई द्वारा लगाई जाने वाली प्रदर्शनी, सांस्कृति कार्यक्रम और अन्य बिन्दुओं पर चर्चा की गई। उन्होंने कार्यक्रम में पुरातत्व संबंधी लघु फिल्म प्रदर्शन के संबंध में भी चर्चा की।

आदिवासियों एवं जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक

केंद्रीय राज्य मंत्री श्री प्रहलाद पटेल ने कहा इस आमंत्रण को विधिवत रखा जाए, जिन लोगों को राष्ट्रपति जी के निकट जाने का मौका मिलेगा उन लोगों को 24 घंटे पहले अपना कोरोना का टेस्ट अवश्य करवाना है, यह राष्ट्रपति जी का प्रोटोकॉल है, सुरक्षा की दृष्टि से हम सबको प्रोटोकॉल को फॉलो करना है। उन्होंने कहा सारी व्यवस्थाएं जिला प्रशासन देख रहा है, मूर्ति के स्थान पर भी कुछ बदलाव किए जाएंगे, मूर्ति की गरिमा को बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा, माला मानगढ़ में हथियार बनाने की फैक्ट्री कभी थी, वहां पर अधिकारी जाएंगे, कुछ नया मिल जाए, कहीं किसी भी गांव में खुदाई में उनकी कुछ चीजें मिली हो, यादगार चीज हो, उसको भी जिला प्रशासन को देना चाहिए, जिससे उसको ठीक ढंग से डिस्प्ले किया जा किया जा सकेगा। 

उन्होंने कहा नरसिंहपुर एवं छिंदवाड़ा जिला से आदिवासी भाई आयेंगें, उनको भी स्थान मिलेगा, सभी को मान सम्मान के साथ बैठया जायेगा, समाज के प्रमुख या उनके वंशजों को निमंत्रण दिया जाएगा, इसमें पार्टी बंदी नहीं करना जो भी आए वह किसी भी पार्टी का हो हम उन्हीं लोगों की सूची बनाएं। केंद्रीय मंत्री ने कहा राष्ट्रपति जी के कार्यक्रम में दल गत कोई काम नहीं किया जाएगा यह कार्यक्रम पूर्णतया गैर राजनीतिक होगा। केंद्रीय राज्यमंत्री श्री प्रहलाद पटेल ने कहा विगत वर्षों से हम वीरांगना रानी दुर्गावती जी का जन्म दिवस मनाते आ रहे हैं, इतिहास में सब चीज साफ लिखी गई है, कलचुरी काल से लेकर गोंडवाना काल के बीच में सिंगौरगढ़ बहुत बड़ा महत्वपूर्ण स्थान रहा है, उनके अवशेष भी उतने ही महत्वपूर्ण है, लेकिन शायद वह स्थान प्राप्त नहीं हुआ।

बांदकपुर पहुंचकर जागेश्वनाथ के दर्शन किए..


दमोह। केंद्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्यमंत्री श्री प्रहलाद सिंह पटेल ने प्रातः बांदकपुर पहुंचकर भोलेनाथ की आराधना कर आशीर्वाद लिया। इस अवसर पर उन्होंने क्षेत्रवासियों के लिए मंगलकामना की। इस दौरान विधायक जबेरा धर्मेंद्र सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण पटेल, सासंद प्रतिनिधि डॉ आलोक गोस्वामी सहित अन्य पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद रहे।

 शिविर में दी उद्यानिकी संबंधी अहम जानकारियां

दमोह। केन्द्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्यमंत्री श्री प्रहलाद पटैल ने पथरिया विकास खंड को उद्यानिकी क्षेत्र में आदर्श विकासखंड बनाये जाने के लिए मध्यप्रदेश सरकार के प्रति आभार जाताया। श्री पटेल ने कहा मॉडल ब्लाक के रूप में चयन हुआ है, अब किसान मन और सोच बदलें। उन्होंने कहा देश में मध्यप्रदेश ने खेती के क्षेत्र में बेहतर काम किया है। यहां पर सिंचाई का रकबा भी बढ़ा है और फसलों के उत्पादन में भी वृद्धि हुई है। यह सब प्रदेश सरकार की नीतियों का परिणाम है। उन्होंने क्षेत्र के किसानों से आव्हान किया कि पथरिया को उद्यानिकी के क्षेत्र में मॉडल ब्लाक का दर्जा मिला है। 

आप सभी इस तरह से काम करें कि आपके उद्यानिकी कार्यो को देखने के लिए बाहर से लोग आये और आपसे कुछ बेहतर सीखें। केश क्रॉप लगाये, आय को दो गुना करने के लिए यह आवश्यक भी है। उन्होंने कहा उद्यानिकी फसलों में जोखिम रहता है अतरू बीमा जरूर करायें। प्रीमियम जमा करें, इसमें राज्य और केन्द्र सरकार भी मदद कर रही है। श्री पटैल ने कहा 728000 हेक्टेयर कुल रकबा जमीन हमारे जिले में है, जिसमें पथरिया ब्लाक में 82999 जमीन है, इसमें कृषि योग्य भूमि 319000 हैक्टर संपूर्ण जिले में है, पथरिया ब्लाक में 67000 हैक्टर कृषि योग्य भूमि है। यह आपके लिए सकारात्मक संदेश है। श्री पटैल ने कहा अभी ओलावृष्टि हुई है जिला प्रशासन से कहा है सर्वे कराया जायें, सरकार मदद करेगी।

इसके पूर्व प्रदेश के उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण (स्वतंत्र प्रभार) एवं नर्मदा घाटी विकास विभाग राज्यमंत्री श्री भारत सिंह कुशवाह ने कहा किसानों को योजना का शत-प्रतिशत लाभ मिले और नये नवाचार का विकास खंडों में क्रियान्वयन हो इसके लिए मध्यप्रदेश सरकार की तरफ से 10 संभागों में 20 विकास खंड चयन करने के लिए एक रोडमैप तैयार किया गया है, उस रोड मैप के तहत केंद्रीय मंत्री को मैंने आग्रह किया उद्यानिकी के क्षेत्र में कुछ विकास खंडों को मॉडल विकासखंड बनाना चाहते हैं, आपका सुझाव विकास खंड जहां किसानों को सीधे उद्यानिकी की गतिविधियों से किसानों को जोड़ने का काम कर सकें, जहां कुछ अलग हटके विभाग की तरफ से क्षेत्र के किसानों के लिए कर सकें, इस पर केंद्रीय मंत्री श्री पटैल द्वारा विकास खंड पथरिया मॉडल विकासखंड के रूप में चयन किया गया है। 

उद्यानकी विकास खंड के क्षेत्र में उद्यानिकी विभाग के लिए यहां जब उद्यानिकी की गतिविधियां प्रारंभ की जाएंगी तो आपको एक अलग ही अनुभूति होगी। श्री कुशवाहा ने मॉडल विकाखंडो के उद्देश्यों पर विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होंने कहा किसान और विभाग का समन्वय आवश्यक है। इसी उद्देश्य से यहां संगोष्ठी रखी गई है। श्री कुशवाहा ने कहा किसान उत्पादन तक सीमित न रहे वह बाजार का लिंक भी पकड़े। उन्होंने कहा किसानों की आय दुगनी करने और समृद्धि के लिए किसान उत्पादन की प्रोसेसिंग का कार्य स्वयं करें। यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने और मुख्यमंत्री जी ने सुनिश्चित किया है कि आगे चलकर कच्चे उतपादों की प्रोसेसिंग प्रदेश में ही हो ताकि समुचित लाभ मिलें। राज्यमंत्री ने उद्यानिकी उत्पाद रकबा बढ़ाने का आव्हान किया। साथ ही इस दौरान कोल्ड स्टोरेज बनाये जाने सरकार द्वारा दी जा रही सहायता की विस्तार से जानकारी दी। 

कार्यक्रम के प्रारंभ मे क्षेत्रीय विधायक रामबाई गोविंद सिंह परिहार ने कहा यहां पर तीन मंत्री मौजूद हैं, निश्चित ही इस क्षेत्र के किसानों का हित होगा। उन्होने कहा जब से प्रदेश में भाजपा सरकार बनी हैं, किसानों को आंच नहीं आई है। किसानों के लिए उद्यानिकी विभाग बहुत कुछ कर सकता है। साथ ही कहा हम किसानों के लिए कुछ ऐसा करें कि वे खुशहाल हो जायें। श्रीमती रामबाई ने कहा क्षेत्र के एक गांव में ओला गिरा है उसका निरीक्षण कराया जाये और किसानों को राहत दिलाई जायें।  इस अवसर पर उत्कृष्ट उत्पादन करने वाले किसानों को सम्मानित किया गया, इसमें बलराम पटैल, पंकज नायक, कोमल पटेल, हरि सिंह सहित अन्य किसान भाई शामिल रहे। कार्यक्रम के प्रारंभ में सहायक संचालक उद्यान यश कुमार सिंह ने प्रतिवेदन प्रस्तुत किया।

                                     

इस अवसर पर दो मिनिट का मौन रखकर सीधी बस दुर्घटना मृतकों को श्रद्धांजलि दी गई। इस अवसर पर भाजपा जिला अध्यक्ष प्रीतम सिंह लोधी, मप्र वेयरहाउसिंग एवं लॉजिस्टिक्स कॉरपोरेशन अध्यक्ष (कैबिनेट मंत्री दर्जा) राहुल सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण पटैल, विधायक पीएल तंतुवाय, विधायक धमेन्द्र सिंह लोधी, पूर्व विघायक लखन पटैल, पूर्व विधायक सोना बाई, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के पूर्व अध्यक्ष राजेन्द्र गुरू, जिला सदस्य चन्द्रवती अठ्या, बृज पटैल, शिवशंकर, जनपद अध्यक्ष रंजीता गौरव पटैल, मंडल अध्यक्ष ललित पटैल, जमुना जैन, गोपाल पटैल, कपिल शुक्ला सहित अन्य जनप्रतिनिधि गणमान्य नागरिक और किसान भाईयों के अलावा सम्मानीय मीडियाजन मौजूद रहा।

वर्चुअल इंडिया टूरिज्म का किया ऑनलाईन शुभारंभ..

दमोह। सभी स्टेट होल्डर ने जो संयम रखा, देश के प्रधानमंत्री मोदी जी पर भरोसा जताते हुए इतने बड़े नुकसान के बावजूद भी आप पूरी ईमानदारी के साथ देश की इस परिस्थिति में अपना रचनात्मक सहयोग भी देते रहे, कोरोना के बीच में सभी स्टेट होल्डर ने लोगों की मदद की। इसके साथ ही दूसरी बड़ी सफलता होटल इंडस्ट्री का अथिति भाव जिसको लेकर विदेशी पर्यटकों ने यह फैसला किया कि वह अपने देश में जाने से ज्यादा भारत देश पर भरोसा करते है, इस बात के लिए सभी को हृदय से बधाई दी। इस आशय के उद्गार केंद्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्य मंत्री श्री प्रहलाद पटेल ने अपने निवास से वर्चुअल इंडिया टूरिज्म मार्च 2021 का ऑनलाईन शुभारंभ करते हुये व्यक्त किये।

उन्होंने कहा कोरोना के बीच में कुछ अमूल-चूल परिवर्तन आए हुए हैं, 2014 से 2019 के बीच भारत की छलांग 65 वें स्थान से 34 वें स्थान पर आ गई है, अब हम 34 से 1 की तरफ आगे बढ़ेंगे, पर्यटन को खोलना शुरू किया गया है। देश के प्रधानमंत्री मोदी जी का आभार व्यक्त करता हूं कि उन्होंने वैक्सीन में भी जल्दबाजी नहीं दिखाई जो बाकी उन्नत देशों ने दिखाई है, जिसके कारण दुनिया में हमारी जो साख बनी है वह आसमान छू रही है। कोरोना काल सभी स्टेकहोल्डर के लिए आर्थिक रूप से नुकसानदेह रहा है, उसके शिकार हम भी हुए हैं, देश को भी हम यूनिवर्सल तरीके से पर्यटन क्षेत्र को ध्यान में रखते हुए नहीं देख पाएंगे, क्योंकि आज भी महानगर और इन महानगरों में बड़े होटल्स उनके सामने अभी भी चुनौती जस के तस है, समस्या गंभीर है।उन्होंने कहा महाराष्ट्र और केरल दो राज्य ऐसे हैं जहां पर परिस्थितियां हमारे अनुकूल अभी भी नहीं है, इसी के साथ दूसरे जगहों के आंकड़े उत्साहवर्धक है, चाहे वह गोवा हो हिमाचल विशेष कर जम्मू कश्मीर। उन्होंने कहा मैं कारगिल के साहसिक पर्यटन कार्यक्रम में गया था जब लौटा श्रीनगर एयरपोर्ट पर एयरपोर्ट अथॉरिटी ने कहा हमने अपने जीवन में ऐसा ट्रैफिक नहीं देखा।

श्रीनगर में जनवरी 2020 में 3750 पर्यटक गए थे, जनवरी 2001 में 19042 रही, श्रीनगर में उस समय अमरनाथ यात्रा थी, तब जनवरी 2020 में 927000 पर्यटक गए थे, इस बार अमरनाथ यात्रा नहीं हुई, लेकिन 700000 पर्यटक जम्मू की धरती पर गए हैं। उन्होंने कहा पर्यटन मंत्रालय में निधि पोर्टल में 1400 संख्या थी लेकिन जैसे ही पर्यटन पोर्टल चालू हुआ तो वह 27000 को पार कर गई, जैसे ही संख्या 16000 के पार की गई थी, पर्यटन मंत्रालय के अधिकारियों ने एक साथी पोर्टल बनाया जो ेवच को एडाप्ट करते हैं, वह इसमें पंजीयन कराएं, वह संख्या भी 9000 के आसपास पास है। उन्होंने कहा सभी राज्यों के पर्यटन मंत्री से चर्चा होने के बाद मैंने कहा साथी और निधि पोर्टल के बीच में गैप ठीक नही है अगर हमने भर लिया तो दुनिया में हमारी साख और भी ऊपर जाएगी, उस समय गोवा के पर्यटन मंत्री ने कहा था कि सरकारी तौर पर जो हम आंकड़े इकट्ठा करते हैं सोर्स पर भी चर्चा होनी चाहिए।

 मंत्री ने कहा कहीं भी अफसरशाही नहीं है, इंडिया टूरिज्म के अफसर है या अन्य कोई ऑर्गेनाइजेशन उन सबको कहीं ना कहीं हमें एक बैक बना कर देना चाहिए अगर आप होटल के मालिकों को 3 स्टार 5 स्टार का परमिशन लेना चाहते हैं तो अधिकारी को नहीं जाना चाहिए, वह होटल मालिक आवेदन ऑनलाइन ही कर सकें, सरकार को रिपोर्ट मिलती है तो उसका क्लासिफिकेशन हो जाना चाहिए, होटल के कैटलाइजेशन के लिए होटल के मालिक से अच्छा कोई विकल्प नहीं है। उन्होंने कहा हमें कुछ नए प्रयोगों की तरह आगे बढ़ना चाहिए निधि या साथी पोर्टल पर होटल के मालिकों ने अपना पंजीयन कराया है, एक बार टूर एंड ट्रेवल्स का भी इनरोलमेंट होना चाहिए, क्योंकि इस बीच में हम किसी की मदद नहीं कर पाए तो इस बैंक का ना होना ही एक बड़ी चुनौती है। 

अभी गाइड्स के एग्जाम हो जाएंगे तो हमें अच्छे गाइड मिल जाएंगे, यदि कोई गाईड बनना चाहते हैं तो उन्हें यूएन की 1 भाषा की जानकारी अवश्य होना चाहिए। एस आई के मोनूमेन्ट है, उसको टूरिस्ट फैसिलिटी कोर्स कराया जाएगा, जिससे उसके कैपेबिलिटी पर प्रश्न चिन्ह ना हो, किसी को गाइड बनना है, तो वह एक लेवल ऊपर जाकर गाइड बन सकता है जिससे पर्यटकों को आसानी से गाइड्स मिल जाएंगे। हमारी गाइडलाइंस बहुत साफ है एक लाख से ज्यादा फुटफाल विदेशी पर्यटकों का मोनूमेन्ट में होगा यदि वह हिंदी और अंग्रेजी में कंफर्टेबल नहीं है तब उनकी भाषा में सायनिस लगाया जाएगा, जिसका उद्घाटन सांची से शैली भाषा में किया गया था बाकी चाइनीस भाषा में किया गया है, इन बिंदुओं पर आप की चर्चा होगी सभी के सुझाव स्वीकार किए जाएंगे जो भी निर्णय निकलेगा उसका उद्घोष बनाया जाएगा।

Post a comment

0 Comments