Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

महिला बैंक कर्मी तथा ग्रामीण युवक के शव अपने अपने घर मे फांसी के फंदे पर झूलते मिले.. महिला ने सुसाइड नोट छोड़ा, युवक के परिजनों ने मारपीट प्रताड़ना बजह बताई.. पुलिस ने पोस्टमार्टम कराकर जांच शुरू की..

 महिला बैंक कर्मी तथा ग्रामीण युवक के शव फांसी के फंदे पर झूलते मिले.

दमोह। शुक्रवार को जिले के दो अलग-अलग थाना क्षेत्रों में एक महिला तथा एक युवक का शव अपने अपने घर में फांसी के फंदे पर झूलते हुए मिलने की दुखद घटनाए सामने आई है। महिला ने फांसी लगाने के पहले जहां सुसाइड नोट लिख कर छोड़ा है वहीं युवक की खुदकुशी की वजह सार्वजनिक स्थल पर मारपीट बेज्जती बताई जा रही है। पुलिस ने दोनों मामलों में मर्ग कायम करते हुए जांच शुरू कर दी है।
सागर नाका पुलिस चौकी से चंद कदम की दूरी पर स्थित प्रेम नगर कॉलोनी मैं गुरप्रीत कौर छाबड़ा के मकान में इलाहाबाद बैंक दमोह में कार्यरत लिपिक पूजा पांडे किराये से रहती थी। मूल रूप से भोपाल की निवासी  पूजा पांडे के प्रेम नगर स्थित निवास का दरवाजा अंदर से बंद रहने तथा कल से महिला के घर से बाहर नही निकलने पर किसी अनहोनी की आशंका में पड़ोसियों द्वारा कॉलोनी संचालक और सागर नाका पुलिस को सूचना दी गई थी। जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस की मौजूदगी में जब फ्लैट का दरवाजा खोलकर अंदर प्रवेश किया गया तो अंदर पूजा का शव फांसी के फंदे पर झूलता मिला। 
पुलिस ने शव के पास से एक सुसाइड नोट भी बरामद किया है जिसमें जिंदगी से ऊब जाने जैसी बात भी लिखी होने अर्थात जिंदगी से थक जाने का जिक्र किया गया है। पुलिस ने मृतिका के भोपाल मैं निवासरत परिजनों को सूचना देकर उनके दमोह आने के बाद शव को पोस्टमार्टम हेतु भेज कर जांच कार्रवाई शुरू कर दी है बताया जा रहा है कि 4 वर्ष पूर्व महिला का अपने पति से तलाक हो गया था जिसके बाद से वह अकेले ही नौकरी करते हुए रह रही थी।
हटा में मारपीट के बाद युवक ने घर में फांसी लगाई..

हटा में सार्वजनिक रूप से प्रताड़ना मारपीट अपमान से परेशान होकर एक ग्रामीण युवक द्वारा अपने गांव पहुच कर फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर लेने का दुखद घटनाक्रम भी सामने आया है। मगरोन थाने की फतेहपुर चौकी अंतर्गत खमरिया गांव निवासी शिवेंद्र सिंह ठाकुर का शव अपने घर में फांसी के फंदे पर झूलता मिला। इसके बाद पुलिस को सूचना दिए जाने पर पुलिस ने पंचनामा कार्रवाई करते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए बटियागढ़ भेजा।

 जहां मृतक के भाई एवं परिजनों ने हटा निवासी दो युवकों पर शिवेंद्र के साथ मारपीट बेज्जती करने के आरोप लगाते हुए बताया कि हटा में गाड़ी के विवाद पर से गणेश तथा चिंटू साहू ने उसके साथ मारपीट की थी। जिसके चलते फांसी लगाकर उसने खुदकुशी कर ली। माता के परिजनों ने मारपीट करने वालों को ही शिवेंद्र की मौत का जिम्मेदार ठहराते हुए पुलिस से कार्रवाई की मांग की है वही पुलिस पूरे मामले की जांच के बाद कार्रवाई की बात कर रही है।

Post a comment

0 Comments