Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

जिसे लोग बार वाला समझ कर मादक अदाओं पर फिदा हो रहे थे.. वह यूपी की गोल्डी किन्नर निकली.. फतेहपुर में राम लीला मंचन की आड़ में फूहड़ नृत्य की वीडियों वायरल.. पुलिस ने डांस बंद कराया लेकिन परमीशन की जांच नहीं की..

रामलीला मंचन की आड़ में फूहड़ नृत्य की वीडियों वायरल 

दमोह। जिसे लोग बार वाला समझ कर उसके डांस और कामुक अदाओं पर फिदा हो रहे थे वह यूपी की गोल्डी किन्नर निकली। नवरात्र पर्व के दौरान सांस्कृतिक आयोजनों की आड़ में फूहड़ अश्लील डांस की यह वीडियो जिले के मगरोन थाना अंतर्गत फतेहपुर ग्राम की है। जहां दुर्गोत्सव समिति के द्वारा रामलीला कार्यक्रम का आयोजन किया गया था और उसके बदले में यह मादकता परोसी जा रही थी। जिसे देखने वालों में छोटे छोटे बच्चों से लेकर किशोर भी शामिल थे। जहां यह आयोजन हो रहा था वहा हाल ही में एक बैंक मैनेजर की रिपोर्ट भी कोरोेना पाजेटिव आई थी। सिंगम एक्शन वाले थाना प्रभारी के क्षेत्र में इस तरह के आयोजन को लेकर जानकार तरह तरह की चर्चाए करते हुए भी नजर आ रहे है।

कोरोना संक्रमण काल के चलते नवरात्र पर्व के दौरान देवी प्रतिमा स्थापना और कार्यक्रम आयोजन के लिए शासन प्रशासन द्वारा तय की गई गाइड लाइन का कुछ स्थानों पर किस तरह से मजाक उड़ाया जा रहा है उसका अंदाजा इस आयोजन को देखकर लगाया जा सकता है। फतेहपुर बाजार क्षेत्र में दुर्गोत्सव समिति द्वारा देवी पंडाल के समीप जहां यह आयोजन चल रहा है वही मध्यांचल ग्रामीण बैंक है और वहां के मैनेजर हाल ही में कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। कहा जा सकता है प्रशासन के रिकॉर्ड में यह एरिया कंटेनमेंट जोन होगा। लेकिन यहां पर जिस तरह से फूहड़ मनोरंजन के नाम पर भीड़ एकत्रित की गई उसकी चिंता किसी ने नहीं की। मादक अश्लील डांस को देख रहे बच्चों के कोमल मन पर क्या प्रभाव पड़ रहा होगा शायद इस बात की फिक्र न आयोजकों ने की और ना ही स्थानीय पुलिस प्रशासन ने। तभी तो धड़ल्ले से अश्लील फूहड़ डांस का आयोजन घंटो चलता रहा। 

बाद में जब एक स्थानीय मीडियाकर्मी ने वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दी तो आयोजक उसे धमकाने चमकाने से भी नहीं चूके। बाद में मामला बिगड़ता देख कर थाना प्रभारी ने मौके पर पहुंचकर डांस तो बंद करा दिया लेकिन तब भी सवाल यही उठता है कि नवरात्र पर्व के दौरान रामलीला आयोजन की आड़ में इस डांसर को बुलाकर उसका डांस मंच से कराने की परमीशन किसके द्वारा दी गई थी ?  इस कार्यक्रम के जरिए आयोजक क्या साबित करना चाहते थे ? हालांकि जब इस डांसर के बारे में पड़ताल की गई तो पता लगा यह कोई बार वाला नहीं बल्कि यूपी के जालौन की गोल्डी किन्नर है।

Post a comment

1 Comments