Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

भोपाल में इण्डेन गैस सिलेंडर गोदाम में फर्जीवाड़े का पर्दाफाश.. सिलेण्डर से अवैध रुप से LPG गैस निकालकर.. कम वजन का सिलेंडर बेचने का गोरख धंधा था संचालित.. गोदाम मालिक व मैनेजर के खिलाफ खाद्य, नापतौल विभाग की वैधानिक कार्रवाई..

भोपाल की रातीबड़ क्षेत्र पुलिस का बड़ा खुलासा.. 
भोपाल। थाना रातीबड पुलिस द्वारा इण्डेन गैस सिलेंडर गोदाम में लंबे समय से जारी फर्जीवाड़े का पर्दाफाश करते हुए गैस सिलेण्डर से अवैध रुप से गैस निकालकर.. कम वजन का सिलेंडर बेचने के गोरख धंधे को उजागर करने में सफलता हासिल की है। मामले में गैस गोदाम के मालिक व मैनेजर के खिलाफ खाद्य एवं नापतौल विभाग द्वारा पूछताछ कर वैधानिक कार्रवाई की है।
 प्राप्त जानकारी के अनुसार 3 सितंबर गुरूवार को थाना रातीबड पुलिस द्वारा मुखबिर की सूचना इंडेन आटो हाउस ग्राम सरवर स्थित गैस गोदाम में पहुंचकर पड़ताल की गई। इस दौरान वहां ं वाहनों में गोदाम में 950 करीब इंडेन कंपनी के गैस सिलेण्डर आटो हाउस में रखे थे। जिनमे गैस रिफलिंग का कार्य किया जा रहा था, जिसमें कुछ सिलेण्डर में एक से तीन किलोग्राम गैस कम थी, उक्त संबंध में सूचना नापतौल एवं खाद्य विभाग को दी गई। ,जिसके उपरांत नापतौल व खाद्य विभाग के अधिकारियों कर्मचारियों द्वारा आकर सिलेण्डरों को चेक करने पर उक्त गैस गोदाम में दो वाहन खडे पाए गए। जिसमें इंडेन कंपनी के सिलेण्डर भरे जा रहे थे।सिलेण्डर में एक से तीन किलो ग्राम कम वजन का लोड किया जा रहा था
 उक्त संबंध मे गोदाम के ’मालिक अनिल खट्टर निवासी-श्यामला हिल्स भोपाल व मैनेजर विक्रम सिंह गौर पिता महेन्द्र सिंह गोर उम्र 40 साल पता-धीरेन्द्र खण्डेलवाल का मकान, पूजा कालोनी नीलबड’ से पूछताछ में बताया कि उक्त कार्य लॉकडाउन से ही कई दिनों से चल रहा था ,और उक्त गैस सिलेण्डर कम भरकर गांव के भोले भाले ,गरीब व अशिक्षित लोगों को ही ये सिलेण्डर देते थे, जिससे किसी को कोई शक ना हो। इस प्रकार गैस सिलेण्डरों में कम भरकर उसका आर्थिक लाभ अर्जित किया गया। उक्त गैस गोदाम अनिल खट्टर निवासी-श्यामला हिल्स भोपाल का होना ज्ञात हुआ है। उक्त संबंध में मैनेजर व मालिक से नापतौल व खाद्य विभाग द्वारा पूछताछ की जाकर जानकारी एकत्र की गई एवं वेधानिक कार्यवाही की गई। उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी, निरीक्षक सुधेश तिवारी, सउनि कोमल राय, प्रआर लीलाधर , आरक्षक आलोक तिवारी, सोनू सिंह, रामस्वरुप ,रमेश वर्मा, दिलीप नागर, मंजीत, रविपाल की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।

Post a comment

1 Comments

  1. हर जिले में यही हाल है दमोह में भी कोई किसी से कम नहीं खुलेआम घरेलू गैस होटलों में उपयोग करते देखी गयी

    ReplyDelete